• Thu. May 30th, 2024

Udaipur News

Udaipur News Today | Udaipur News Live | उदयपुर न्यूज़ | उदयपुर समाचार

उदयपुर की ताजा खबर Udaipur Latest News 12 January 2023 उदयपुर की ताजा खबर Udaipur Latest News 12 January 2023 उदयपुर की ताजा खबर Udaipur Latest News 12 January 2023

Byadmin

Jan 12, 2023
  • हेलो फ्रेंड्स हम हाजिर हैं आज की अपडेट्स लेकर….

ष्ट्र आज स्वामी विवेकानंद की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित कर रहा है। इस दिन को राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में भी मनाया जाता है।हर वर्ष 12 जनवरी को करोड़ों युवाओं के प्रेरणास्त्रोत स्वामी विवेकानंद की जयंती मनाई जाती है। इस दिन को भारत में राष्ट्रीय युवा दिवस ( National Youth Day ) के तौर पर भी मनाया जाता है। स्वामी विवेकानंद के ओजपूर्ण विचार हमेशा से युवाओं को प्रेरित करते रहे हैं इसलिए साल 1985 में भारत सरकार ने स्वामी जी के जन्मदिन को राष्ट्रीय युवा दिवस के तौर पर मनाने का फैसला लिया। स्वामी विवेकानंद का जन्म 12 जनवरी, 1863 को कोलकता में पिता विश्वनाथ दत्त और माता भुवनेश्वरी देवी के घर हुआ था। वह बेहद कम उम्र में विश्व विख्यात प्रभावशाली आध्यात्मिक गुरु बन गए थे। 1893 में अमेरिका के शिकागो में हुए विश्‍व धार्मिक सम्‍मेलन में उन्‍होंने जब भारत और हिंदुत्‍व का प्रतिनिधित्‍व किया तो उनके विचारों से पूरी दुनिया उनकी ओर आकर्षित हुई। स्वामी विवेकानंद आध्यात्म और देशभक्ति से परिपूर्ण विलक्षण व्यक्तित्व के धनी थे। स्वामी जी का जीवन और उनकी शिक्षाएं युवाओं को अपने सपनों और लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए प्रेरित करती है।स्वामी जी का जीवन विश्वभर के लोगों को भौतिक सुखों से हटकर मानवता की सेवा के लिए प्रेरित करता है। स्वामी जी का जीवन राष्ट्रभक्ति और  कर्मठता के लिए सदैव प्रेरित करता रहेगा। उनके महान विचार और आदर्श देशवासियों का मार्गदर्शन करते रहेंगे।

 

 

 

पाली जिले के निम्बली रोहट में जंबूरी स्थल पर शांति एवं अहिंसा विभाग के तत्वावधान में  चल रहे युवा सम्मेलन 2023 (गांधी की ओर युवा) के दूसरे दिन गुरुवार को प्रथम सत्र में स्वामी विवेकानंद की जयंती मनाई गई। इसके पश्चात विभिन्न सत्रों में वक्ताओं ने युवाओं का मार्गदर्शन किया। निबंध, भाषण एवं पोस्टर प्रतियोगिताएं भी हुई जिसमें युवाओं ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। समापन समारोह में सभी विजेताओं तथा आयोजन में सहयोग करने वाले अधिकारियों-कर्मचारियों को सम्मानित किया गया।वक्ताओं ने कहा कि युवा को कई तरह से परिभाषित किया गया है। विभिन्न मानकों में युवा के लिए आयु के मापदंड भी तय कर रखे हैं, लेकिन सही मायनों में युवा वही है जिसके पास नई सोच और नया नजरिया है, जो समाज में व्याप्त बुराइयों से लड़ने और उन्हें बदलने का जज्बा रखता हो। वक्ताओं ने कार्यक्रम में शामिल स्काउट गाइड, एनएसएस स्वयंसेवक, नेहरू युवा केंद्र आदि से जुड़े युवाओं से संवाद कर उनकी शंकाओं का समाधान भी किया।

