• Mon. Aug 15th, 2022

Udaipur News

Udaipur News Today | Udaipur News Live | उदयपुर न्यूज़ | उदयपुर समाचार

Udaipur Latest News 14 JANUARY 2021| उ द य पु र की ता जा ख ब र news 14 JANUARY 2021 | उदयपुर की ताजा खबर उ द यपु र की ता जा news 14 JANUARY 2021 | उदयपुर की ताजा खबर

Byadmin

Jan 14, 2021
  • हेलो फ्रेंड्स हम हाजिर हैं आज की अपडेट से लेकर….
  • शहर में मकर सक्रांति का पर्व सादगी और सद्भाव के साथ मनाया गया। मंदिरों में सुबह से भक्तों ने दर्शन किए और दान पुण्य कर पर्व को मनाया। जगह-जगह गायों को हरा चारा खिलाया गया और जरूरतमंदों को कपड़े वितरित किए गए। इस दौरान पारंपरिक खेलों का भी आयोजन हुआ। कोरोना संक्रमण के चलते पूरी गाइडलाइंस का पालन करते हुए आयोजन किए गए। वहीं फतह सागर किनारे पतंग बाजी भी की गई। इस दौरान एक डोर से कई पतंग एक साथ उड़ाई गई जिन्हें देखने बड़ी संख्या में शहरवासी पहुंचे।
  • कोरोना के बाद एक लंबे अरसे बाद मकर सक्रांति का पर्व हर्ष और उल्लास से मनाया गया। गलियों में सितोलिया खेला गया और छतों पर पतंगे उड़ाई गई। वहीं मंदिरों में भी धूमधाम से यह पर्व मनाया गया। गौरतलब है कि सूर्य मकर राशि में प्रवेश करता है इसलिए इस पर्व को मकर सक्रांति कहा जाता है।
  • आज से वैष्णो देवी की पुरानी गुफा को दर्शन के लिए खोल दिया गया। सुबह 10:00 बजे से शाम 4:00 बजे तक और फिर रात को 10:00 बजे से सुबह 4:00 बजे तक दर्शन के लिए गुफा को खोला गया है‌ श्राइन बोर्ड के अनुसार शुरुआत में केवल पुजारी और मंदिर के स्टाफ को ही इसकी अनुमति होगी। आम लोगों के लिए दर्शन की इजाजत को लेकर स्थिति अभी साफ नहीं है हालांकि जल्द ही इस बारे में फैसला हो सकता है। गौरतलब है कि साल 1986 में माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड के गठन तक यात्रा पुरानी पारंपरिक गुफा से ही चलती थी। और जब कभी भीड़ कम होती तो जनवरी से मार्च तक इस गुफा को खोला जाता ।पिछले कुछ सालों से पुरानी गुफा को 14 या 15 जनवरी से मध्य मार्च तक खोला जाता है और भीड़ बढ़ने पर बंद कर दिया जाता है।
  • व्हाट्सएप की नई डाटा प्राइवेसी पॉलिसी को दिल्ली हाईकोर्ट में चुनौती दी गई है। एक याचिका दायर की गई है जिसमें कहा गया है कि व्हाट्सएप की नई पॉलिसी भारत के लोगों को मिले निजता के अधिकार का उल्लंघन है। यूजर का डाटा साझा करना गैरकानूनी है। इसमें कहा गया है कि व्हाट्सएप की इस नई पॉलिसी का मतलब है कि लोगों की ऑनलाइन एक्टिविटी पर हमेशा नजर रखी जाएगी और यह सब सरकार की निगरानी के बिना होगा। इसलिए व्हाट्सएप की इस पॉलिसी पर तत्काल रोक लगाई जानी चाहिए। साथ ही यह भी कहा गया कि इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय को गाइडलाइंस बनाने का निर्देश दिया जाए ताकि व्हाट्सएप यूजर्स का डाटा फेसबुक या किसी अन्य कंपनी के साथ साझा ना किया जाए। अभी तक डाटा पर निगरानी रखने वाली कोई अथॉरिटी नहीं है इसलिए यूजर पूरी तरह कंपनी की प्राइवेट पॉलिसी पर निर्भर है। डेटा की सुरक्षा की जिम्मेदारी सरकार की है। व्हाट्सएप की नई पॉलिसी के अनुसार जो कंटेंट अपलोड, सबमिट, स्टोर ,सेंड या रिसीव करते हैं कंपनी उसका इस्तेमाल कहीं भी कर सकती है और उसे साझा भी कर सकती है। ये पॉलिसी 8 फरवरी 2021 से लागू हो रही है। इस पॉलिसी को एग्री नहीं करने के बाद यूजर 8 फरवरी के बाद अपने अकाउंट का इस्तेमाल नहीं कर सकेगा ।हालांकि कंपनी ने सफाई दी है कि इस पॉलिसी से यूज़र के प्राइवेट मैसेज को खतरा नहीं है और पूरी तरह सुरक्षित रहेगी। इसमें सिर्फ बिजनेस अकाउंट में भेजे गए मैसेज आएंगे।

