• Sun. Aug 14th, 2022

Udaipur News

Udaipur News Today | Udaipur News Live | उदयपुर न्यूज़ | उदयपुर समाचार

Udaipur Latest News 16 January 2022 उदयपुर की ताजा खबर Udaipur Latest News 16 January 2022 | उदयपुर की ताजा खबर Udaipur Latest News 16 January 2022

Byadmin

Jan 16, 2022
  • हेलो फ्रेंड्स हम हाजिर हैं आज की अपडेटस लेकर…
  • देश में अब तक एक अरब 56 करोड़ 76 लाख से अधिक कोविड-19 रोधी टीके लगाए जा चुके हैं पिछले 24 घंटों के दौरान कोविड के 271000 से अधिक नए मामलों की पुष्टि हुई 318 लोगों की मृत्यु भी हुई ओमी क्रोन के 7743 मामले सामने आए , इस समय देश में 1550000 मरीजों का कौविड इलाज चल रहा है।
  • टीकाकरण अभियान के 1 वर्ष पूरा होने के अवसर पर आज आईसीएमआर और भारत बायोटेक द्वारा विकसित स्वदेशी को वैक्सीन पर डाक टिकट जारी किया गया
  •  दक्षिण अफ्रीका की लॉकडाउन या क्वॉरेंटाइन नियमों को लागू करने की कोई योजना नहीं है इसके साथ ऐसे ही जीने को वह तैयार हैं एक एजेंसी रिपोर्ट में कहा गया कि सरकार ने महामारी पर नजर रखते हुए अधिक व्यावहारिक दृष्टिकोण अपनाने का फैसला किया है सरकार को विश्व भर में लगाई जा रही कोविड-19 पाबंदियों का आंख बंद करके अनुसरण नहीं करना चाहिए उल्लेखनीय है कि दक्षिण अफ्रीका में कोरोना के 3500000 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं इनमें 93278 लोगों की मृत्यु हुई 3360879 मरीजों को छुट्टी दी गई और 102476 मरीजों का उपचार चल रहा है।
  • अगर कोई व्यक्ति को रोना से पीड़ित हो जाता है तो उसे पहले आइसोलेशन में 14 दिन रहना होता था अब यह समय केवल 7 दिन का रह गया है दरअसल सबसे ज्यादा इन्फेक्शन शुरुआती दिनों में ही फैलता है क्योंकि उस समय वायरल लोग थ्रोट में बहुत ज्यादा होता है।
  • फ्रंटलाइन वर्कर्स कोमोरबिडिटी वाले मरीज और 60 वर्ष से अधिक उम्र के बुजुर्ग इन्हें वैक्सीन पहली दी जा रही है उसके बाद 15 से 18 वर्ष की उम्र के किशोरो का नंबर आया ऐसे में छोटी बच्चों को लेकर घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि उन्हें कोरोना होगा भी तो बहुत हल्का होगा उनके फेफड़ों में इतने रिसेप्टर नहीं होते इसलिए विज्ञान ने ऐसा साबित किया है कि अभी तक कोरोना की जितनी लहर आई है बच्चों को यदि कोरोना हुआ भी है तो बहुत खतरे वाली स्थिति नहीं बनती उन्हें सर्दी जुखाम ही होता है और फिर ठीक हो जाता है लेकिन अब बच्चों की वैक्सीन की भी ट्रायल चल रहे हैं और यह वैक्सीन भी जल्द ही आ सकती है।
  • इसके अलावा जो लोग दोनों वैक्सीन खुराक ले चुके हैं उन्हें एंटीबॉडी तो मिली है लेकिन वायरस के अटैक का खतरा हमेशा बना रहता है लेकिन इन एंटीबॉडीज के कारण वायरस के प्रभाव की गंभीरता कम होगी कॉम्प्लिकेशन भी कम होगी यानी वैक्सीनेशन से इन्फेक्शन की गुंजाइश कम रहती है इसलिए वैक्सीन लगवाना बेहतर स्थिति है।
    सीवियरिटी और इनफेक्टिविटी दोनों वैज्ञानिक नाम है जैसे कोई कहे कोबरा ने काटा है या किसी अन्य सांप ने काटा है तो इससे उस काटे की गंभीरता कम नहीं हो जाती यह एक पेडेमिक कंपैरिजन है। हम सब इस वायरस के बारे में रोज कुछ नया सीख रहे हैं पहला वैरीअंट विवो पर प्रभाव करता था हालांकि नए वेरिएंट में फेफड़ों पर इतना प्रभाव नहीं है इसलिए हम उसे माइल्ड कह रहे हैं लेकिन वैज्ञानिकों को भी नहीं मालूम कि long-run में क्या होगा इस पर अनुसंधान जारी है।
