• Sat. Jun 15th, 2024

Udaipur News

Udaipur News Today | Udaipur News Live | उदयपुर न्यूज़ | उदयपुर समाचार

Udaipur Latest News 16 June 2023 उदयपुर की ताजा खबर Udaipur Latest News 16 June 2023 उदयपुर की ताजा खबर Udaipur Latest News 16 June 2023

Byadmin

Jun 16, 2023

 

  • हेलो फ्रेंड्स हम हाजिर हैं आज की अपडेट्स लेकर….
  • ‘नेहरू मेमोरियल म्यूजियम एंड लाइब्रेरी सोसाइटी- (एनएमएमएल) का नाम बदलकर प्रधानमंत्री संग्रहालय और लाइब्रेरी सोसाइटी कर दिया गया है। रक्षामंत्री  की अध्यक्षता में एनएमएमएल सोसायटी की एक बैठक के दौरान नाम बदलने का यह निर्णय लिया गया। वर्तमान में रक्षामंत्री  इस एनएमएमएल सोसाइटी के उपाध्‍यक्ष है।
    अपने संबोधन में रक्षामंत्री ने नाम में परिवर्तन के प्रस्ताव का स्वागत किया क्योंकि अपने नए रूप में यह संस्था  सभी प्रधानमंत्रियों के योगदान और उनके सामने आने वाली विभिन्न चुनौतियों को प्रदर्शित करती है।प्रधानमंत्रियों को एक संस्था के रूप में बताते हुए और विभिन्न प्रधानमंत्रियों की यात्रा की तुलना एक इंद्रधनुष के विभिन्न रंगों से करते हुए रक्षामंत्री  ने इस बात पर जोर दिया कि एक इंद्रधनुष को सुंदर बनाने के लिए उसके सभी रंगों का आनुपातिक रूप से प्रतिनिधित्व किया जाना चाहिए।
  • 16 जून, 2013 यानी ठीक 10 साल पहले उत्तराखंड में बादल फटने से आई विनाशकारी बाढ़ ने कई शहरों और गांवों को तबाह कर दिया.इस बाढ़ में हज़ारों की संख्या में लोग बह गए जिनमें से कई लोगों के शव कभी मिले ही नहीं.

    केदारनाथ उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग ज़िले में स्थित है जो समुद्रतल से 3,584 मीटर की ऊंचाई पर हिमालय के गढ़वाल क्षेत्र में पड़ता है.

    केदारनाथ को हिन्दुओं के पवित्र चार धामों में से एक माना जाता है. हिंदू धार्मिक ग्रंथों में जिन बारह ज्योतिर्लिंगों का उल्लेख है, केदारनाथ उनमें सबसे ऊंचाई पर स्थित ज्योतिर्लिंग है.

    केदारनाथ मंदिर के पास ही मंदाकिनी नदी बहती है. गर्मियों में यहां बड़ी संख्या में तीर्थ यात्री और पर्यटक आते हैं.

    यह मंदिर क़रीब एक हज़ार साल पुराना बताया जाता है जिसे चतुर्भुजाकार आधार पर पत्थर की बड़ी बड़ी पट्टियों से बनाया गया है.

    इसमें गर्भगृह की ओर ले जाती सीढ़ियों पर पाली भाषा के शिलालेख देखने को मिलते हैं.

    यह मंदिर गर्मियों के दौरान क़रीब छह महीने के लिए ही खुला रहता है, सर्दियों में इसे बंद कर दिया जाता है.

    सर्दियों में यहां भारी बर्फ़बारी होती है जिससे यह बर्फ़ की एक मोटी परत से ढक जाता है.

    मान्यता है कि देश भर में अद्वैत वेदान्त के प्रति जागरूकता फ़ैलाने वाले हिंदुओं के प्रसिद्ध संत आदि शंकराचार्य ने चारों धामों की स्थापना के उपरांत 32 वर्ष की आयु में इसी स्थान पर समाधि ली थी.

    उत्तराखंड में स्थित गंगोत्री, यमनोत्री, केदारनाथ और बद्रीनाथ की यात्रा को चार धाम यात्रा के नाम से जाना जाता है.

    हिंदुओं में धार्मिक तीर्थयात्रा के रूप में इसकी बहुत मान्यता है.

    हिमालय की पश्चिम दिशा में उत्तरकाशी ज़िले में स्थित यमनोत्री चार धाम का पहला पड़ाव है.

