• Sun. Jul 14th, 2024

Udaipur News

Udaipur News Today | Udaipur News Live | उदयपुर न्यूज़ | उदयपुर समाचार

Udaipur Latest News 02 December 2023 उदयपुर की ताजा खबर Udaipur latest News 02 December 2023 उदयपुर की ताजा खबर Udaipur Latest News 02 December 2023 उदयपुर की ताजा खबर

Byadmin

Dec 2, 2023
  • हेलो फ्रेंड्स हम हाजिर हैं आज की अपडेट्स लेकर…..
  • चार राज्‍यों मध्‍यप्रदेश, छत्तीसगढ, राजस्‍थान और तेलंगाना में हुए विधानसभा चुनाव की मतगणना तीन दिसंबर को होगी, जबकि मिजोरम में वोटों की गिनती चार दिसंबर को की जाएगी।
  • मिजोरम में कुल 80 दशमलव छह-छह प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया है। चुनाव आयोग के अनुसार मिजोरम की 80 विधानसभा सीटों के लिए 18 महिलाओं समेत 174 उम्‍मीदवार चुनाव मैदान में हैं।
  • छत्तीसगढ़ में कुल मतदान 76 दशमलव तीन-एक प्रतिशत हुआ है। राज्‍य में 90 विधानसभा सीटों के लिए कुल एक हजार एक सौ 81 उम्‍मीदवारों ने चुनाव लड़ा है।
  • मध्‍यप्रदेश में लगभग 77 दशमलव एक-पांच प्रतिशत वोट डाले गए है। राज्‍य विधानसभा की 230 सीटों के लिए 252 महिलाओं सहित दो हजार 534 उम्‍मीदवार चुनाव मैदान में है।
  • राजस्‍थान में कुल 74 दशमलव छह-दो प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया है। राज्‍य विधानसभा की 119 सीटों के लिए एक हजार 875 उम्‍मीदवार चुनाव लड रहे है।
  • तेलंगाना में 71 दशमलव दो-एक प्रतिशत मतदान हुआ है और 119 विधानसभा सीटों के लिए दो हजार दो सौ 90 उम्‍मीदवार चुनाव मैदान में है।
  • राजस्‍थान में विधानसभा चुनाव के लिए मतगणना की सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। राज्‍य के 199 निर्वाचन क्षेत्रों में 36 मतगणना केंद्र बनाए गए।
  • मतगणना के दौरान सभी क्षेत्रों में सुरक्षा और शांति सुनिश्चित करने के लिए मतगणना केंद्रों पर स्‍थानीय पुलिस के साथ सीआरपीएफ की लगभग 175 कम्‍पनियां और आरएसी की टीमें तैनात की गई हैं।

    पिछले महीने की 25 तारीख को राज्‍य की दौ सौ सीटों में से 199 पर वोट डाले गए थे। करनपुर सीट पर कांग्रेस उम्‍मीदवार  की मृत्‍यु के कारण मतदान स्‍थगित कर दिया गया है।

    राजस्थान में विधानसभा चुनाव के लिए वोटों की गिनती रविवार 3 दिसंबर को 8 बजे से शुरू हो जाएगी. पहले पोस्टर बैलेट की गिनती होगी उसके बाद ईवीएम के वोटों की गिनती होगी.मतगणना की तैयारी पूरी हो चुकी है. 33 जिलों के 36 जगहों पर वोटों की गिनती होगी. सभी जगहों पर मतगणना जिला निर्वाचन पदाधिकारी के निर्देशन में होगी.  सुबह 8 बजे से वोट गिने जाएंगे. सबसे पहले 8 बजे से पोस्टल बैलेट की गिनती होगी. 08:30 से ईवीएम की गणना होगी।

    51890 बूथ की गणना होगी. प्रत्येक 500 पोस्टल बैलट पर एक अलग टेबल होगा. प्रत्येक राउंड के बाद दो टेबल पर रैंडम चेकिंग होगी. हर टेबल पर 2 कर्मचारी होंगे. कुल 2552 टेबल होंगे. निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि
    ईवीएम में दिक्कत आने पर वीवीपैट की पर्चियां गिनी जाएंगी.

    सभी राउंड की गिनती के बाद रिकाउंटिंग के लिए लिखित में आवेदन देना होगा. आरओ की सहमति से पुनर्मतगणना होगी. काउंटिंग सेटरों पर 3 स्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की गई है.  40 सीएपीएफ कंपनियां ईवीएम की सुरक्षा कर रही हैं. सवा 9 बजे तक पहले राउंड का रुझान आएगा.

    पीसी में मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि चुनाव के लिए जिला मजिस्ट्रेट ने धारा 144 लगा रखी है. आदर्श आचार संहिता 5 तारीख तक लागू है. ऐसे में 5 दिसंबर तक विजय जुलूस आदि पर प्रतिबंध है. ऐसे में यदि कोई विधायक जीत के बाद विजय जुलूस निकालता है तो वो कानूनी पचड़े में पड़ सकता है.

