• Mon. Aug 15th, 2022

Udaipur News

Udaipur News Today | Udaipur News Live | उदयपुर न्यूज़ | उदयपुर समाचार

Udaipur Latest News 0 9 JANUARY 2021| उ द य पु र की ता जा ख ब र news 0 9 JANUARY 2021 | उदयपुर की ताजा खबर उ द यपु र की ता जा news 0 9 JANUARY 2021 | उदयपुर की ताजा खबर

Byadmin

Jan 9, 2021
  • हेलो फ्रेंड्स ,हम हाजिर है आज की अपडेट्स लेकर ….
  • देश में कोरोना वैक्सीनेशन प्रोग्राम 16 जनवरी से शुरू होने जा रहा है। हेल्थ वर्कर्स और फ्रंट लाइन वर्कर्स को पहले टीका दिया जाएगा। इनकी संख्या 3 करोड़ है इसके बाद 50 साल से अधिक उम्र के लोगों और गंभीर बीमारियों के मरीजों को वैक्सीन दी जाएगी। इनकी संख्या करीब 27 करोड़ है। वैक्सीन के दो डोज 28 दिन के अंतराल से लगाने होंगे। और दूसरे डोज के 2 हफ्ते बाद शरीर में कोरोना से बचाने वाली एंटीबॉडी बनने लगेंगे। एंटीबॉडी यानी शरीर में मौजूद वह प्रोटीन जो विषाणु के हमले को बेअसर कर देता है। इसके लिए देश भर में 41 डेस्टिनेशन प्वाइंट बनाए गए हैं जहां वैक्सीन की डिलीवरी होगी ।वैक्सीन लगवानेज्ञके लिए रजिस्ट्रेशन जरूरी होगा। जहां वेक्सीन लगाई जाएगी उसकी सूचना रजिस्ट्रेशन के बाद ही मिलेगी । सरकार ने को- विन एप बनाया है जो वैक्सीन की सही समय मॉनिटरिंग में मदद करेगा। इस पर ही लोग रजिस्ट्रेशन कर सकेंगे कोई भी व्यक्ति को -विन से यूनिक हेल्थ आईडी क्रिएट कर उसे डिजी लॉकर में सेव कर सकता है। इसके साथ ही ड्राइविंग लाइसेंस या अन्य आईडी और वोटर आईडी कार्ड रजिस्ट्रेशन के लिए पेश करने होंगे साथ ही फोटो आईडी भी पेश करना जरूरी होगा ‌ताकि सही व्यक्ति को वैक्सीन लगे। ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराने पर एसएमएस से तारीख जगह और वक्त की जानकारी मिलेगी। वैक्सीनेशन के हर सेशन में 100 लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी। वेक्सीन उपलब्धता के आधार पर यह संख्या बदल सकती है। जिन लोगों को वैक्सीन लग जाएगी उनके बाद उन्हें qr-code बेस्ड सर्टिफिकेट भी दिया जाएगा ।यदि कोई कोरोना पाज़िटिव है तो उसे वैक्सीनेशन साइट्स पर आने की मनाही होगी क्योंकि इससे इंफेक्शन और फैल सकता है। अतः उन्हें लक्षण खत्म होने के 14 दिन बाद वैक्सीनेशन हो सकेगा।
  • उदयपुर जिले में आज कोरोना के 24 नए पॉजिटिव पाए गए ।इन्हें मिलाकर नए साल में अब तक 222 मरीज मिल चुके हैं। और अब तक कुल संक्रमित ओं की संख्या 11,550 हो गई है। इनमें से 11,073 लोग ठीक हो चुके हैं 159 मरीज होम आइसोलेशन में है 364 एक्टिव केस है।
  • उदयपुर के पास निंबाहेड़ा में 43 कोओ की मौत और दो कबूतर सहित 30 चिड़िया ने दम तोड़ा है। अब तक 6 दिनों में 168 पक्षों की मौत हो चुकी है। इनमें 136 कोए और 32 दूसरे पक्षी शामिल है। विभाग के अनुसार निंबाहेड़ा में सर्वाधिक मौतें हुई है बर्ड फ्लू की आशंका के चलते विभाग ने जिले में 15 नोडल नियंत्रण कक्ष और 21 टीमें बनाई है। हर टीम में 5 अधिकारी, कर्मचारी शामिल किए गए हैं ।वहीं उप वन संरक्षक ने आमजन से आसपास के पक्षियों की अचानक मृत्यु की सूचना के लिए मोबाइल नंबर जारी किए हैं।