    चार धाम के दर्शन के लिए जाने वाले श्रद्धालु पहले यमनोत्री फिर गंगोत्री और फिर बद्रीनाथ और केदारनाथ जाते हैं.

    इस वर्ष भी 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस योग फॉर वसुधैव कुटुम्बकम थीम पर  मनाया जाएगा। जयपुर में जिला स्तरीय समारोह रामनिवास बाग स्थित फुटबॉल ग्राउंड में आयोजित किया जाएगा। समारोह को सफल बनाने के लिए नगर निगम, जयपुर विकास प्राधिकरण, सार्वजनिक निर्माण विभाग, पीएचईडी, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग, पुलिस, महिला एवं बाल अधिकारिता विकास विभाग, एनसीसी, स्काउट गाइड, नागरिक सुरक्षा विभाग सहित अन्य संबंधित विभागों के अधिकारियों को जिम्मेदारियां सौंपी गई है। समारोह में आमजन की ज्यादा से ज्यादा भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए सभी विभाग आपसी सहयोग एवं समन्वय से काम करेंगे एवं योग से निरोग बनने की अवधारणा को मजबूत बनाने में अपना योगदान देंगे।

    राज्य सरकार के दिशा-निर्देशानुसार अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस योग फॉर वसुधैव कुटुम्बकम थीम पर बुधवार 21 जून को मनाया जाएगा। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के सफल क्रियान्वयन, विभिन्न व्यवस्थाओं एवं तैयारियों के संबंध में गुरुवार को अतिरिक्त जिला कलक्टर (शहर)  ने बैठक लेकर विभिन्न विभागों को अलग-अलग दायित्व सौंपे है। उन्होंने गांधी ग्राउंड में होने वाले जिला स्तरीय आयोजन में अधिक से अधिक भागीदारी सुनिश्चित करते हुए आयोजन को भव्य बनाने की बात कही। एडीएम ने कहा कि इस कार्यक्रम में अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार करें ताकि अधिक से अधिक लोग स्वास्थ्य लाभ ले सके।

    17 से 21 जून तक विविध कार्यक्रम
    अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर अधिक से अधिक जन भागीदारी सुनिश्चित करने एवं लोगों को जागरूक करने के लिए उद्देश्य से शहर के प्रमुख स्थलों पर 17 जून से योगाभ्यास कार्यक्रम रखा गया है। निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार 17 जून को सुबह 6 से 8 बजे तक सहेलियों की बाड़ी में योग प्रोटोकॉल का पूर्वाभ्यास व शाम 5.30 से 7 बजे तक योग व स्वास्थ्य जागरूकता रैली, 18 को सुबह 6 से 8 बजे तक फतहसागर की पाल पर योग पूर्वाभ्यास, 19 को सुबह 6 से 8 बजे तक सुखाडिया समाधि स्थल पर योग पूर्वाभ्यास, 10 बजे से आयुर्वेद औषधालय सिंधी बाजार में योग प्रशिक्षकों का प्रशिक्षण, शाम 5 बजे मदन मोहल मालवीय कॉलेज में योग आधारित सांस्कृति संध्या, 20 को सुबह 6 से 8 बजे तक गांधी ग्राउण्ड में योग प्रोटोकॉल का पूर्वाभ्यास तथा 21 जून को योग दिवस का मुख्य कार्यक्रम गांधी ग्राउण्ड में आयोजित होगा।

  • IMD का कहना है कि आज रात के आसपास चक्रवात #बिपारजॉय के सौराष्ट्र और कच्छ पर एक गहरे अवसाद में और कमजोर होने की संभावना है।
  • ।चक्रवात बिपरजॉय लगातार कमजोर होकर उत्‍तर पूर्व की ओर बढ़ रहा है। इससे अगले 24 से 48 घंटों में स्‍थानीय मौसम पर असर पड़ेगा। इसके कारण उत्‍तरी गुजरात और दक्षिणी राजस्‍थान के कई इलाकों में बहुत भारी बारिश होने की संभावना है। भारतीय मौसम के अनुसार अगले तीन घंटे में कच्‍छ, देवभूमि द्वारका, जामनगर और मोरबी जिलों में 41 से 61 किलोमीटर प्रतिघंटा के गति से हवा चलेगी। इसके साथ तूफान और भारी बारिश होने की संभावना है।
  • चक्रवात #बिपरजॉय अब दक्षिण राजस्‍थान की ओर बढ गया है और क्षेत्र में बारिश होने की संभावना है। राष्‍ट्रीय आपदा मोचन बल ने राजस्‍थान के जालौर में एक टीम भेजी है। राष्‍ट्रीय आपदा मोचन बल ने कर्नाटक में चार और महाराष्‍ट्र में पांच टीमें भी तैनात की हैं। चक्रवात से अगले 24 से 48 घंटों में स्‍थानीय मौसम पर असर पडेगा। इसके कारण उत्‍तरी गुजरात और दक्षिणी राजस्‍थान के कई इलाकों में बहुत भारी बारिश होने की संभावना है।