    199 विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों के लिए सभी 36 केंद्रों पर मतगणना के लिए 1121 सहायक निर्वाचन अधिकारियों (एआरओ) की ड्यूटी लगाई गई है, राज्य में जयपुर, जोधपुर एवं नागौर में दो-दो केंद्रों पर और शेष 30 निर्वाचन जिलों में एक-एक केंद्र पर वोटों की गिनती की जाएगी.

    मतगणना स्थल और उसके आस-पास के क्षेत्र में सुरक्षा के पुख्ता इंतजामात किए गए हैं. मतगणना प्रक्रिया के दौरान सुरक्षा इंतजामों के अंतर्गत केन्द्रीय पुलिस बल और अन्य की व्यापक तैनाती रहेगी. मतगणना स्थल पर प्रवेश के लिए त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की गई है ताकि मतगणना स्थल पर किसी तरह का कोई व्यवधान नहीं आए.

     

    मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि केन्द्रीय पुलिस बलों की 40 कंपनियां ईवीएम की सुरक्षा के लिए और आरएसी की 36 कंपनियां मतगणना केंद्रों पर तैनात रहेंगी। आरएएसी की 99 कम्पनियां विभिन्न जिलों में कानून-व्यवस्था के मद्देनजर तैनात की जाएंगी. राज्य में 200 में से 199 सीटों पर 25 नवंबर को मतदान हुआ था जहां 75.45 प्रतिशत मतदाताओं ने वोट डाला. साल 2018 के गत व‍िधानसभा चुनाव में 74.71 प्रत‍िशत मतदान हुआ था.

    राजस्थान में 199 विधानसभा सीटों पर हुए मतदान में कुल 1862 उम्मीदवार अपना चुनावी किस्मत आजमा रहे हैं. इन सभी के किस्मत का फैसला कर हो जाएगा. राज्य में मुख्य मुकाबला सत्तारूढ़  व मुख्य विपक्षी दल  में माना जा रहा है.बीते कुछ दशकों में, परंपरागत रूप से राज्य में हर विधानसभा चुनाव में राज यानी सरकार बदल जाती है.

    30 नवंबर को आए चुनाव बाद के पूर्वानुमानों के बाद   , दोनों दल को सरकार बनाने की उम्मीद है रविवार को मतगणना से यह स्पष्ट हो जाएगा

     सभी जिला निर्वाचन अधिकारियों, पुलिस आयुक्त एवं पुलिस अधीक्षकों को मतगणना केन्द्र में सुरक्षा मापदण्डों का कड़ाई से पालन करने के निर्देश दिए गये हैं। मतगणना का दिन शुष्क दिवस घोषित किया गया है।

    मतगणना स्थल पर त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित की गई है। केवल अधिकृत पास-धारक व्यक्ति ही प्रवेश कर सकेंगे। मतगणना सेंटर पर प्रत्येक विधानसभा के लिए पृथक-पृथक मतगणना हॉल बनाए गये है, जहां आयोग के निर्देशानुसार टेबलों की व्यवस्था पोस्टल बैलेट एवं ईवीएम की मतगणना के लिए की गई है। मतगणना कर्मियों का रेण्डमाईजेशन त्रिस्तरीय होगा। प्रथम रेण्डमाईजेशन हो चुका है। द्वितीय स्तर का रेण्डमाईजेशन मतगणना के प्रारंभ से 24 घंटे पूर्व किया गया तथा तृतीय रेण्डमाईजेशन मतगणना के दिन सुबह 5 बजे होगा। आयोग द्वारा सभी विधानसभा क्षेत्रों की मतगणना के लिए प्रेक्षक नियुक्त किए गए है, जो जिलों में पहुंच चुके हैं। द्वितीय एवं तृतीय रेण्डमाईजेशन प्रेक्षक की उपस्थिति में किया जाएगा।

    ईवीएम की मतगणना टेबल पर काउंटिंग सुपरवाईजर, काउंटिंग असिस्टेंट, काउंटिंग स्टाफ तथा एक माइक्रो ऑब्जर्वर रहेगा। इसी प्रकार, पोस्टल बैलेट की गणना टेबल पर एक सहायक रिटर्निंग अधिकारी, एक काउंटिंग सुपरवाईजर, दो काउंटिंग असिस्टेंट तथा एक माइक्रो ऑब्जर्वर रहेगा। माइक्रो ऑब्जर्वर केन्द्र सरकार के विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी होंगे। प्रदेश में गणना के लिये 2552 टेबल लगाए गए हैं। ईवीएम मतगणना हेतु कुल 4180 राउंड होंगे। सबसे अधिक 34 राउंड शिव विधानसभा क्षेत्र में तथा सबसे कम 14 राउंड अजमेर दक्षिण विधानसभा क्षेत्र में होगें।