  • उमरडा रीको इंडस्ट्रियल एरिया में एक फास्फेट फैक्ट्री में अचानक एसिड बॉयलर फटने से एक। व्यक्ति की मौत हो गई। हादसे की सूचना मिलते ही हिरणमगरी थाना पुलिस मौके पर पहुंची।
  • लॉक डाउन के बाद से बंद स्कूलों को सरकार ने 18 जनवरी से नवी से 12वीं कक्षा के लिए खोलने की इजाजत दी है‌‌। साथ ही स्कूल खोलने के 2 दिन पहले 16 जनवरी को सभी स्कूलों में पेरेंट्स -टीचर मीटिंग रखी गई है जिसमें सभी पेरेंट्स स्कूल की व्यवस्थाओं का जायजा ले सकेंगे। साथ ही सभी संस्था प्रधान स्कूल संचालन के लिए जारी की गई एस ओपी की कॉपी हर समय टेबल पर रखेंगे। स्कूल सरकार की कोविड-19 संबंधी गाइडलाइन के अनुरूप ही संचालित होने हैं, जिसमें कोई लापरवाही नहीं बरतनी है। वहीं शिक्षा अधिकारी स्कूल खोलने से पहले तैयारियों का फीडबैक लेंगे। बीमार बच्चों को स्कूल आने की अनुमति नहीं होगी। बच्चे अभिभावकों की सहमति से ही स्कूल आ सकेंगे। स्कूल के समय में भी परिवर्तन किया गया है। अब 9:30 बजे स्कूल खोले जाएंगे। साथ ही बोर्ड की परीक्षाओं में सिलेबस में 40 फ़ीसदी की कटौती की गई है। बदले पैटर्न के मॉडल पेपर भी जल्द ही उपलब्ध होंगे। वही कक्षा पहली से आठवीं तक ऑनलाइन क्लासेस जारी रहेंगी। कक्षा छठी से आठवीं तक के लिए अगले महीने वर्क बुक दी जाएगी वही सभी स्कूल आने वाले स्टूडेंट और टीचर के लिए मास्क लगाना जरूरी होगा, और कोरोना से बचाव संबंधी सभी एहतिहात बरतने ने होंगे‌।
  • आईआईएम उदयपुर के वार्षिक प्रबंधन उत्सव सोलारिस 20 -21 का आगाज हुआ। इसमें उद्योगपतियों के साथ कई शिखर सम्मेलन, पैनल चर्चा ,केस स्टडी प्रतियोगिताएं और कार्यशालाए हुईं।
  • Corona update Rajasthan
    Cumulative positive: 3,12,521
    Active cases: 6730
  • फ्रंटलाइन वर्कर्स को पहले टीके के लिए क्यों चुना गया ?
    विशेषज्ञ कहते हैं फ्रंटलाइन वर्कर्स के टीकाकरण से कोविड-19 की मृत्यु दर को कम कर सामाजिक और आर्थिक प्रभाव को कम करने में मदद मिलेगी। 50 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के टीकाकरण से कोविड-19 की मृत्यु दर कम होगी वही टीकाकरण क्रमानुसार नहीं हो सकता यह वैक्सीन की उपलब्धता के आधार पर सभी लाभार्थियों के लिए समानान्तर रूप से दिया जा सकता है।
  • मुझे कोविड-19 वैक्सीन के लिए क्यों चुना जा रहा है? विशेषज्ञ कहते हैं देश में सबसे अधिक जोखिम वाले समूहों को प्राथमिकता दी गई है, उन्हें पहले टीका मिलेगा। हेल्थ केयर प्रदाताओं ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई का नेतृत्व किया है ।अतः उन्हें टीका लगाने में प्राथमिकता के समूहों में रखा गया है, ताकि वायरस से जुड़े खतरे के डर के बिना आप अपना काम जारी रख सकें।
