• Fri. Jul 12th, 2024

Udaipur News

Udaipur News Today | Udaipur News Live | उदयपुर न्यूज़ | उदयपुर समाचार

Udaipur Latest News 01 October 2023 उदयपुर की ताजा खबर Udaipur Latest News 01 October 2023 उदयपुर की ताजा खबर Udaipur Latest News 01 October 2023 उदयपुर की ताजा खबर

Byadmin

Oct 1, 2023
  • हेलो फ्रेंड्स हम हाजिर हैं आज की अपडेट्स लेकर…..
  •  प्रधानमंत्री ने आज देशभर में चलाए गए स्वच्छता ही सेवा महाभियान का नेतृत्व किया।स्वच्छता के लिए एक तारीख एक घंटा एक साथ के प्रधानमंत्री  के आह्वान पर आज देशभर में लोगों ने भागीदारी की। महात्मा गांधी की जयंती की पूर्व संध्या पर उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए आज सुबह 10 बजे स्वच्छता अभियान के लिए नागरिकों से एक घंटे के श्रमदान की अपील की थी। । इस अवसर पर सभी वर्गों के लोगों ने बाजार परिसरों, रेल-पटरियों, जलाशयों, पर्यटन और पूजा-स्थलों सहित सार्वजनिक स्थलों पर सफाई कार्य में हिस्सा लियाइस अभियान में देश के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के छह लाख 40 हजार से अधिक स्थलों पर श्रमदान हुआ। लगभग एक लाख आवासीय इलाकों में आवासीय कल्याण समितियों ने श्रमदान में भागीदारी की। लगभग एक लाख आवासीय क्षेत्रों में श्रमदान के लिए संघ भी आगे आए। इसमें थल सेना, नौसेना और वायु सेना, राष्ट्रीय आपदा मोचन बल, केंद्रीय जांच ब्यूरो और अन्य विभागों के कर्मियों ने भी आम लोगों के साथ स्वच्छता अभियान में हिस्सा लिया
  • भाद्रपद शुक्ल पूर्णिमा तिथि से सांझी उत्सव प्रारंभ होता है जो कि भाद्रपद कृष्ण अमावस्या तक चलता है. राजस्थान के मंदिरों में इन दिनों भगवान के समुख सांझी बनाई जाती है. गांवों की बालिकाएं रंग बिरंगे पुष्प और रंगों की मदद से इसे बनाती हैं, जो देखने में बहुत सुंदर लगती है. यह उत्सव श्री प्रिया जू से संबंधित है कहा जाता है कि राधा रानी अपने पिता वृषभानु के आंगन में ऐसी ही सांझी सजाती थीं.

    इस सांझी के रूप में राधे रानी संध्या देवी का पूजन करती हैं. सांझी की शुरुआत राधारानी द्वारा की गई थी. सर्वप्रथम भगवान कृष्ण के साथ वनों में उन्होंने ही अपनी सहचरियों के साथ सांझी बनाई थी. वन में आराध्य देव कृष्ण के साथ सांझी बनाना राधारानी को सर्वप्रिय था. तभी से यह परंपरा ब्रजवासियों ने अपना ली और राधाकृष्ण को रिझाने के लिए अपने घरों के आंगन में सांझी बनाने लगे.

    राधा रानी कहती हैं, ‘मैं सांझी बनाने के लिए यमुना के तट पर फूल बीनने के लिए गई और वहां पर मेरी साड़ी एक पेड़ में उलझ गई. तभी कोई अचानक वहां आ गया और उसने पेड़ में उलझी मेरी साड़ी को निकाल दिया. फिर वो मुझे लगातार निहारने लगा और मैं शरमा गई, लेकिन वो देखता रहा और उसने मेरे पैर पर अपना सिर रख दिया. ये बात कहने में मुझको लाज आ रही है, लेकिन वो मेरे वस्त्र सुलझा कर मेरा मन उलझा गया. मैं उसका नाम नहीं जानती पर वो पीला पीताम्बर पहने था और श्याम रंग का था. हे सखी अब मुझे वो याद आ रहा है, इसलिए मुझको उस वन में ही सांझी पूजन के लिए फूल बीनने को फिर से ले चलो.’ इस पद में ठाकुर जी और राधा जी के प्रथम मिलन को समझाया गया है, इसलिये इसको सांझी के समय गाते हैं.