    ईवीएम/पोस्टल बैलेट की टेबल पर अभ्यर्थी के काउंटिंग ऐजेन्ट रहेंगे, जिनके बैठने का क्रम (1) मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय राजनैतिक दल, (2) ऐसे मान्यता प्राप्त अन्य राज्यों के राज्यीय दल, जिन्हें उस विधानसभा क्षेत्र के लिए चुनाव चिन्ह नियत किया गया है, (3) अमान्यता प्राप्त रजिस्ट्रीकृत दल (4) निर्दलीय रहेंगे।

    मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि स्ट्रॉन्ग रूम से मतगणना हॉल तक मशीनें पहुंचने के लिए विधानसभा क्षेत्र वार पृथक-पृथक मार्ग/ रास्ता/ व्यवस्था निर्धारित की गई है, जिसका सीसीटीवी कवरेज होगा। इलेक्शन ऑब्जर्वर के अतिरिक्त किसी को भी मतगणना हॉल में मोबाइल ले जाने की अनुमति नहीं है। केवल रिटर्निंग अधिकारी, सहायक रिटर्निंग अधिकारी और काउंटिंग सुपरवाईजर जो ईटीपीबीएमएस से जुड़े हैं, वह केवल ईटीपीबीएमएस सिस्टम ओपन करने के लिए ओटीपी हेतु मोबाइल ले जा सकेंगे तथा इसके पश्चात मोबाइल बंद कर प्रेक्षक, रिटर्निंग अधिकारी एवं सहायक रिटर्निंग अधिकारी के पास जमा कराएंगे।

    विधानसभा के पोस्टल बैलेट की मतणना समाप्त होते ही अभ्यर्थी वार डाक मतपत्रों के परिणाम की घोषणा की जायेगी। उन्होंने कहा कि प्रत्येक राउंड पूरा होने पर नियमानुसार उस राउंड के परिणाम की घोषणा की जायेगी तथा दूसरे राउंड की गिनती प्रारंभ होगी। मीडिया को भी इसकी जानकारी मीडिया सेन्टर में दी जायेगी। इस हेतु जिला जनसम्पर्क अधिकारी समन्वय बनायेंगे।

    मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि अधिकृत मीडियाकर्मियों के लिए मतगणना केन्द्र पर एक पृथक कक्ष में मीडिया सेन्टर बनाया गया है, जहां पर टेलिफोन, कम्प्यूटर एवं इंटरनेट आदि की सुविधा उपलब्ध रहेगी। मीडिया कर्मियों के लिए आयोग द्वारा प्राधिकार पत्र जारी किए गए हैं। मतगणना स्थल पर मीडियाकर्मियों को मतगणना के नवीनतम रूझान एवं परिणाम से अवगत कराने के लिए मीडिया सेंटर में बड़ी एलईडी स्क्रीन पर आयोग की आईटी एप्लिकेशन ट्रेंड-टीवी के माध्यम से प्रदर्शित करने की व्यवस्था की गयी है। इससे मीडियाकर्मियों को एक ही स्थान पर राज्य की सभी विधानसभा क्षेत्रों की मतगणना के नवीनतम रूझान एवं परिणाम उपलब्ध होंगे।

    इसके अतिरिक्त राज्य के आमजन को राज्य विधानसभा के आमचुनाव की मतगणना के रूझान एवं परिणाम से अवगत कराने के लिए मुख्य निर्वाचन अधिकारी की वेबसाइट (https://ceorajasthan.nic.in/) पर भी लिंक दिया गया है। उक्त लिंक के माध्यम से प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र की मतगणना की राउंडवाइज सूचना उपलब्ध रहेगी।  विधानसभावार सूचना भी विभाग की वेबसाइट पर रहेगी। मतगणना की समाप्ति के पश्चात प्रत्येक विधानसभा का आधिकारिक परिणाम भी विभाग की वेबसाइट पर उपलब्ध रहेगा। आमजन में मोबाइल के बढते हुए प्रयोग को ध्यान में रखते हुए राज्य विधानसभा के आमचुनाव-2023 की मतगणना के रूझान एवं परिणाम निर्वाचन आयोग के मोबाइल एप ‘वोटर हेल्प लाइन एप’ पर उपलब्ध रहेंगे। वोटर हेल्पलाइन एप गुगल प्ले स्टोर अथवा आईओएस से डाउनलोड किया जा सकता है।

    रिटर्निंग अधिकारियों द्वारा भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशों के अनुसार कानून- व्यवस्था की पूर्ण पालना सुनिश्चित की जाएगी। रिटर्निंग अधिकारी किसी भी राजनैतिक व्यक्ति, मंत्री या वरिष्ठ अधिकारी से निर्देश प्राप्त नहीं करेंगे और न ही किसी तरह से कोई पक्षपात करेंगे। मतगणना स्थल में प्रवेश करने के लिए वैध प्राधिकार पत्र होने के बाद भी यदि आरओ को मतगणना हॉल में किसी व्यक्ति की उपस्थिति के बारे में उचित संदेह है, तो वह उसकी तलाशी ले सकता है।