    गौरतलब है कि व्हाट्सएप ने अब इसे ऑप्शनल बताया है। मतलब अगर नई पॉलिसी को नहीं मानते हैं तो भी हमारा अकाउंट डिलीट नहीं होगा, जैसा पहले कहा जा रहा था। वही नहीं पॉलिसी आने के बाद कई बड़ी हस्तियों ने दूसरे मैसेजिंग एप्स को एंडोर्स किया है ।और इससे सिगनल जैसे ऐप पर यूजर शिफ्ट हो रहे हैं साथ ही टेलीग्राम एप भी मैसेजिंग के लिए यूज होना शुरू हुआ है। दोनों के यूजर पिछले कुछ दिनों में तेजी से बढ़े हैं।

  • गणतंत्र दिवस पर राजधानी दिल्ली में होने वाले मुख्य कार्यक्रम में इस बार कोई विशिष्ट अतिथि नहीं होगा। इससे पहले ब्रिटेन के प्रधानमंत्री आने वाले थे हालांकि कोरोना की वजह से उन्होंने अपना दौरा रद्द कर दिया ।
  • पिछले 50 दिनों से जारी किसान के आंदोलन के दौरान कई किसान शहीद हुए हैं और किसानों के हित में कानून बनाने को लेकर सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि सुप्रीम कोर्ट ने किसानों की चिंताओं को सुनने के लिए समिति गठित कर दी है। सरकार की तरफ से अब किसानों से बातचीत का कोई मतलब नहीं रह जाता है। वही नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान संगठनों ने कहा है कि वह सुप्रीम कोर्ट की तरफ से गठित समिति से बातचीत नहीं करेंगे क्योंकि यह सरकार समर्थक समिति है उन्हें तीनों कृषि कानूनों को वापस लिए जाने से कम कुछ भी मंजूर नहीं है। उन्होंने समिति के सदस्यों की निष्पक्षता पर संदेह जताया जबकि कृषि कानूनों पर रोक लगाने के शीर्ष अदालत के फैसले का स्वागत किया है।इस बीच 15 जनवरी को होने वाली बातचीत पर अनिश्चितता कायम है।
  • को विन पर जानकारी
    ये एक इलेक्ट्रॉनिक प्लेटफार्म है जिस पर वैक्सीनेशन से जुड़ा हर डाटा उपलब्ध है। सरकार के कराएं dry-run जिनमें ना केवल राज्य सरकारों की तैयारी देखी गई बल्कि इलेक्ट्रॉनिक वैक्सीन इंटेलिजेंस नेटवर्क को भी परखा गया इस प्लेटफार्म का इस्तेमाल वैक्सीनेशन में होता है। और इसे ही रीमॉडल कर कोविंन बनाया गया और dry-run के दौरान मैदानी स्तर पर इसकी फंक्शनैलिटी भी चेक की गई ।यह भारत में लगाई जाने वाली हर कोरोना वेक्सीन का पूरा डिजिटल डाटा बेस होगा। वैक्सीन लगवाने वालों को ट्रैक करने उन्हें वेबसाइट की जानकारी की तारीख और समय बताने से पहले और बाद की प्रक्रिया की निगरानी करने के लिए और सर्टिफिकेट जारी करने के लिए इस्तेमाल होगा। अब तक 79 लाख लोगो की जानकारी सिस्टम पर दर्ज हो चुकी है। इस समय एप्लीकेशन पर सेल्फ रजिस्ट्रेशन की इजाजत नहीं है। सरकार के अनुसार बाद के चरणों में ये एक एप्लीकेशन या वेब साइट पर उपलब्ध होगा। लोग सेलफ रजिस्ट्रेशन कर इस से जुड़ी प्रक्रिया की निगरानी कर सकेगे। वैक्सीनेशन के पहले फेस के बाद कोई भी व्यक्ति इस पर सेल्फ रजिस्ट्रेशन कर सकेगा। इसके लिए सरकारी आईडी का इस्तेमाल उसकी पहचान की पुष्टि के लिए किया जाएगा ताकि गलत इस्तेमाल ना हो सके।