  • विशेषज्ञों ने कहा है कि इस बार कोरोना के मरीज हल्की लक्षणों वाले भी हैं जिन्हें होम आइसोलेशन की सलाह दी गई है और इसे 7 दिनों का कर दिया गया है 1 हफ्ते में अगर 3 दिन तक लगातार मरीज को बुखार नहीं आता है तो उसका होम आइसोलेशन खत्म हो जाएगा बिना जांच के मरीज इससे बाहर आ सकता है तीन चीजों पर ध्यान देने की जरूरत है पेशेंस पॉजिटिव सोच और पेरासिटामोल इस बार स्थिति पहले जैसी नहीं है हल्की लक्षण हैं और बिना किसी इलाज के भी अधिकांश मरीज ठीक हो रहे हैं इसलिए धैर्य रखें कोविड-19 के बारे में सुनते ही अक्सर नकारात्मक विचार आ जाते हैं इसलिए योग करें मेडिटेशन करें और इस बार केवल पेरासिटामोल दवा की ही जरूरत है जितने लक्षण हो रहे हैं उसके लिए यह दवा उपयोगी साबित हो रही है होम आइसोलेशन में थर्मामीटर से जांच करते रहे हैं अगर फीवर 100 डिग्री या इसके आसपास है तो पेरासिटामोल की गोली ले सकते हैं और गले में खराश होने पर लेवोसीतिरिजीन दिन में एक बार ले सकती हैं इसके अलावा ऑक्सीजन लेवल 93 परसेंट से कम हो जाए तो तुरंत अस्पताल जाए बुजुर्गों और होमवर्क कोमोरबिडिटी वाले मरीज बेहद ध्यान रखें वही खाने में इस बार स्वाद और गंध जाने के लक्षण नहीं है इसलिए हल्का खाना खाए जो आसानी से पच जाए दलिया खिचड़ी का सेवन ज्यादा करें सलाद ले ज्यादा से ज्यादा लिक्विड ले पानी और जूस ले और किसी तरह की अनदेखी लापरवाही ना करें।
  • इस बीच विश्व बैंक का चौंकाने वाला दावा सामने आया है कि कोरोना संक्रमण का स्कूलों को खोलने या बंद करने से कोई लेना देना नहीं है विश्व बैंक के शिक्षा निदेशक ने कहा कि कोविड-19 के मध्य नजर इस बात का कोई सबूत नहीं है कि स्कूलों को फिर से खोलने से कोरोना के मामलों में वृद्धि हुई है और स्कूल सुरक्षित स्थान नहीं है उन्होंने कहा कि उनकी टीम शिक्षा क्षेत्र पर कोविड-19 के प्रभाव पर नजर रख रही है उन्होंने कहा कि साल 2020 के दौरान हम अज्ञानता के समुद्र में खोज के लिए गोते लगा रहे थे हमें नहीं पता था कि महामारी से निपटने का सबसे अच्छा तरीका क्या है और दुनिया के अधिकांश देशों की तत्काल प्रतिक्रिया स्कूलों को बंद करने की थी तब से और समय बीत चुका है हमारे पास कई लहरें हैं और ऐसे कई देश हैं जिन्होंने स्कूल खोले हैं हालांकि ऐसा कोई देश नहीं है जिसने बच्चों के टीकाकरण के बाद ही स्कूलों को फिर से खोलने की शर्त रखी हो यानी सार्वजनिक नीति के नजरिए से इसका कोई मतलब नहीं है नए डाटा के अनुसार स्कूलों के खुलने से वायरस के संचरण में प्रभाव पड़ता है ऐसा नहीं है बच्चों के लिए संक्रमण का जोखिम कम है जबकि स्कूल बंद रहने से नुकसान ज्यादा है, लर्निंग क्राइसिस अनुमान से कहीं अधिक बढ़ने की संभावना है।