  • राजस्थान के किसी भी पेट्रोल पंप पर आज पेट्रोल-डीजल नहीं मिल पाया. राजस्थान पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन जयपुर के आह्वान पर राजस्थान के सभी पेट्रोल-पंप संचालक हड़ताल पर चले गए  ये हड़ताल रविवार सुबह 6 बजे शुरू हो गई है और आज शाम 6 बजे तक चली एसोसिएशन ने चेतावनी दी है कि अगर आज भी हमारी मांगे नहीं मानी जाती तो 2 अक्टूबर से राजस्थान के सभी पेट्रोल-पंप संचालक अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाएंगे. इस दौरान कोई भी पंप संचालक न तो पेट्रोल-डीजल खरीदेगा, और न ही उसे आगे किसी को बेचेगा.

    बीते शनिवार को भी राजस्थान के सभी पंप संचालकों ने ऐसी ही एक हड़ताल करते हुए रात 8 बजे से रात 10 बजे के लिए पेट्रोल-डीजल की सप्लाई बंद कर दी थी, जिस कारण आम जनता को कई तरह की दिक्कतों को सामना करना पड़ा था. हालांकि ऐसा पहली बार नहीं था. सितंबर महीने की शुरुआत में भी सभी पेट्रोल पंप संचालक अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए थे, जिसके बाद  प्रदेश में हड़कंप जैसी स्थिति देखने को मिली थी. उस वक्त आनन फानन में मंत्री ने राजस्थान पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन के पदाधिकारियों के साथ बैठकर करके 3 मांगों पर सहमति जताई थी, और हाईलेवल कमेटी से स्टडी कराने के लिए 10 दिनों की मांग की थी. लेकिन समय पूरा होने पर भी जब कोई जवाब नहीं आया तो हड़ताल वापस शुरू हो गई.

    राजस्थान में पेट्रोल-डीजल पर वैट पड़ोसी राज्यों के मुकाबले काफी अधिक है. इस कारण पूरे देश में सबसे महंगा पेट्रोल-डीजल राजस्थान में मिलता है. पंजाब के मुकाबले श्रीगंगानगर में पेट्रोल करीब 14 रुपये प्रति लीटर महंगा है. जबकि डीजल के दामों में भी पंजाब के मुकाबले 10 रुपये प्रति लीटर का अंतर है. ऐसे में आम लोगों के साथ-साथ पंप संचालकों को भी भारी नुकसान उठाना पड़ता है

     

    जस्थान लोक सेवा आयोग द्वारा रविवार को राजस्थान राज्य एवं अधीनस्थ सेवाएं संयुक्त प्रतियोगी (प्रारंभिक) परीक्षा का आयोजन करवाया गया। परीक्षा के लिए 6 लाख 96 हजार 969 अभ्यर्थियों को पंजीकृत किया गया था। इसमें से 4 लाख 57 हजार 927 अभ्यर्थी परीक्षा में सम्मिलित हुए। इस प्रकार अभ्यर्थियों का उपस्थिति प्रतिशत 65.70 रहा। परीक्षा शांतिपूर्वक संपन्न हुई।

    —RPSC की ओर से उदयपुर के 118 सेंटरों पर रविवार को आरएएस-2023 प्री एग्जाम से पहले हंगामा हो गया। ।  दिल्ली से आई  एक कैंडिडेट रोते हुए एंट्री की गुहार लगाती रही। सुबह 11 बजे पेपर शुरू होना था और एक घंटे पहले यानी सुबह 10 बजे तक एंट्री दी गई। शहर के कुछ सेंटर्स पर जैसे ही गेट बंद होने लगा तभी दौड़ते हुए कुछ अभ्यर्थी गेट तक पहुंचे और गेट खोलने की गुहार लगाते रहे।