    मतगणना हॉल के बाहर पर्याप्त संख्या में सुरक्षा कर्मियों की तैनाती रहेगी और किसी भी व्यक्ति को बिना अनुमति के कमरे में प्रवेश करने या छोड़ने की अनुमति नहीं दी जाएगी। आरओ पूर्ण व्यवस्था और अनुशासन सुनिश्चित रखते हुए गिनती व्यवस्थित तरीके से करवाना सुनिश्चित करेंगे। मतगणना कार्मिक परिणाम घोषित होने के बाद ही आरओ की अनुमति से मतगणना हॉल छोड़ेंगे। मतगणना केंद्र के अंदर आयोग के पर्यवेक्षकों और काउंटिंग डेटा प्रसारित करने के आधिकारिक उपयोग के लिए आवश्यक उपकरणों के अतिरिक्त किसी भी मोबाइल फोन, आई-पैड, लैपटॉप अथवा किसी भी ऑडियो या वीडियो रिकॉर्डिंग उपकरण की अनुमति नहीं होगी।
    सभी सीयू, वीवीपैट मशीनों और संबंधित दस्तावेजों को स्ट्रॉन्ग रूम से लेकर काउंटिंग हॉल तक और मतगणना पश्चात वापस स्ट्रॉन्ग रूम तक लाने-ले जाने की कार्यवाही की निर्बाध सीसीटीवी कवरेज सुनिश्चित की जाएगी। इस अवधि की सीसीटीवी कवरेज उम्मीदवार अथवा उनके एजेंट मतगणना हॉल में टीवी/ मॉनिटर पर देख सकेंगे। काउंटिंग हॉल में संपूर्ण मतगणना प्रक्रिया की 360 डिग्री सीसीटीवी कैमरा या वीडियोग्राफी से मय दिनांक और समय की मोहर के साथ कवरेज की जाएगी। हालांकि, किसी भी परिस्थिति में, ईवीएम या मतपत्रों पर प्रदर्शित वास्तविक वोटों की वीडियो रिकॉर्डिंग नहीं की जाएगी।

    उन्होंने कहा कि पुलिस को अफवाहों को प्रभावहीन करने के लिए सोशल मीडिया के माध्यम से सूचनाओं के आदान-प्रदान पर निगरानी रखते हुए किसी भी प्रकार की भ्रामक, आपत्तिजनक पोस्ट पर तत्काल कार्यवाही करने को कहा गया है। मतगणना के दौरान एवं चुनाव के परिणाम घोषित होने के पश्चात कानून व्यवस्था की स्थिति नियंत्रित बनाए रखने के लिए बैरिकेडिंग, पुलिस बंदोबस्त, पार्किंग व्यवस्था आदि के लिए उचित प्रबंध जिला निर्वाचन अधिकारी के स्तर पर सुनिश्चित किए जाएंगे।जिला मजिस्ट्रेट द्वारा धारा 144 दंड प्रक्रिया संहिता के प्रावधानों के अनुसार मतगणना के पश्चात विजय जुलूस, हर्ष फायरिंग, डीजे वाहन का प्रयोग, वाहन रैली आदि जैसे आयोजनों पर रोक रहेगी।

    80 वर्ष एवं अधिक आयु के वृद्धजन और 40 प्रतिशत से अधिक दिव्यांगता वाले मतदाताओं के लिए इस चुनाव में पहली बार आयोग की ओर से होम वोटिंग की सुविधा प्रदान की गई थी। प्रदेश भर में, 80 वर्ष से अधिक आयु के 50,730 एवं 11,798 दिव्यांग मतदाताओं ने कुल 62,528 फॉर्म 12-डी भर कर घर से ही मतदान की सुविधा का लाभ लेने के लिए आवेदन किया था। इनमें से 61,618 जीवित मतदाताओं में से कुल 49,366 वृद्ध (80 वर्ष से अधिक) एवं 11,656 दिव्यांग मतदाताओं ने घर से ही मतदान किया। इस तरह करीब 99 प्रतिशत से अधिक मतदाताओं ने इस सुविधा का लाभ लिया। आवश्यक सेवाओं से जुड़े 6,694 मतदाताओं ने फॉर्म 12-डी भरा, इनमें से 4,427 मतदाताओं ने पोस्टल बैलट सुविधा के माध्यम से वोट डाला। 3,71,235  मतदान कार्मिकों ने फेसिलिटेशन सेंटर्स पर पोस्टल बैलट से मतदान किया। सर्विस वोटर्स की कुल संख्या 1,42,219 हैं, एक दिसम्बर तक 27,298 सर्विस वोटर्स के पोस्टल बैलट प्राप्त हो चुके हैं।

     