 

केंद्र सरकार ने एक बार फिर फेक न्यूज फैलाने और भ्रामक जानकारी देने वाले यूट्यूब चैनलों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की है। सरकार ने इस मामले में गुरुवार को छह यूट्यूब चैनलों को बैन कर दिया। इन चैनलों पर फर्जी खबर चलाई जा रही थी और लोगों को गुमराह किया जा रहा था। ब्लॉक किए गए सभी चैनलों ने चुनावों, भारत के सर्वोच्च न्यायालय और भारत की संसद में कार्यवाही और भारत सरकार के कामकाज के बारे में गलत खबर और भ्रामक जानकारी फैला रहे थे।

ये चैनल लोगों को भरोसा दिलाने के लिए कई प्रमुख टीवी चैनलों के एंकरों की तस्वीर, क्लिकबेट और सनसनीखेज थंबनेल का प्रयोग करते थे। चैनलों ने इसका प्रयोग उनके द्वारा डाले गए वीडियो को मोनेटाइज करने और ट्रैफिक लाने के लिए कर रहे थे। केंद्र ने इस तरह की यह दूसरी कार्रवाई की है। इससे पहले सरकार ने 20 दिसंबर को बड़ी कार्रवाई की थी, जिसमें फर्जी खबर फैलाने वालों तीन चैनलों के खिलाफ कार्रवाई हुई थी।

 

 

 

 

 

भारतीय खाद्य संरक्षा और मानक प्राधिकरण-एफ एस एस ए आई ने पहली बार बासमती चावल के लिए व्‍यापक नियामक मानक अधिसूचित किये हैं। ये मानक इस साल पहली अगस्त से लागू हो जाएंगे। इसका उद्देश्य बासमती चावल के व्यापार में उचित व्यवहार और घरेलू और वैश्विक-स्तर पर उपभोक्ता हितों की रक्षा करना है।इन मानकों के अनुसार बासमती चावल में प्राकृतिक सुगंध होनी चाहिए और यह कृत्रिम रंगों, पॉलिशिंग एजेंटों और कृत्रिम सुगंधों से मुक्त होना चाहिए।मानकों के तहत बासमती चावल की गुणवत्ता भी तय की गई है जिसके तहत उसका औसत आकार, नमी और यूरिक एसिड की अधिकतम सीमा तथा खराब होने की स्थिति शामिल है।बासमती चावल भारतीय उप-महाद्वीप के हिमालयी क्षेत्र की तलहटी में उगाए जाने वाले चावल की एक उन्‍नत किस्म है जिसकी घरेलू और विश्‍व-स्‍तर पर व्‍यापक खपत होती है। बासमती चावल वैश्विक आपूर्ति में भारत का दो तिहाई हिस्सा है।

 

 

 

इस समय पूरे देश की निगाहें उत्तराखंड के ज़मींदोज़ होते जोशीमठ पर है, लेकिन इससे महज़ 82 किलोमीटर दूर कर्णप्रयाग में भी स्थिति इतनी ही भयावह नज़र आ रही है.

कर्णप्रयाग के क़रीब दो दर्जन घरों की दीवारों में दिख रही दरारें गहरी हो गई हैंपर पहली बार दशक भर पहले ऐसे मामले सामने आए थे.समय के साथ-साथ अब ये दरारें इतनी गहरी हो गई हैं कि कई घर रहने लायक नहीं बचे हैं. इस वजह से मकान मालिकों और किरायेदारों को घर छोड़कर जाना पड़ रहा है. जिनके पास रहने का का कोई दूसरा विकल्प नहीं है वो अपने खर्चे पर पार्षद के बनाए बसेरों में रहने को मजबूर हैं.अभी तक जोशीमठ में केवल दो होटलों को गिराने के आदेश दिए गए हैं. फ़िलहाल कोई और घर नहीं ढहाया जाएगा. दरारों वाले घरों का सर्वेक्षण किया जा रहा है और लोगों को सुरक्षित ठिकानों तक पहुंचाया जा रहा है.