    सरकारी फतह सी.सै. स्कूल में एंट्री नहीं मिली तो अभ्यर्थियों ने जोरदार हंगामा किया। फिर जैसे-तैसे अभ्यर्थी गेट से एंट्री करते हुए स्कूल परिसर में पहुंचे तो वहां मौजूद पुलिस के जवानों ने उन्हें धक्का मारकर बाहर भगा दिया। आक्रोशित अभ्यर्थी एंट्री के लिए अड़े रहे।

    ऐसे में माहौल गर्माता देख तुरंत सूरजपोल थानाधिकारी जाब्ते के साथ मौके पर पहुंचे। उन्होंने अभ्यर्थियों से कहा कि एंट्री देने का काम स्कूल प्रशासन का है बाकी पुलिस चेकिंग और सुरक्षा के लिए तैनात है। दिल्ली से एग्जाम देने आई अभ्यर्थी का कहना है कि मैं 9:59 बजे गेट पर पहुंच चुकी थी। मेरे सामने गेट बंद कर दिया और मुझे एंट्री नहीं दी। मैं रोती-गिड़गिड़ाती रही लेकिन किसी ने नहीं सुनी।

    आरपीएससी एग्जाम में ड्रेस कोड बताए जाने के बावजूद कई अभ्यर्थी फुल आस्तीन शर्ट पहनकर एग्जाम देने पहुंचे। जिन्हें एंट्री नहीं दी गई। ऐसे में अभ्यर्थियों को फुल आस्तीन शर्ट खोलकर बनियान में एग्जाम देने जाना पड़ा। वहीं, कुछ महिला अभ्यर्थियों को एंट्री से पहले कानों के कुंडल, ब्रेसलेट सहित अन्य आभूषण उतारने पड़े। उदयपुर में 118 सेंटर्स पर 43.45 फीसदी अभ्यर्थियों ने एग्जाम दी। कुल 38173 अभ्यर्थी पंजीकृत थे। जिनमें से 16585 ने एग्जाम दी। जबकि 21588 अभ्यर्थी अनुपस्थित रहे।

     आरपीएससी की ओर से उदयपुर के 118 सेंटर्स पर रविवार को आरएएस-2023 प्री एग्जाम शुरू हुई। सुबह 11 बजे पेपर शुरू होना था और एक घंटे पहले यानी सुबह 10 बजे तक एंट्री दी गई।

     

     

     उदयपुर. अक्टूबर शुरू हो गया है। सितंबर की तरह ही अक्टूबर में भी कई वित्तीय बदलाव होने जा रहे हैं। पहली तारीख से कई नियमों में बदलाव लागू हो रहा है तो कई वस्तुओं, सेवाओं के दाम और टैक्स रिवाइज हो रहे हैं। यह बदलाव सीधा आम आदमी की आदमनी को प्रभावित करेंगे एसबीआइ फेस्टिव सीजन ऑफर के तहत ऑटो लोन लेने वाले ग्राहकों को किसी तरह की प्रोसेसिंग फीस नहीं देनी होगी। यह ऑफर पूरे फेस्टिव सीजन और नए साएक अक्टूबर से स्मॉल सेविंग स्कीम या डाकघर बचत योजनाओं में शामिल 5 वर्षीय रिकरिंग डिपॉजिट (आरडी) पर ब्याज दर में 0.2 प्रतिशत की बढ़ोतरी लागू होगी। इसके बाद आरडी पर कुल ब्याज दर 6.7 प्रतिशत हो जाएगी। यह बढ़ोत्तरी आरडी निवेशक की कमाई बढ़ाएगी।