  • राष्‍ट्रीय अन्‍वेषण अभिकरण-एनआईए ने चार राज्‍यों मे छापेमारी कर भारतीय मुद्रा के नकली नोट छापने के धंधे का भंडाफोड किया महाराष्‍ट्र, उत्‍तर प्रदेश, कर्नाटक और बिहार राज्‍यों मे छापेमारी कर भारतीय मुद्रा के नकली नोट छापने का भंडाफोड किया और नकली नोट, नोट छापने का कागज तथा डिजीटल उपकरण बरामद किए है।छापेमारी के दौरान 600रु के नकली नोट बरामद किए गए।
  • दुनिया के पहले पोर्टेबल अस्‍पताल आरोग्‍य मैत्री ऐड क्‍यूब का आज गुरूग्राम में अनावरण किया गया। यह आपदा के समय प्रयोग किए जाने वाला अस्‍पताल है। यह मास्‍टर क्‍यूब केज के दो सैट से तैयार किया गया है। प्रत्‍येक सैट में 36 मिनी क्‍यूब हैं। यह अस्‍पताल गोली से घायल होने, जलने, सिर, पीठ और छाती पर चोट लगने, हड्डी टूटने और बहुत ज्‍यादा खून बहने से उत्‍पन्‍न स्थिति से निपट सकता है। इस अस्‍पताल में छोटा ऑपरेशन किया जा सकता है।
  • दुनिया भर से श्रद्धालु, इस महीने के दूसरे सप्ताह के बाद विमान के माध्यम से उत्तर प्रदेश में अयोध्या पहुंच सकेंगे।  शहर में भव्य श्री राम अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे का उद्घाटन इस महीने की 15 तारीख के बाद किसी भी दिन है।इस महीने की 15 तारीख तक अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे का काम पूरा हो जाएगा हवाई अड्डे के पहले चरण में रनवे की लंबाई दो हजार 200 मीटर होगी। इस पर प्रति घंटे 2 से 3 विमान उड़ान भर सकेंगे। इस पर बोइंग 737 जैसे विमान और हवाई बसें संचालित हो सकती हैं।
  • बंग्लादेश की राजधानी ढाका और आस-पास के इलाकों में आज सवेरे भूकंप के झटके आये जिनकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर पांच दशमलव छह मापी गई। यह झटके ढाका, चट्टोग्राम और कुछ अन्य हिस्सों में महसूस किये गये। सवेरे साढ़े नौ बजे आया यह भूकंप कुछ सेकंड्स तक रहा। इसकी गहराई 10 किलोमीटर थी और केंद्र चट्टोग्राम डिवीजन के कोमिला में था। भूकंप से जानमाल के किसी नुकसान की अभी कोई खबर नहीं है।
  • इस्राइल और हमास के बीच फिर से युद्ध छिड़ गया है। कल एक सप्ताह का युद्ध विराम समाप्त होने के तुरंत बाद गजा पट्टी में कई मकानों और इमारतों पर हवाई हमले हुए। गजा के स्वास्थ्य अधिकारियों ने दर्जनों फलिस्तीनियों के मारे जाने की खबर दी है। इस्राइल ने गजा शहर और फलिस्तीन के दक्षिणी हिस्सों में पर्चे फेंक कर आम लोगों को आगाह किया है कि युद्ध से बचने के लिए सुरक्षित स्थानों पर चले जायें।
  • गजा में उग्रवादियों ने इस्राइल पर रॉकेट से हमले फिर शुरू कर दिये हैं। लेबनान से लगी उत्तरी सीमा पर हिजबुल्ला उग्रवादियों ने भी इस्राइल के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है।
  • दोनों पक्षों की ओर से लड़ाई फिर छिड़ जाने से हमास और अन्य उग्रवादियों की कैद में बंधक बने 140 लोगों की सुरक्षा को लेकर चिंताएं बढ़ गई हैं। युद्ध विराम के दौरान हमास ने सौ से अधिक बंधकों को रिहा किया था।
  • इस्राइली सेना ने कल गजा में पांच बंधकों की मृत्यु की पुष्टि करते हुए कहा कि मृतकों के परिवारों को सूचित कर दिया गया है और एक मृतक का शव इस्राइल भेज दिया गया है।
  •  टेलीकॉम ग्राहकों के लिए सिम कार्ड नियमों में बदलाव किया गया है। रिटेलर और ग्राहक, दोनों के लिए टेलीकॉम डिपार्टमेंट ने नए सिम कार्ड खरीदने के नियमों में बदलाव किया है। जिनका पालन न करने पर टेलीकॉम डिपार्टमेंट ने जुर्माने का प्रावधान भी किया है। इसलिए नियमों पर ध्यान देने की जरूरत है जो 1 दिसंबर 2023 से लागू हो चुके हैं।

    डिपार्टमेंट ऑफ टेलीकम्युनिकेशंसने 1 दिसंबर 2023 से नए सिम कार्ड खरीदने के नए नियमों को लागू कर दिया है। ग्राहक को अब नया सिम कार्ड खरीदने के समय KYC अपडेट करवाना होगा। साथ ही सिम कार्ड का डीलर भी वैरीफाइड होना चाहिए। इसके अलावा बल्क कनेक्शन खरीदने पर टेलीकॉम अथॉरिटी ने बैन लगा दिया है। सरकार ने ये सभी नियम ऑनलाइन फ्रॉड को रोकने के लिए लागू किए हैं।