ये ऐप फ्री में डाउनलोड होगा वेबसाइट पर जाकर भी रजिस्ट्रेशन कर सकेंगे एक तरह से यह डिजिटल ट्रैकर का काम करेगा साथ ही केंद्र सरकार ने साफ किया है कि अगर आप रेक्सीन लगवा रहे हैं तो आपके पास कोई विकल्प नहीं है‌ किसी भी देश में इस तरह का विकल्प नहीं दिया जा रहा है‌ भारत में जो वैक्सीन लग रही है वह दुनिया में सबसे सेफ है घबराने की जरूरत नहीं है और इसे हजारों लोगों पर आजमाया गया है और किसी तरह का गंभीर साइड इफेक्ट नहीं दिखा है।
  • कैंसर, मधुमेह पीड़ित व्यक्ति जो और दवाइयां ले रहे हैं क्या उन्हें वैक्सीन लगवानी चाहिए?
    जानकार बताते हैं ऐसे लोग जो कैंसर मधुमेह हाइपरटेंशन आदि बीमारियों से ग्रसित हैं वह हाई रिस्क पर है उन्हें प्राथमिकता सूची में ऊपर रखा गया है अतः ऐसे लोगों को वैक्सीन जरूर लगवानी चाहिए।
  • क्या पहले चरण में स्वास्थ्य कर्मियों व फ्रंटलाइन वर्कर्स के परिवार जन का भी टीकाकरण होगा?
    विशेषज्ञ कहते हैं अभी कोविड-19 की वैक्सीन सीमित मात्रा में उपलब्ध है इसलिए पहले उन्हें वेक्सीन दी जाएगी जो मरीजों के संपर्क में आए दिन आते हैं। फिलहाल फ्रंटलाइन वर्कर्स के परिवारजनों को वैक्सीन नहीं दी जाएगी। अगले चरण में उन्हें शामिल किया जा सकता है।
  • क्या बर्ड फ्लू का कोरोना से कोई संबंध है?
    विशेषज्ञ बताते हैं इन दोनों का आपस में कोई लेना देना नहीं है लेकिन अगर किसी व्यक्ति को यह दोनों साथ में होते हैं तो वह गंभीर रूप से बीमार हो सकता है उसके फेफड़ों में बहुत ज्यादा संक्रमण हो सकता है ऐसे में सांस लेने में बहुत ज्यादा तकलीफ हो सकती है।
  • जो लोग क्लीनिकल ट्रायल में शामिल हो गए थे क्या उन्हें वैक्सीन लगवानी है?
    विशेषज्ञ कहते हैं नहीं इन लोगों ने क्लिनिकल ट्रायल में हिस्सा लिया था और उनकी दो डोज लग चुकी है उन्हें अब वैक्सीन लगवाने की जरूरत नहीं है।
  • आज महाराणा कुंभा राज्य काल (1433 से 1468 ईसवी संवत) का जन्मदिन है। लोक मान्यता के अनुसार मकर सक्रांति विक्रम संवत 1474 को देवगढ़ के पास मदारिया नामक स्थान पर उनका जन्म हुआ। वह एक कुशल शासक ,विद्वान, महान योद्धा ,वास्तुकला विशेषज्ञ और संगीतकार थे। मेवाड़ के 84 किलो में से 32 किलो का निर्माण का श्रेय उन्हें जाता है। उन्हें सुदृढ़ मेवाड़ के कीर्ति पुरुष भी कहा जाता है। कुंभलगढ़ किला, श्री एकलिंग जी मंदिर नागदा ,रणकपुर आदि में कई विश्वविख्यात मंदिरों का निर्माण और जीर्णोद्धार कराया। चित्तौड़ दुर्ग में कुंडों जलाशयों का निर्माण के साथ ही विजय स्तंभ का निर्माण करवाया।