    आरबीआइ की ओर से 1 अक्टूबर से डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड या प्रीपेड कार्ड के लिए नेटवर्क प्रोवाइडर चुनने का विकल्प देने का निर्देश लागू होगा। फिलहाल जब डेबिट या क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन करते हैं तो नेटवर्क प्रदाता आमतौर पर कार्ड जारीकर्ता के जरिए निर्धारित किया जाता है। कार्ड जारीकर्ता पात्र ग्राहकों को कई कार्ड नेटवर्क में से किसी एक को चुनने का विकल्प देंगे। विकल्प का उपयोग कार्ड जारी होने के समय या उसके बाद किसी भी समय कर सकते है।भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड ने सिंगल या ज्वाइंट रूप से म्यूचुअल फंड यूनिट्स के मालिक सभी मौजूदा व्यक्तिगत यूनिट धारकों के लिए नॉमिनी या नामांकन जोडऩे की समय सीमा को बढ़ा दिया है। म्यूचुअल फंड में नॉमिनी जोडऩे की अंतिम तिथि 30 सितंबर थी, जिसे सेबी ने 31 दिसंबर कर दिया है। इससे डीमेट अकाउंट होल्डर्स को नॉमिनी जोडऩे के लिए और समय मिलेगा।

  • चीन के हांगचोओ में 19वें एशियाई खेलों में भारत ने आज तीन स्‍वर्ण, सात रजत और पांच कांस्‍य पदक सहित कुल 15 पदक अपने नाम किए। पदक तालिका में भारत 13 स्वर्ण, 21 रजत और 19 कांस्य सहित कुल 53 पदक जीतकर चौथे स्थान पर बना हुआ है।

    अविनाश साबले ने पुरुषों की तीन हजार मीटर स्टीपलचेज में गेम्स रिकॉर्ड के साथ स्‍वर्ण पदक अपने नाम किया जबकि तेजिंदरपाल सिंह तूर ने गोला फेक में स्‍वर्ण पदक जीता।

    वहीं, निशानेबाज़ी में पुरुष ट्रैप टीम स्‍पर्धा में भारत ने आज एक और स्वर्ण पदक जीता। वहीं व्यक्तिगत ट्रैप स्पर्धा में कीनन डारियस ने कांस्य पदक अपने नाम किया जबकि महिला ट्रैप टीम ने रजत पदक जीता।

    पुरूषों के लॉंग जम्‍प में श्रीशंकर ने शानदार प्रदर्शन किया और रजत पदक जीता। जबकि महिलाओं की हेप्‍टेथेलॉन-800 मीटर में नंदिनी अवसारा को कांस्‍य पदक से संतोष करना पड़ा। महिला चक्का फेंक में सीमा पुनिया कांस्‍य पदक अपने नाम किया।

    महिलाओं की 1,500 मीटर दौड़ में हरमिलन बैंस ने रजत और पुरूषों की 1500 मीटर दौड़ में अजय कुमार सरोज ने रजत और जिनसन जॉनसन ने कांस्‍य पदक जीता। महिलाओं के 100 मीटर बाधा दौड़ में याराजी ज्‍योति ने भी रजत पदक जीता। इससे पहले आज दिन की शुरूआत में अदिती अशोक ने गोल्फ रजत पदक जीता।

    मुक्‍केबाजी में आज भारत को निराशा हाथ लगी जब निकहत जरीन को सेमीफाइनल मुकाबले में थाईलैंड की मुक्‍केबाज से हार का सामना करना पड़ा और उन्‍हें कांस्‍य पदक हासिल हुआ।

    बैडमिंटन में पुरूष टीम स्‍पर्धा में भारत ने आज रजत पदक जीता। फाइनल में भारत को उन्‍हें चीन से हार का सामना करना पड़ा।

    महिला हॉकी के पूल चरण में आज भारत और दक्षिण कोरिया के बीच मुकाबला 1-1 से ड्रा रहा।  इसके साथ ही भारत ने सेमीफाइनल में जगह बना ली है।

  • मौसम
  • उदयपुर में  पिछले 24 घंटों के दौरान  तापमान रहा अधिकतम 33 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम  21 सेल्सियस
  • तो ये थीं अब तक की अपडेट्स हम फिर आएंगे और अपडेट्स लेकर बने रहिए हमारे साथ.sky

Leave a Reply

Your email address will not be published.