बिपरजॉय तूफान के असर से बाड़मेर में आज शाम भारी बारिश हुई। निचले इलाकों में पानी भर गया। जालोर में भी रेड अलर्ट है और यहां तेज हवाओं के साथ बारिश हो रही है। जालोर में शुक्रवार सुबह तक 69MM बारिश दर्ज की गई है। इधर, जैसलमेर में भी आंधी-बारिश जारी है। बाड़मेर और सिरोही में तेज हवाओं की वजह से पेड़ और पोल गिर गए हैं।

माउंटआबू में शुक्रवार सुबह 8 से दोपहर 3 बजे तक 27 एमएम बारिश हो चुकी है। तापमान में भी गिरावट आई है। शाम साढ़े पांच बजे तक बाड़मेर में 30 और जोधपुर में 19 एमएम बारिश दर्ज की गई।

इधर, देर शाम अजमेर और नागौर में भी अचानक मौसम बदल गया। देर शाम अजमेर शहर समेत नागौर के डीडवाना और आस-पास के इलाकों में तेज हवा के साथ बारिश हुई।तूफान के चलते शुक्रवार और शनिवार को मिलाकर राजस्थान के 5 जिलों में बहुत भारी बारिश के लिए रेड अलर्ट, जबकि 13 जिलों में भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विभाग का अनुमान है कि 24 घंटे के दौरान राजस्थान में 200 MM यानी 8 इंच या उससे ज्यादा बारिश हो सकती है। मौसम विभाग के मुताबिक राजस्थान में तूफान 16, 17 और 18 जून को एक्टिव रहेगा।

मौसम विभाग के मुताबिक राजस्थान के पश्चिमी और मध्य भाग में तूफान का सबसे ज्यादा खतरा है। जोधपुर यूनिवर्सिटी ने तूफान के असर वाले इलाकों में 16 और 17 जून को होने वाली सभी परीक्षाएं स्थगित कर दी हैं। 17 से 19 जून को हाेने वाले स्टेट ओपन के एग्जाम भी स्थगित कर दिए हैं। रेलवे ने बाड़मेर-जोधपुर के बीच चलने वाली पैसेंजर ट्रेन को दो दिन नहीं चलाने का फैसला किया है।

जोधपुर कलेक्टर और आपदा प्रबंधन प्राधिकरण अध्यक्ष  ने 16 और 17 को जोधपुर के सभी शैक्षणिक संस्थाओं, कोचिंग, जिम, पर्यटन स्थल और समर कैंप को बंद रखने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने बताया कि बिपरजॉय के कारण तेज आंधी के साथ अत्यधिक भारी बारिश का अलर्ट है।

बीकानेर में बिपरजॉय के कारण तूफान और भारी बारिश की चेतावनी के मद्देनजर सभी जिला और ब्लॉक स्तरीय अधिकारियों को 3 दिन तक अपने मुख्यालय पर ही रहकर अतिरिक्त सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए हैं।

16 जून : 9 जिले (बाड़मेर, जालोर, जैसलमेर, जोधपुर, पाली, सिरोही, बीकानेर, राजसमंद, उदयपुर)। बाड़मेर और जालोर जिलों में अतिभारी बारिश होने की आशंका जताते हुए इन दोनों जिलों के लिए रेड अलर्ट जारी किया है।

मौसम विभाग का अनुमान है कि 24 घंटे के दौरान इन जिलों में 200MM (8 इंच) या उससे ज्यादा बारिश हो सकती है। जबकि पाली, जोधपुर, जैसलमेर, उदयपुर और सिरोही जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी करते हुए यहां 4 से 6 इंच तक बरसात होने का अनुमान जताया है।

17 जून : बाड़मेर, जोधपुर, नागौर, जालोर, पाली, जैसलमेर, बीकानेर, अजमेर, राजसमंद, भीलवाड़ा, उदयपुर, सिरोही, जयपुर, टोंक, बूंदी, चूरू, सीकर, चित्तौड़गढ़, प्रतापगढ़, डूंगरपुर, बांसवाड़ा।