    अगर आप एक नया सिम कार्ड खरीदने जा रहे हैं तो डिजिटल तौर पर आपको KYC करवाना होगा। जिसमें कुछ डिटेल्स कस्टमर को देने होंगे। ये सभी डिटेल्स आधार कार्ड पर बने क्यू आर कोड स्कैन के द्वारा कैप्चर किए जाएंगे। सिम कार्ड बदलने के समय भी सब्सक्राइबर को KYC पूरा करना होगा। डिपार्टमेंट ऑफ टेलीकॉम ने बल्क में सिम कार्ड खरीद पर रोक लगा दी है। इसके बजाए DoT ने बिजनेस कनेक्शन जारी करने का प्रावधान किया है। इसमें किसी ऑर्गेनाइजेशन को बल्क कनेक्शन दिए जा सकते हैं अगर वह अपने कर्माचरियों के लिए बल्क कनेक्शन खरीदना चाहती है। लेकिन उसके लिए ऑर्गेनाइजेशन को एक अधिकृत हस्ताक्षरकर्ता  को नियुक्त करना होगा। वहीं एक व्यक्ति एक आईडी प्रूफ पर अधिकतम 9 सिमकार्ड ही खरीद सकता है। टेलीकॉम ऑपरेटरों को अब अपने फ्रेंचाइजी, PoS एजेंट, और डिस्ट्रीब्यूटर्स का रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। साथ ही इनका वैरीफिकेशन भी होगा। अगर ऑपरेटर इसका पालन नहीं करता है तो उस पर 10 लाख रुपये का जुर्माना लगेगा। पॉइंट ऑफ सेल (PoS) को एक लिखित समझौते के तहत स्वयं को रजिस्टर करवाना होगा। जो PoS अभी तक रजिस्टर्ड नहीं हैं उनके लिए 12 महीने का समय प्रोसेस को पूरा करने के लिए दिया गया है।

  • भोपाल गैस त्रासदी के39 साल बाद भी भीषण औद्योगिक हादसे की पीड़ा से शहर उबर नहीं पा रहा

  • भोपाल में 2 और 3 दिसंबर 1984 की दरमियानी रात में यूनियन कार्बाइड कीटनाशक फैक्ट्री से जहरीली गैस लीक होने से 3,787 लोग मारे गए थे. यह हादसा दुनिया की भीषणतम औद्योगिक दुर्घटनाओं में से एक था.
  • उदयपुर 2 दिसंबर 2023 । उदयपुर झाड़ोल नेशनल हाइवे 58E पर रविवार सुबह दो हादसे हो गए। अल सुबह झाड़ोल जा रहा लोग के सरियों से भरा रहा ट्रक रणघाटी में अनियंत्रित होकर पलट गया, जिसमे ड्राइवर और खलासी को मामूली चोटे आई। जिन्हे आसपास लोगों ने तुरंत अस्पताल पहुंचाया।
  • वही झाड़ोल से सोयाबीन भरकर उदयपुर की तरफ जा रहा ट्रक खेरिया घाटा में अनियंत्रित होकर खाई में गिर गया। जिसमे ड्राइवर के नीचे दबने से मौत हो गई। जबकि खलासी घायल हो गया। घटना के आसपास लोगों की भीड़ जमा हो गई। सूचना पर पुलिस मौके ड्राइवर के शव को झाड़ोल मोर्चरी में रखवाया गया। वही घायल खलासी को हॉस्पिटल पहुंचाया।
  • नवनिर्मित नेशनल हाइवे 58E पर रणघाटी और खेरिया घाटा में काम लंबे समय से अधूरा पड़ा हे ऐसे में पुराने घाट सेक्शन वाले मार्ग से ही वाहन गुजर रहे हे, घाट सेक्शन और सकडा मार्ग होने से आए दिन दुर्घटनाएं होती रहती है।
  •  उदयपुर ने 21 दिसंबर को होने वाले शिल्पग्राम उत्सव की तैयारी शुरू कर दी है जो 30 दिसंबर तक चलेगा। पश्चिम क्षेत्र सांस्कतिक केन्द्र, उदयपुर की ओर से आयोजित शिल्पग्राम उत्सव के लिए शिल्पग्राम परिसर में खुली नीलामी बोली 5, 11 एवं 12 दिसम्बर को लगेगी। शिल्पग्राम ढाबा की खुली नीलामी 5 दिसम्बर को, खाने के व्यंजन/फूड स्टॉल की खुली नीलामी 11 दिसम्बर को लगेगी। आईस्क्रीम, ज्यूस स्टॉल व गन्ने का रस, गुड, बैल चालित चरखिया और कुरजा पोट्री, कारपेट, साहरनपुर फर्निचर, लकड़ी फर्निचर की खुली नीलामी 12 दिसम्बर को शिल्पग्राम परिसर में लगेगी। शिल्पग्राम उत्सव में देश भर के विभिन्न कलाकार लोक कला और हस्तशिल्प की अपनी अनूठी रचनाएँ प्रस्तुत करेंगे।

     

