• Sun. Aug 14th, 2022

Udaipur News

Udaipur News Today | Udaipur News Live | उदयपुर न्यूज़ | उदयपुर समाचार

Udaipur Latest News 0 4 JANUARY 2021| उ द य पु र की ता जा ख ब र news 0 4 JANUARY 2021 | उदयपुर की ताजा खबर उ द यपु र की ता जा news 0 4 JANUARY 2021 | उदयपुर की ताजा खबर

Byadmin

Jan 4, 2021
  • हेलो फ्रेंड्स, हम हाजिर हैं आज की अपडेट्स लेकर….
  • साल के लगातार चौथे दिन भी आज कोरोना के 13 पॉजिटिव मिले इन्हें मिलाकर कोरोना संक्रमितों का कुल आंकड़ा शहर में 11,400 हो गया है, जिनमें से 10,944 लोग ठीक हो चुके हैं, अभी 344 एक्टिव केस है और 150 मरीज होम आइसोलेशन में है।
  • एक तरफ कोरोना के मामले कम हो गए तो वही एक नए संकट ने हड़कंप मचा रखा है। प्रदेश में बर्ड फ्लू का खतरा धीरे-धीरे बढ़ता जा रहा है। राजस्थान के कई जिलों में पिछले दिनों कोओ की मौत का सिलसिला जारी है ।अब तक 300 से ज्यादा कोओ की मौत हो गई है वहीं सरकार द्वारा इसकी पूरी निगरानी हो रही है और फील्ड टीम सतर्क है जल्द ही परेशानी का समाधान निकाल लेने की संभावना है।
  • कोरोना की वैक्सीन को लेकर भारत सरकार के स्वास्थ्य विभाग के मंत्रालय ने गाइडलाइन जारी की है। जिसके अनुसार कोरोना की वैक्सीन सभी को एक साथ नहीं दी जाएगी। उच्च जोखिम वाले समूहों को प्राथमिकता के साथ चिन्हित किया गया है जिनमें हेल्थ केयर और फ्रंटलाइन वर्कर शामिल है। दूसरे समूह में 50 वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्ति या वे लोग जो पहले ही किसी रोग से ग्रसित हैं और तीसरे समूह में वैक्सीन को अन्य सभी जरूरतमंदों को उपलब्ध कराया जाएगा ।बहुत कम समय में इस वैक्सीन को बनाया गया है अतः सुरक्षा और प्रभाव के डाटा की जांच के आधार पर मंजूरी के बाद ही नियामक निकायों द्वारा वैक्सीन लगाई जाएगी। हालांकि यह वैक्सीन स्वैच्छिक है पर स्वयं की सुरक्षा और बीमारी के प्रसार को सीमित करने के लिए कोरोना वैक्सीन की पूरी खुराक आवश्यक है। पहले से संक्रमित होने के बावजूद वैक्सीन की पूरी खुराक लेना आवश्यक है। क्योंकि यह एक मजबूत प्रतिक्रिया तंत्र विकसित करने में मदद करेगी व्यक्तियों को लक्षण खत्म होने के 14 दिन बाद तक वैक्सीनेशन स्थगित करना चाहिए क्योंकि यह वैक्सीनेशन स्थल पर दूसरों में संकमण बढ़ा सकते हैं। लाइसेंस देने से पहले ड्रग नियामक द्वारा वैक्सीन उम्मीदवारों के सुरक्षा और प्रभाव कारिता डाटा की जांच की जाती है इसलिए सभी लाइसेंस प्राप्त कोरोना वैक्सीन सुरक्षित और प्रभावकारी होंगे। भारत दुनिया के सबसे बड़े प्रतिरक्षी करण कार्यक्रमों में से एक चलाता है जो 2.6 करोड़ से अधिक नवजात शिशुओ और एक करोड़ से अधिक महिलाओं के वैक्सीनेशन की जरूरतों को पूरा करता है। देश की बड़ी आबादी को प्रभावी ढंग से पूरा वैक्सीनेशन करने के लिए कार्यक्रम तंत्र को मजबूत किया जा रहा है। देश में शुरू की गई कोरोना वेक्सीन उतनी ही प्रभावी होगी कितनी अन्य देशों द्वारा विकसित वैक्सीन । पात्र लाभार्थियों को उनके मोबाइल नंबर के माध्यम से निर्धारित समय के बारे में स्वास्थ्य सेवाओं द्वारा सूचित किया जाएगा। उन्हें पंजीकरण के समय फोटो के साथ आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी या ऐसा ही अन्य पहचान पत्र दिखाना अनिवार्य होगा। और पंजीकरण के बाद ही सत्र ,स्थल और समय की जानकारी दी जाएगी। सत्यापन करना जरूरी होगा ताकि सुनिश्चित किया जा सके कि इज्जत व्यक्ति को वैक्सीन लगाया गया है। ऑनलाइन पंजीकरण के बाद लाभार्थी को वैक्सीनेशन की नियत तिथि स्थान और समय के बारे में मोबाइल नंबर पर s.m.s. प्राप्त होगा। वैक्सीन की सभी खुराक देने के बाद एक क्यू आर कोड आधारित प्रमाण पत्र भेजा जाएगा। कोरोना वैक्सीन लेने के बाद कम से कम आधे घंटे तक वैक्सीनेशन केंद्र में आधे घंटे तक आराम करना चाहिए यदि आपको बाद में कोई असुविधा बेचैनी हो तो निकटतम स्वास्थ्य अधिकारी एएनएम या आशा को सूचित करें। साथ ही कोरोना प्रोटोकॉल , मास्क पहनना ,हाथ की सफाई और शारीरिक दूरी बनाए रखना जरूरी होगा ।