18 जून : अजमेर, जयपुर, नागौर, टोंक, सवाईमाधोपुर, जोधपुर, सीकर, झुंझुनूं, चूरू, पाली, भीलवाड़ा, बूंदी, दौसा, अलवर, करौली।

इस सिस्टम का असर देर शाम जालोर, सिरोही, उदयपुर, बाड़मेर, जैसलमेर, जोधपुर और पाली बेल्ट में देखने को मिला। सिरोही में शाम 61KM स्पीड से तेज हवाएं चली। वहीं, बाड़मेर जिले में 55, जालोर में 46 और जोधपुर में 58KM प्रतिघंटा की स्पीड से हवा चली। सिरोही के माउंट आबू में सभी प्राइवेट स्कूलों में दो दिन की छुट्‌टी कर दी है।

उदयपुर जिले का सबसे बड़ा हॉस्पिटल महाराणा भोपाल हॉस्पिटल में बने कार्डियोलॉजी वार्ड के सेकंड फ्लोर के एलिवेशन गिरने से एक बड़ा हादसा हो गया, जिसमे हॉस्पिटल की पार्किंग में खड़ी दो कारें क्षतिग्रस्त हो गई। हालांकि इस पूरी घटना में कोई जनहानि होने की बात सामने नहीं आई है। शहर में प्रशासन द्वारा जारी की गई चेतावनी के बाद शुक्रवार को दोपहर बारिश होने लगी और तेज हवाएं भी चलने लगी थी, जिसके कुछ ही देर बाद हॉस्पिटल में यह हादसा हो गया।

घटना के बाद मौके पर बड़ी तादाद में लोगों की भीड़ जमा हो गई। तब ही पुलिस और हॉस्पिटल प्रशासन के लोग भी मौके पर पहुंच गए और जेसीबी की मदद से मलबा हटाने का काम शुरू कर दिया गया।

एमपी चिकित्सालय के अधीक्षक  ने कहा कि घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पीडब्ल्यूडी सिविल और इलेक्ट्रिक की टीम को बुला लिया गया और जेसीबी की मदद से मलबे को भी हटाया गया। साथी ही बिल्डिंग पर लगे बाकी के एलिवेशन के हिस्से को भी जल्द हटा लिया जाएगा, ताकि आगे किसी तरीके का कोई हादसा ना हो सके।

 

 

 

अरब सागर में ‘‘बिपरजॉय’’ चक्रवात तुफान को देखते हुए संरक्षा एवं सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए रेलवे द्वारा रेल सेवाओ को आंशिक रद्द किया जा रहा है। अगर  ट्रेन से कहीं सफर करने की योजना बना रहे हैं तो  आप एक बार जानकारी करके  स्टेशन जाएं।

उत्तर पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी के अनुसार:

आंशिक रद्द रेलसेवाएं (प्रारंभिक स्टेशन से) –

1. गाडी संख्या 14311 , बरेली-भुज एक्सप्रेस रेलसेवा दिनांक 15.06.23 को बरेली से प्रस्थान करने वाली अहमदाबाद तक संचालित होगी।

2. गाडी संख्या 14312 , भुज-बरेली एक्सप्रेस रेलसेवा दिनांक 16.06.23 को भुज से प्रस्थान करने वाली अहमदाबाद से संचालित होगी।

3. गाडी संख्या 19565, ओखा-देहरादून एक्सप्रेस रेलसेवा दिनांक 16.06.23 को ओखा से प्रस्थान करने वाली हापा से संचालित होगी।

उदयपुर में तूफान का प्रभाव बीती रात से दिखने लगा। ज़िले में रात सवा दस बजे से एकाएक मौसम बिगड़ा और तेज़ अंधड़ के साथ बारिश शुरू हुई।शहर में रात से अभी तक रुक-रुक कर बारिश हो रही है।ठंडी हवाओं व बारिश से मौसम ठंडा हो गया। शहर व जिले भर से तेज रफ्तार की हवाओं से नुकसान की घटनाएं सामने आने लगी है।

उदयपुर शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में रात को तेज अंधड़ के साथ बारिश शुरू हो गई।रात भर ठंडी हवाएं चली। शहर के अलावा कुराबड़, लसाडिय़ा, सलूंबर आदि क्षेत्रों में भी रिमझिम बारिश हुई।