     विधानसभा चुनाव 2023 की मतगणना दिनांक 03.12.2023 को मोहनलाल सुखाडिया युनिवर्सिटी उदयपुर में होगी इस दौरान यातायात की व्यवस्था प्रातः 06.00 ए. एम. से मतगणना समाप्ति तक इस प्रकार रहेगी…

    रूट डायवर्जन

    1. प्रतापनगर रूट के सवारी ऑटो प्रतापनगर से सुन्दरवास होते हुए ठोकर चौराया, धुलकोट, आयड पुलिया होते हुए शहर जा सकेंगे ।
    2. शास्त्री सर्कल से प्रतापनगर के सवारी ऑटो आयड पुलिया से धुलकोट, ठोकर चौराया,सुन्दरवास होते हुए प्रतापनगर जा सकेंगे ।
    3. दुर्गा नर्सरी तिराहे से आयड पुलिया से होते हुये मोहनलाल सुखाडिया विश्वविद्यालय मार्ग पर जाने वाले वाहन आयड पुलिया से धुलकोट चौराहा होते हुये ठोकर जा सकेगे एंव आयड पुलिया से शोभागपुरा 100 फिट लिंक रोड होते हुये शोभागपुरा की तरफ जा सकेगें।
    4. आयड पुलिया से मोहनलाल सुखाडिया विश्वविद्यालय मार्ग पर जाने वाले समस्त प्रकार के भारी वाहन वाया आयड 100 फिट शोभागपुरा लिंक रोड होते हुये जायेंगे।
    5. समस्त प्रकार के टू व्हिलर / फोर व्हिलर आयड पुलिया से बेकनी पुलिया, कालका माता मन्दिर तक आ जा सकेगे।

    मतगणना केन्द्र के सामने विश्वविद्यालय मार्ग मैन गेट से बेकनी पुलिया, कालका माता तक समस्त प्रकार का यातायात पूर्णतया बन्द रहेगा ।

    1. मतगणना केन्द्र के सामने से बेकनी पुलिया, विश्वविद्यालय मेनगेट तक वाहनों का प्रवेश निषेध रहेगा ।
    2. बोहरा गणेश जी तिराया से विश्वविद्यालय मेनगेट तक आने वाले वाहनों का प्रवेश निषेध रहेंगा ।
    3. आरटीओ ऑफिस 100 फिट रोड से मोहनलाल सुखाडिया विश्वविद्यालय मेनगेट के पास निकलने वाली रोड पर आने वाले वाहनो का प्रवेश निषेध रहेगा ।

    दिनांक 03.12.2023 को युनिवर्सिटी मेनगेट से सभी अधिकारी / कर्मचारियो व प्रत्याशियों, एजेन्ट का प्रवेश रहेगा। इसके अलावा स्वर्ण जयन्ती द्वार, एम. पी. यु. ए. टी द्वार सी क्लास द्वार, आरटीओ की तरफ जाने वाला गेट पुर्णतया बन्द रहेगा।

     

    1. मतगणना ड्यूटी मे लगे अधिकारी / कर्मचारियों के वाहनों की पार्किंग हेतु मैनगेट युनिवर्सिटी प्रवेश द्वार से विवेकानन्द सभागार में (दुपहिया) तथा एफ. एम. एस परिसर में (चारपहिया) व डेयरी कॉलेज परिसर में (चारपहिया) अपने वाहन पार्क कर सकेंगें।
    2. प्रशासनिक अधिकारियों एवं प्रत्याशियो के चौपहिया वाहनों की पार्किंग प्रशासनिक भवन की पार्किंग में की जावेगी।

     