 प्रभावित लोगों को  मार्केट रेट के हिसाब से ही सरकार मुआवज़ा देगी. ये मार्केट रेट लाभार्थियों से मिले सुझावों के आधार पर तय होगा.

चमोली ज़िला प्रशासन की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार, अभी तक जोशीमठ के 723 घरों में दरारें आई हैं, जिनमें से 86 को डेंजर ज़ोन (ख़तरा संभावित) क़रार दिया गया है. इसके अलावा 145 परिवारों के 499 लोगों को अस्थायी आश्रय स्थलों तक पहुंचाया गया है.

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने वर्ष 2023 की मुख्य परीक्षाओं का टाइम टेबल जारी कर दिया है। गुरुवार काे जारी इस टाइम टेबल के मुताबिक सीनियर सेकेंडरी की परीक्षाएं 9 मार्च से शुरू हाेंगी। यह परीक्षा 12 अप्रैल तक चलेगी। जबकि सैकंडरी, प्रवेशिका और समकक्ष परीक्षाएं 16 मार्च से शुरू होकर 11 अप्रैल काे खत्म हाेंगी। यह सभी परीक्षाएं सुबह 8:30 से 11:45 के सेशन में हाेंगी।

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की सचिव मेघना चौधरी ने बताया कि सेकेंडरी परीक्षा के पहले दिन यानी गुरुवार 16 मार्च को अंग्रेजी अनिवार्य विषय की परीक्षा होगी। मंगलवार 21 मार्च काे हिंदी, शनिवार 25 मार्च को सामाजिक विज्ञान, बुधवार 29 मार्च को विज्ञान, सोमवार 3 अप्रैल काे गणित, शनिवार 8 अप्रैल काे तृतीय भाषा- संस्कृत, उर्दू, गुजराती, सिंधी, पंजाबी, संस्कृत (प्रथम प्रश्न पत्र)-प्रवेशिका परीक्षा और मंगलवार 11 अप्रैल काे व्यावसायिक विषयों और संस्कृत (द्वितीय प्रश्न पत्र) की परीक्षा होगी।

सीनियर सैकंडरी परीक्षा के पहले दिन गुरुवार 9 मार्च को मनोविज्ञान विषय की परीक्षा होगी। शुक्रवार 10 मार्च को लोक प्रशासन, शनिवार 11 मार्च काे पर्यावरण विज्ञान, सोमवार 13 मार्च को शारीरिक शिक्षा विषय की परीक्षा होगी। मंगलवार 14 मार्च को संगीत विषयों की परीक्षा होगी।

राजस्थान लोक सेवा आयोग द्वारा केमिस्ट (आयुर्वेद एवं भारतीय चिकित्सा विभाग) संवीक्षा परीक्षा-2021 के पदों हेतु साक्षात्कार का आयोजन 19 जनवरी 2023 को किया जाएगा।

 साक्षात्कार पत्रों को आयोग की वेबसाइट पर यथा समय अपलोड कर दिया जाएगा। अभ्यर्थियों को साक्षात्कार के समय अपने समस्त मूल प्रमाण पत्र मय फोटो प्रति साथ लाने होंगे। इनके अभाव में साक्षात्कार से वंचित कर दिया जाएगा। साक्षात्कार में सम्मिलित होने वाले सभी अभ्यर्थियों को राज्य एवं केंद्र सरकार द्वारा जारी कोरोना गाइडलाइन की पूर्णतः पालना करनी होगी।

लेकसिटी में बॉलीवुड सेलिब्रिटी  में अभिनेत्री जैकलीन फर्नांडीज़ उदयपुर आई। उदयपुर में जैकलीन फर्नांडीज़ शहर की एक होटल में फोटो शूट के लिए आई हुई है।