। मौसम विभाग जयपुर केंद्र ने आज उदयपुर-राजसमंद ज़िले में तेज़ मेघगर्जन की चेतावनी जारी की गई । मौसम विभाग के मुताबिक,आकाशीय बिजली के साथ एज अंधड़ के बीच 40 से 60 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने की संभावना है, और ये गति बढ़ भी सकती है ।सुबह से सूर्य देवता के दर्शन नहीं हुए। जिला प्रशासन पूरी निगरानी बनाए हुए है। सवेरे फतहसागर झील की पाल किनारे आए लोगों में भी तूफान को लेकर ही चर्चा थी। वहीं सिविल डिफेंस की टीमें भी संसाधन के साथ तैयार है।

इधर, सिंचाई विभाग की रिपोर्ट के अनुसार पिछले 24 घंटों में उदयपुर जिले के केसरियाजी (ऋषभदेव) में 24 मिलीमीटर (करीब एक इंच) बारिश हुई है। इसके अलावा सेमारी में 17 मिमी, गोगुंदा में 12 मिमी, जयसमंद में 9, केजड़ में 8 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई।

मौसम विभाग की चेतावनी
जयपुर मौसम विभाग ने चेतावनी में उदयपुर, राजसमंद जिलों के आसपास के क्षेत्रों में तेज मेघगर्जन के साथ हल्की से मध्यम वर्षा होने की चेतानी दी। साथ ही कहा कि आकाशीय बिजली के साथ तेज अंधड़ के बीच 40 से 60 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने की संभावना है और ये गति बढ़ भी सकती है। इसी प्रकार 30 से 40 की गति से अंधड़ आने की संभावना जताई।

आज से आंगनवाड़ी केन्द्र बंद, शिविर स्थगित

  • चक्रवात के कारण उदयपुर जिले के समस्त आंगनवाड़ी केन्द्रों पर 16 एवं 17 जून को अवकाश घोषित कर दिया है।
  • उदयपुर जिले के किसी भी अधिकारी कार्मिक को 18 जून तक कोई अवकाश देय नहीं होगा तथा सभी अधिकारी-कर्मचारी अपने मुख्यालय पर उपस्थित रहेंगे।
  • तूफान के मद्देनजर एहतियात के तौर पर जिले भर में 16-17 जून को होने वाले प्रशासन गांव के संग और महंगाई राहत कैम्प स्थगित कर दिए गए है।
  • तेज हवा से उदयपुर जिले के वल्लभनगर तहसील के खेरोदा-अड़िंदा मार्ग पर एक पेड़ गिर गया जिससे वहां मार्ग बाधित हो गया।  बाद में अपने स्तर पर लोगों ने  पेड़ को रास्ते से हटाकर किनारे किया।
  • गुजरात तट से टकराने के बाद तूफान की स्पीड बहुत कम हो गई है। अब यह 12KM प्रतिघंटा की स्पीड से आगे बढ़ रहा है। साइक्लोनिक स्ट्रॉर्म से डीप डिप्रेशन में बदलने के बाद इसकी इंटेंसिटी भी लगातार कम हो रही है। देर शाम या रात तक यह डिप्रेशन के रूप में और कमजोर हो जाएगा।
  • उदयपुर की प्रतापनगर थाना पुलिस ने सवा करोड़ रुपए से अधिक रुपए की हेराफेरी कर गबन करने वाले  आरोपी फर्म मैनेजर को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने  मामले में आगे जांच शुरू कर दी है।

  • बम्बई शेयर बाजार का संवेदी सूचकांक आज 467अंक बढ़कर  63 हजार 385 पर बंद हुआ।  नेशनल स्‍टॉक एक्‍सचेंज का निफ्टी  138 अंक बढ़कर  18 हजार 836 दर्ज हुआ।
    • विदेशी मुद्रा बाजार में रुपया आज 25 पैसे की मजबूती के साथ अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 81 रुपये और 94 पैसे पर बंद हुआ।
    • ।सर्राफा
      उदयपुर में दोनों कीमती धातुओं के भाव इस प्रकार रहे
      सोना 22 कैरेट 1 ग्राम₹  5619  सोना 24 कैरेट 1 ग्राम ₹ 5900
      चांदी 1 किलो बार का भाव रहा ₹₹ 78500
    • मौसम
      • झीलों की नगरी में पिछले 24 घंटों के दौरान  तापमान रहा अधिकतम 29 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम  25 सेल्सियस
      • तो ये थीं अब तक की अपडेट्स हम फिर आएंगे और अपडेट्स लेकर बने रहिए हमारे साथ…

Leave a Reply

Your email address will not be published.