    • एम्बुलेंस, फायरब्रिगेड व अन्य आपातकालीन सेवाओं के लिए उपरोक्त व्यवस्था लागू नहीं है।
    • आमजन से अनुरोध है कि मुख्य सड़क पर किसी भी प्रकार का वाहन पार्क नही करें एंव यातायात पुलिस को पुर्ण सहयोग करें।
    • उदयपुर शहर से सटे बेदला खुर्द से रामगिरी जाने वाले लोगों के लिए अब गांव आने-जाने की राह आसान होगी। असल में इस गांव में बारिश के समय मुश्किल भरी राह से गुजरना पड़ता है। बरसों बाद इस गांव में पुलिया बनने जा रही है। उदयपुर विकास प्राधिकरण (यूडीए) ने पुलिया बनाने का काम शुरू कर दिया है जिससे आसपास के कई गांवों को राहत मिलेगी।बेड़च नदी के अंदर से आसपास के गांव वालों को गुजरना होता है।
    • रेलवे की ओर से प्रदान की जाने वाले कई सुविधाओं में एक सर्कुलर सुविधा भी है। इसके माध्यम से यात्रा करने वाला यात्री 56 दिन तक एक ही टिकट पर यात्रा कर सकता है।  सर्कुलर सुविधा के तहत यात्रा करने से यात्री अलग-अलग स्टेशनों पर बार-बार उतरकर घूम सकता है और पुन: ट्रेन पकड़कर अगली यात्रा कर सकता है। इसके लिए बार-बार टिकट खरीदने की आवश्यकता नहीं पड़ती।सर्कुलर सुविधा का लाभ लेने के लिए यात्री को कन्फर्म टिकट खरीदना होगा। यह टिकट सर्कुलर यात्रा के लिए होनी चाहिए। इसमें यात्री कहां-कहां और कब-कब यात्रा करेगा, इसकी विस्तृत जानकारी देनी होगी। इसके बाद आप 56 दिनों तक ट्रेन में यात्रा कर सकते हैं।किसी यात्री को उदयपुर से गोवा जाना है और यह यात्री चाहता है कि मार्ग में पड़ने वाले विभिन्न स्थानों पर घूम ले तो ऐसे में उसे ऐसा ही रूट बनाना होगा। इस रूट में आगे-आगे से ट्रेन की कनेक्टिविटी देखनी होगी। इसमें एक स्टेशन दो बार नहीं आना चाहिए। इसके लिए यात्री को पहले से ही रेलवे को सूचित करना होगा, जिसके बाद बिना दोबारा टिकट खरीदे वह आराम से घूम सकता है।सर्कुलर सुविधा का टिकट रेलवे स्टेशन पर ही मिलेगा। इसमें यात्री को बताना होगा कि वह किस शहर से यात्रा शुरू करेगा। बीच में किस शहर में उतरेगा और फिर दोबारा कब से यात्रा शुरू करेगा। पूरी जानकारी देने पर टिकट बनेगा और यात्री यात्रा कर सकेगा।
  • आस्ट्रेलिया को चौथे टी-20 मैच में 20 रन से हराकर भारत ने पांच मैचों की अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला में 3-1 की अजेय बढ़त ले ली है। जीत के लिए 175 रन के जवाब में, आस्ट्रेलिया की टीम निर्धारित बीस ओवर में 7 विकेट खोकर 154 रन ही बना सकी।
  • इससे पहले, आस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाज़ी करने का निर्णय लिया।
  • भारत ने तिरुवनंतपुरम और विशाखापत्तनम में खेले गए मैचों में जीत दर्ज की थी जबकि गुवाहाटी में हुआ मैच आस्ट्रेलिया ने जीता था।
  • श्रृंखला का पांचवा और अंतिम मैच बेंगलुरु में कल शाम 7 बजे से खेला जाएगा।
  • मौसम
  • इस साल जल्द ही कड़ाके की ठंड पड़ने वाली है। हिमाचल प्रदेश के ऊपरी इलाकों, पर्वतीय दर्रों में मध्यम बर्फबारी के बाद के राज्य के अधिकांश हिस्सों में ठंड बढ़ गई। इसके साथ ही, राजधानी शिमला सहित कई स्थानों पर शुक्रवार को भारी बारिश और ओलावृष्टि हुई।जम्मू-कश्मीर में भी बर्फबारी होने के कारण मुगल रोड दूसरे दिन भी यातायात के लिए बंद रहा।
  • हिल स्टेशन माउंट आबू में पिछले दोनों दो दिन तक हुई बारिश से अब बदले मौसम से स्थानीय लोगों की दिनचर्या में भी बदलाव देखा जा रहा है और लोग सर्दी से घरों से देरी से बाहर भी निकलते देखे गए और माउंट आबू में घूमने आने वाला पर्यटक भी चल रही सर्द हवाओं से होटल में दुबने को मजबूर देखे गए.. बारिश के बाद जहां आज भी आसमान में बादलों की आवाजाही जारी है.. तो कभी आसमान मे बादलो के बीच लुकाछिपी व धूप खेलने का जो दोर है वह भी देखा जा रहा है.. पर्यटक व स्थानीय लोग धूप खिलने के साथ लोग धूप सकते हुए भी देखेंगे गए |
  • माउंट आबू में लगातार बदलते मौसम से देश के विभिन्न राज्यों से पर्यटकों ने बड़ी संख्या में माउंट आबू का रुख किया है और मौसम के बीच पर्यटक नक्की झील में नौकायन कर खूबसूरत फिजाओं के बीच सुंदर नजारे कैमरे में भी कैद करते  नजर आए अचानक सर्दी के बढने से नेपाल मार्केट मे ओर अन्य जगहो पर लगी ऊनी कपडों की दुकान पर गर्म कपड़ों की खरीदारी भी बढी गई है..वहीं घूमने आने वाले पर्यटक व स्थानीय लोग भी अब ऊनी वस्त्रो की बड़ी संख्या में खरीदारी कर रहे है
  • उदयपुर  में बारिश जैसे  मौसम से सुबह से सर्दी का असर बढ़ा आसमान में बादल छाए हुए है, सुबह से ठंडी हवाओं से  ठंड बढ़ गई
  • उदयपुर में  पिछले 24 घंटों के दौरान  तापमान रहा अधिकतम 24 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम  16 सेल्सियस
  • तो ये थीं अब तक की अपडेट्स हम फिर आएंगे और अपडेट्स लेकर बने रहिए हमारे साथ…

Leave a Reply

Your email address will not be published.