  • देश में दो वैक्सीन है पहली डोज जिस कंपनी की ली है उसी की दूसरी डोज लेनी होगी क्या?
    विशेषज्ञ कहते हैं हां पहली डोज जिस कंपनी की लेंगे उसी कंपनी की ही दूसरी डोज होनी चाहिए ।दूसरी डोज के लिए 4 हफ्ते के बाद बुलाया जाएगा। 21 या 28 दिन पूरे होने पर अगर आप दूसरी डोज के लिए नहीं पहुंच पाते हैं तो देर ना करें जल्द से जल्द दूसरी डोज ले।
  • वैक्सीन की दो डोज क्यों दी जा रही है?
    विशेषज्ञ बताते हैं कि अब तक जितनी भी वैक्सीन तैयार की गई है उसका ट्रायल दो डोज के साथ ही हुआ है। सभी परीक्षणों में यह पता चला है कि वैक्सीन की दो डोज के बाद ही अच्छी मात्रा में एंटीबॉडी विकसित होते हैं। अब हम यह टेस्ट तो करेंगे नहीं कि पहले कितनी मात्रा में एंटीबॉडी थी वैक्सीन लगाने के बाद कितने हो गए। यह एक प्रोटोकॉल है जिसके आधार पर हर व्यक्ति को दो डोज लगेगी पहली साधारण डोज और दूसरी बूस्टर।
  • वैक्सीन के लिए जो डेट मिलेगी उस दिन अगर नहीं पहुंच पाए तो क्या होगा?
    विशेषज्ञ कहते हैं जब वैक्सीन आएगी तब सभी को कोविन एप पर पंजीकरण करवाना होगा। वही एपके अलावा कैसे पंजीकरण करा सकते हैं यह भी जिला प्रशासन की ओर से अवगत कराया जाएगा। अगर आप दी गई तिथि पर नहीं पहुंच पाते हैं तो आपका नंबर फिर कितने दिन बाद आएगा यह सब सरकार बताएगी । लेकिन सलाह है कि जो डेट दी जाए उस पर जरूर पहुंचे सरकार आपके लिए बहुत मुश्किल काम कर रही है।
  • जब देश में स्वस्थ होने वालों की दर 96% हो गई है तो क्या सभी को वैक्सीन देना जरूरी है?
    विशेषज्ञ कहते हैं 96% रिकवरी रेट यानी जितने लोगों को यह बीमारी हुई थी उनमें से 96% लोग ठीक हो गए हैं। इसका मतलब यह नहीं है कि 96% लोग इम्यून हो गए हैं या उनके अंदर एंटीबॉडीज बन गए हैं। इसलिए वैक्सीन सभी के लिए जरूरी है। कम से कम उतने लोगों को जितने हर्ड इम्युनिटी के लिए जरूरी है। अतः ज्यादातर लोगों के अंदर एंटीबॉडी विकसित हो जाने तक टीकाकरण जरूरी है।
  • राज्य में आगामी 5 दिन मौसम शुष्क रहेगा अगले 24 घंटों में कहीं-कहीं घना कोहरा रह सकता है। वहीं 11 जनवरी से न्यूनतम तापमान मे 3 से 4 डिग्री की गिरावट और उत्तरी भागों में शीतलहर की संभावना है।
  • मौसम
    उदयपुर में सर्दी का असर दिनों दिन बढ़ रहा है। आज सुबह से बादल छाए रहे और तापमान में गिरावट का दौर रहा। मौसम विभाग के अनुसार 11 जनवरी से शहर में शीत लहर के साथ न्यूनतम तापमान में भी कमी होगी। कोहरे के कारण शहर में फ्लाइट्स देरी से पहुंची। और दिल्ली से सुबह 7:55 पर रवाना होने वाली फ्लाइट ने सुबह 10:06 पर उड़ान भरी जो सुबह 9:10 की बजाय 11:26 पर उदयपुर पहुंची।
    शहर का आज तापमान रहा अधिकतम 22 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम 13 डिग्री सेल्सियस
  • तो ये थीं अब तक की अपडेट्स, हम फिर आएंगे और अपडेट्स लेकर बने रहिए हमारे साथ…

Leave a Reply

Your email address will not be published.