सुरक्षा सिद्ध होने पर ही कोरोना वैक्सीन का उपयोग किया जाएगा। कुछ व्यक्तियों में हल्का बुखार दर्द हो सकता है और प्रारंभिक चरण में सीमित वैक्सीन की आपूर्ति के कारण वेक्सीन पहले प्राथमिकता वाले समूह के लोगों को प्रदान किया जाएगा फिर अन्य को उपलब्ध कराया जाएगा ।वैक्सीनेशन पूरा करने के28 दिन के अंदर एक व्यक्ति द्वारा वैक्सीन की दो खुराक ली जानी चाहिए और इसकी दूसरी खुराक प्राप्त करने के 2 सप्ताह बाद आमतौर पर एंटीबॉडी का सुरक्षात्मक स्तर विकसित होता है।
  • Corona update Rajasthan
    Cumulative positive:3,10,278
    Active cases: 8189
  • फाइजर की वैक्सीन की तुलना में कोवी शील्ड और को वैक्सीन बेहतर क्यों मानी जा रही है?
    विशेषज्ञ बताते हैं कि हमें केवल वैक्सीन के कंटेंट पर नहीं जाना है हमें यह भी देखना है कि वैक्सीन सही ढंग से लोगों तक पहुंच सके। कोविशीलड और को वैक्सीन दोनों ही 2 से 5 डिग्री तापमान पर रखी जा सकती है यानी साधारण फ्रिज में रख कर इन्हें कहीं भी भेजा जा सकता है पर फाइजर की वैक्सीन को माइनस 70 डिग्री सेल्सियस तापमान पर रखना होता है। हमें वैक्सीन दूरदराज के इलाकों तक पहुंचाने है कोल्ड चैन को बनाए रखना मुश्किल होता है ऐसे में अन्य वेक्सीन बेहतर मानी जा रही है।
  • हरियाणा और यूपी से लगने वाली दिल्ली की सीमाओं पर डटे किसानों ने भीषण ठंड के बीच बेमौसम बरसात को झेला। कभी तेज तो कभी धीमी बरसात होती रही इससे तापमान भी कम हो गया है लेकिन किसानों का हौसला अभी कम नहीं हुआ है ।लोग तंबुओं के बजाय फ्लाईओवर के नीचे जमा है क्योंकि बरसात से तंबू में पानी आ गया और गद्दे कंबल सब भीग गए हैं हालांकि वे अलाव के सामने भी बैठे हैं बिस्तर कंबल सूख भी जाएंगे तो भी चिंता इस बात की है कि सरकार को उनकी यह मुसीबत अभी तक नहीं दिख रही है। किसानों के अनुसार उन्हें ऐसे मौसम की तो आदत है ऐसे मौसम में वह खेती के आदी हैं उन्हें इससे फर्क नहीं पड़ता है लेकिन मैं शौक से यहां नहीं बैठे हैं वह तब तक बैठे रहेंगे जब तक कानून वापस नहीं हो जाते। गौरतलब है कि किसान संगठनों और सरकार के बीच हुए अब तक की बातचीत से किसान बिल्कुल भी संतुष्ट नहीं है उनकी सबसे पहली मांग है कि तीनों कानून रद्द हो हालांकि इन बातों पर अभी भी गतिरोध बना हुआ ही है और वह कहते हैं कि पिछले 40 दिनों में किसानों का जोश लगातार बढ़ ही रहा है और बारिश और ठंड ने इसे और बढ़ाया ही है अब किसानों का साथ मजदूर और अन्य लोग भी दे रहे हैं तो पीछे हटने का सवाल ही नहीं है।
  • सेंसेक्स
    साल 2021 के दूसरे कारोबारी सत्र में सेंसेक्स ने इतिहास रच दिया
    बीएसई सूचकांक आज 308 अंक की मजबूती के साथ 48,177 पर रहा वहीं निफ्टी 114 अंक बढ़कर 14,133 पर रहा
    एम्स के निदेशक के अनुसार अगले 2 हफ्ते में देश में कोरोना टीका करण की शुरुआत हो सकती है। सिरम इंस्टीट्यूट द्वारा बनाए जा रहे कोवि शील्ड वैक्सीन के जरिए अगले 2 हफ्ते में देश में बड़े पैमाने पर कोरोना टीका करण शुरू हो सकता है। भारत बायोटेक का को वैक्सीन बैकअप के रूप में रखा जा सकता है ।
  • सर्राफा
    उदयपुर में आज दोनों कीमती धातुओं के भाव इस प्रकार रहे
    सोना 22 कैरेट 1 ग्राम ₹4890
    सोना 24 कैरेट 1 ग्राम ₹5135
    वहीं चांदी 1 किलो बार का भाव रहा ₹73700
  • मौसम
    उदयपुर में शीतलहर का असर बरकरार है। तापमान आज अधिकतम रहा 23 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम 14 डिग्री सेल्सियस के आसपास। वही मावठ के चलते आज शहर में कई स्थानों पर खंड वर्षा हुई
  • तो ये थीं अब तक की अपडेटस , हम फिर आएंगे और अपडेट्स लेकर बने रहिए हमारे साथ…..

Leave a Reply

Your email address will not be published.