राज्य सरकार के निर्देशानुसार चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा जिलेवासियों को कोरोना से बचाव की दृष्टि से जिले के समस्त स्वास्थ्य केन्द्रों पर कोरोना की वैक्सीन उपलब्ध कराई गई है और प्रतिदिन सत्र आयोजित करते हुए प्रयास किया जा रहा है कि एक भी वायल एक्सपायर न हो और अधिक से अधिक लाभार्थी वैक्सीनेटेड हो सकें। कोविड वैक्सीनेशन मे विगत 3 माह से काफी गिरावट आयी है। जिले के प्रत्येक संस्थान पर प्रतिदिन कोविड वैक्सीन के सत्र आयोजित किये जाते है और सभी को सेकंड डोज और प्रिकोशन डोज की ड्यू लिस्ट देकर निर्देशित किया जाता है कि सभी कोविड वैक्सीन के ड्यू लाभार्थी से सम्पर्क करे और एक भी लाभार्थी आने पर वायल खोलकर उसे वैक्सीनेटेड करे। उन्होंने बताया कि जिले में विभिन्न स्वास्थ्य केन्द्रों पर 12000 कोवैक्सीन उपलब्ध है जिसकी एक्सपायरी 31 जनवरी 2023 है और प्रतिदिन सत्र आयोजित किये जा रहे है। चिकित्साधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वायल मे बची शेष कोविड वैक्सीन की डोज को अगले 4 घंटे तक उपयोग में लेवें क्योकि कोविड वैक्सीन खोलने के बाद अगले 4 घंटे बाद एक्सपायर हो जाती है।

जिले में मकर सक्रांति पर्व पर पतंगबाजी हेतु धातु मिश्रित मांझे के प्रयोग से दोपहिया वाहन चालकों तथा पक्षियों को होने वाले जान-माल के नुकसान को रोकने तथा विद्युत संचालन को बाधारहित बनाने की दृष्टि से जिला कलक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट  ने धातु निर्मित मांझे कर थोक एवं खुदरा बिक्री तथा उपयोग को जिले की सीमाओं में प्रतिबंधित करने के लिए धारा 144 के प्रावधानों को लागू किया है। कलक्टर ने यह आदेश 31 जनवरी तक प्रभावी रहने की जानकारी देते हुए स्पष्ट किया है कि इस निषेधाज्ञा की अवहेलना या उल्लंघन किए जाने पर भारतीय दंड संहिता की धारा 188 के तहत दंडित किया जाएगा।

दुनियाभर में इतिहास रचने वाली फिल्म ‘टाइटैनिक’ (Titanic) एक बार फिर बड़े पर्दे पर लौटने को तैयार है। 25 साल पहले रिलीज हुई इस मूवी ने कमाई के सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए थे।  जेम्स कैमरून की ये फिल्म एक बार फिर थिएटर में रिलीज होने वाली है। दरअसल, ‘टाइटैनिक’ दोबारा रिलीज करने को लेकर एक ट्वीट सामने आया है। इसमें बताया गया है कि ‘टाइटैनिक’ बिग स्क्रीन पर 4K 3D में एक बार फिर आ रही है। ये फिल्म इसी साल 10 फरवरी, 2023 को सिनेमाघरों में रिलीज होगी।