  • शहर में आज 25 नए कोरोना पॉजिटिव मिले। इन्हें मिलाकर शहर में कुल पॉजिटिव केस की संख्या 11,662 हुई है। इनमें से 11,112 लोग ठीक हो चुके हैं 219 मरीज होम आइसोलेशन में है और 437 एक्टिव केस है।
  • कोविड-19 वैक्सीनेशन को लेकर जिले में गठित टास्क फोर्स शहरी टास्क फोर्स और एईएफआई कमेटी की बैठक आज जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में आयोजित हुई जिसमें अब तक की की गई तैयारियों के संबंध में समीक्षा की गई और वैक्सीनेशन प्रक्रिया पूरी करने के बारे में निर्देश दिए गए साथ ही वैक्सीनेशन के दौरान पूरी एहतियात बरतने सभी सेशन साइट पर फिजीशियन लगाने, एंबुलेंस की व्यवस्था। एईएफआई किट, बैंड रिजर्व रखने ,अलग से कमरा आरक्षित रखने ऑक्सीजन के साथ आवश्यक इमरजेंसी सुविधाओं की व्यवस्था करने ।कोविड-19 प्रोटोकॉल की पालना सुनिश्चित करने और सुरक्षा इंतजाम करने के निर्देश दिए गए।
  • मोहनलाल सुखाड़िया विश्वविद्यालय में एनसीसी की 300 सीटें बढ़ गई है ।अब तक नेवी की 100 आर्मी की 54 और एयर की 100 सीटें थी। अब सौ- सौ सीटें और बढ़ जाने से विद्यार्थियों को फायदा होगा।
  • राजस्थान के उदयपुर में खेरवाड़ा में चाइनीज मांझे से कटकर युवक की मौत हो गई ।युवक बाइक से जा रहा था तभी उसके गले में मांझा फस गया और उसकी गर्दन बुरी तरह कट गई। ज्यादा खून बह जाने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई। कई शहरों में मांजे से लोग घायल हुए हैं और कई जगहों पर पक्षियों के शव भी मिले हैं।
  • पावर कट सूचना
    विद्युत विभाग के अनुसार 15 जनवरी 2021 को बड़ी , रॉयल रिट्रीट, बंजारा हिल। गवरी चौक, मोया चौराहा, टीबी हॉस्पिटल और संबंधित क्षेत्रों में सुबह 11:00 से शाम 5:00 बजे तक विद्युत आपूर्ति बंद रहेगी।
  • घरेलू शेयर बाजार आज फिर तेजी की राह पर लौट आए
    बीएसई सूचकांक 91 अंक की बढ़त के साथ 49,584 पर बंद हुआ वहीं निफ्टी भी 31 अंक की बढ़त के साथ 14,596 पर रहा।
  • सर्राफा
    उदयपुर में आज दोनों कीमती धातुओं के भाव इस प्रकार रहे
    सोना 22 कैरेट 1 ग्राम ₹4775
    सोना 24 कैरेट 1 ग्राम ₹5014
    वहीं चांदी 1 किलो बार का भाव रहा ₹70,700

    मौसम
    उदयपुर में आज का तापमान अधिकतम 23 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम 8 डिग्री सेल्सियस

  • ये थीं अब तक की अपडेट्स,हम फिर आएंगे और अपडेट्स लेकर, बने रहिए हमारे साथ….

Leave a Reply

Your email address will not be published.