  • भारत और श्रीलंका के बीच दूसरा एकदिवसीय अंतर्राष्‍ट्रीय क्रिकेट मैच कोलकाता में खेला जा रहा है। कोलकाता के ईडन गार्डन में आज श्रीलंका ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। पहले मैच में श्रीलंका को 67 रन से हराकर भारतीय टीम तीन मैचों की श्रृंखला में एक-शून्य से आगे है।ओडिशा के राउरकेला और भुवनेश्वर में 13 से 29 जनवरी तक 15वें पुरुष हॉकी विश्व कप का आयोजन होने जा रहा है.11 जनवरी को विश्व कप का उद्घाटन समारोह आयोजित किया गया. स्टील सिटी के नाम से मशहूर राउरकेला में आदिवासी क्रांतिकारी बिरसा मुंडा के नाम पर स्टेडियम का खासतौर से निर्माण किया गया हैबिरसा मुंडा अंतरराष्ट्रीय हॉकी स्टेडियम भारत का सबसे बड़ा हॉकी स्टेडियम है. इसके निर्माण के लिए सरकार ने 120 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया था.बिरसा मुंडा स्टेडियम में करीब 20 हज़ार से ज़्यादा दर्शकों के बैठने की क्षमता है.15वें हॉकी विश्व कप का उद्घाटन समारोह कटक शहर के बाराबती स्टेडियम में हुआ.

    भुवनेश्वर देश का इकलौता शहर है जो कि विश्व कप का दूसरी बार आयोजन कर रहा है. यहां 2018 के विश्व कप का भी आयोजन हुआ था.

    भारत इससे पहले मुंबई, नई दिल्ली और भुवनेश्वर में विश्व कप का आयोजन कर चुका है.

    भारत ने आख़िरी बार 1975 में अजितपाल सिंह के नेतृत्व में स्वर्ण पदक जीता था. इसके बाद से भारतीय टीम कभी भी पोडियम पर नहीं चढ़ सकी है. इस बार भारत को 47 सालों से चला आ रहा पदक का सूखा ख़त्म होने का पूरा भरोसा है.भारत के सभी ग्रुप मैच राउरकेला में खेले जाने हैं. भारत 13 जनवरी को स्पेन के साथ खेलकर अपने अभियान की शुरुआत करेगा. इसके बाद उसे 15 जनवरी को इंग्लैंड से और 19 जनवरी को वेल्स से खेलना है.टूर्नामेंट में भाग लेने वाली टीमों को चार-चार के चार ग्रुपों में बांटा गया है. भारत को स्पेन, वेल्स और इंग्लैंड के साथ ग्रुप डी में रखा गया है.ग्रुप ए में ऑस्ट्रेलिया, अर्जेंटीना, फ्रांस और दक्षिण अफ्रीका को रखा गया है. ग्रुप बी में पिछली चैंपियन बेल्जियम, जर्मनी, दक्षिण कोरिया और जापान को, ग्रुप सी में नीदरलैंड, न्यूजीलैंड, मलेशिया और चिली को रखा गया है

  • सेंसेक्स
    बीएसई सूचकांक आज147 अंकों की गिरावट के साथ 59 हजार 958  पर बंद हुआ।
    निफ्टी 37 अंकों की गिरावट के साथ 17 हजार 858  पर बंद हुआ।
  • सर्राफा
    उदयपुर में दोनों कीमती धातुओं के भाव इस प्रकार रहे
    सोना 22 कैरेट 1 ग्राम₹5254
    सोना 24 कैरेट 1 ग्राम ₹5517
    चांदी 1 किलो बार का भाव रहा ₹74000
  • मौसमउत्तर भारत में आगामी दो से तीन दिनों में फिर से शीतलहर चलने की संभावना है, जबकि उत्तर पश्चिम भारत में पश्चिमी विक्षोभ के कारण तापमान में इजाफा होने से फिलहाल ठंड कम हुई है.  2 दिन बाद पूरे उत्तर भारत में तापमान में फिर से कमी आएगी. पंजाब, हरियाणा, पश्चिमि राजस्थान में सबसे ज्यादा तापमान में कमी होगी. धीरे-धीरे पूर्वी राज्यों में तापमान में कमी आएगी. शीतलहर दोबारा से आने की संभावना है.’, ’15 जनवरी से शीतलहर की स्थिति बन सकती है. आने वाले 2-4 दिन हवाएं तेज होने के कारण कोहरे की स्थिति ज्यादा खराब नहीं होगी. 15-16 जनवरी के आसपास घने कोहरे की भी आशंका है.’  देश के विभिन्न हिस्सों में अलग-अलग शीत लहर की स्थिति बन सकती है.

    आईएमडी की ओर से जारी एक बुलेटिन के अनुसार, दिल्ली और उसके पड़ोसी राज्यों में कुछ इलाकों में 15 जनवरी से एक बार फिर शीतलहर चलने की संभावना है. मौजूदा पश्चिमी विक्षोभ के कारण तेज हवाएं चलने से पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कोहरे से लोगों को राहत मिलेगी, लेकिन पूर्वी उत्तर प्रदेश और बिहार में घने से बहुत घने कोहरे की परत छाई रहेगी.

    राजस्थान में गुरुवार सुबह से कहीं घना कहीं हल्का कोहरा छाया हुआ है। इससे पहले बुधवार देर रात सीजन की पहली मावठ जोधपुर में हुई। वहीं, दो दिन से प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में छाए बादल के कारण दिन का तापमान पांच-सात डिग्री बढ़ गया है। पूर्वी राजस्थान के जिलों में इसका असर अधिक दिखाई दिया है।

    मौसम केन्द्र जयपुर के मुताबिक 14 जनवरी से सर्दी का पैटर्न फिर बदलेगा और तेज सर्दी का दौर शुरू होगा। केंद्र के अनुसार 15-16 जनवरी से राजस्थान में बफीर्ली हवा चलने लगेगी और तापमान 4-5 डिग्री सेल्सियस तक नीचे गिर सकता है।

    बुधवार रात 12 बजे के बाद जोधपुर शहर में अचानक सीजन की पहली मावठ हुई। करीब 40 मिनट तक चली मावठ में कभी तेज तो कभी रुक रुक कर बूंदाबांदी होती रही। सबसे पहले परकोटा क्षेत्र में शुरू हुई । इसके बाद शहर के दूसरे हिस्सों में भी हल्की से लेकर तेज बूंदाबांदी का दौर चला।

    मौसम विभाग के अनुसार जोधपुर में कुल 3 एमएम बारिश रिकॉर्ड की गई। विभाग के अनुसार आने वाले 7 दिनों में दिन का पारा 8 से 9 डिग्री तक गिर सकता है।उत्तर भारत में सक्रिय हुए पश्चिमी विक्षोभ के बाद पंजाब, हरियाणा के ऊपर के साइक्लोनिक सर्कुलेशन सिस्टम बना है। इस सिस्टम से हवाएं घड़ी की दिशा में घूमनी शुरू हो गई, जिसके कारण उत्तर भारत से आ रही बर्फीली हवा वहीं थम गई। शीतलहर थमने से राजस्थान समेत दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश में भी तापमान बढ़ गया और लोगों को सर्दी के साथ कोहरे से भी राहत मिली।

    मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक 9 जनवरी से 12 जनवरी तक जो दो बैक-टू-बैक वेस्टर्न डिर्स्टबेंस आए उनसे हिमाचल, जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, उत्तराखंड में अच्छी बर्फबारी हुई। इन सिस्टम के पास आउट होने के बाद जैसे ही उत्तर भारत में मौसम साफ होगा तो वहां से सर्द हवाएं फिर से चलने लगेगी।

    इससे अगले सप्ताह राजस्थान समेत पूरे उत्तर-मध्य भारत में सर्दी बढ़ेगी। 15 से 20 जनवरी तक राजस्थान में शीतलहर का दौर चलेगा और कड़ाके की सर्दी के साथ कुछ जगहों पर पारा शून्य या माइनस में जा सकता है।

  • पिछले 24 घंटों के दौरान उदयपुर शहर का तापमान रहा अधिकतम 24  डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम  13 डिग्री सेल्सियस
  • तो ये थीं अब तक की अपडेट्स हम फिर आएंगे और अपडेट्स लेकर बने रहिए हमारे साथ…

Leave a Reply

Your email address will not be published.