  • प्रदेश में   बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए जन अनुशासन कर्फ्यू लगाया गया इस दौरान आवश्यक सेवाओं के अलावा दूध फल सब्जी खाद्य पदार्थों की दुकानों की छोड़कर अन्य प्रतिष्ठान बंद रहे।शनिवार की रात 11:00 बजे से वीकेंड कर्फ्यू लागू हो गया यह सोमवार सुबह 5:00 बजे तक जारी रहेगा तीसरी लहर में थह पहला वीकेंड कर्फ्यू है जिसमें इमरजेंसी सेवाओं को छोड़कर सब कुछ बंद रहा पेट्रोल पंप खुले रहे और छूट वाली कैटेगरी के अलावा सभी दुकानें बाजार बंद रहे पुलिस ने बिना काम घूमने वालों के खिलाफ पुलिस महामारी एक्ट में कार्रवाई करने की हिदायत देते हुए घर पर ही रहने, कोरोना नियमों के पालन की सलाह दी और सहयोग करने की अपील भी की गई।
  • उदयपुर में वीकेंड कर्फ्यू के चलते 44 नाको पर 800 से ज्यादा पुलिसकर्मी तैनात रहे और हर बड़े चौराहे पर विशेष शक्ति भरत ते हुए दिखे हालांकि इमरजेंसी सेवाओं को छूट दी गई सभी थानों के पुलिसकर्मी अपने-अपने क्षेत्रों में अलर्ट दिखे सभी बाजार बंद रहे व्यापारी भी प्रशासन का सहयोग करते दिखे वही बस स्टैंड और रेलवे स्टेशन पर भी यात्रियों की संख्या कम रही।
  • उदयपुर की एक गर्ल्स हॉस्टल में 200 बालिकाओं के बीमार होने की खबर है तबीयत खराब होने के बाद 44 बालिकाओं को उनके अभिभावक घर ले गए शहर के ढिकली गांव में जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग की ओर से संचालित रेजिडेंशियल आवासीय स्कूल में पढ़ने वाली 197 बालिकाओं में से अधिकतर खांसी जुकाम और बुखार से ग्रसित है वही स्कूल की प्रिंसिपल कोरोना पॉजिटिव इन्होंने स्वास्थ्य विभाग को पूरे मामले की लिखित में जानकारी दी और वे फिलहाल अपने क्वार्टर पर आइसोलेट हैं लेकिन स्वास्थ्य विभाग की कोई टीम हॉस्टल नहीं पहुंची है।
  • प्रदेश में आज कोविड-19 के 9669 नए केस दर्ज हुए
  • इधर जिले में आज 734 नए कोरोना पॉजिटिव सामने आए और तीसरे दिन भी इससे एक मृत्यु हुई उन्हें हाइपरटेंशन और सीवीए की समस्या भी थी । यहां एक्टिव केस की संख्या अब 3668 हो गई है इनमें से 3608 रोगी होम आइसोलेशन में है और 60 रोगी अस्पताल में भर्ती है।
  • मनोरंजन जगत से…
  • मुंबई के अस्पताल के आईसीयू में भर्ती लता मंगेशकर की सेहत में सुधार हो रहा है 92 वर्षीय लता मंगेशकर को कोरोना से संक्रमित हैं और उन्हें हल के लक्षण महसूस हो गए उनका इलाज चल रहा है परिजनो ने परिवार की निजता का सम्मान करने का अनुरोध किया है।
  • अभिनेता सिद्धार्थ मल्होत्रा का आज जन्मदिन है एक विलेन शेरशाह जैसी बेहतरीन फिल्मों में नजर आ चुके सिद्धार्थ ने मॉडलिंग से अपने करियर की शुरुआत की थी।
  • हिंदी सिनेमा के मशहूर संगीतकारों में से एक ओपी नैयर का आज जन्मदिन है 50 के दशक में 25- 26 वर्ष की उम्र में ओ पी नैयर मुंबई में अपनी किस्मत आजमा रहे थे तब उन्हें ना संगीत का ज्यादा अनुभव था ना ही उनके पास ज्यादा काम था उन्हें एक्टिंग का भी शौक था अपने स्क्रीन टेस्ट में हालांकि वे फेल हो गए थे उसके बाद संगीतकार बनने का सफर शुरू हुआ और वे इसमे बड़े मुकाम तक पहुंचे हालांकि इस सफर मे मशहूर गायिका लता मंगेशकर और ओ पी नैयर ने कभी एक दूसरे के साथ काम नहीं किया इसके बावजूद दोनों बुलंदी तक पहुंचे नैयर की धुनो से सजे कई गानों पर आज भी पांव थिरक उठते हैं। 60 और 70 के दशक में उन्होंने फिल्म इंडस्ट्री को कई हिट गीत दिए साल 2007 में वे इस दुनिया को अलविदा कह गए।
  • लक्ष्य सेन सात्विक चिराग ने अपना पहला इंडिया ओपन खिताब जीतकर इतिहास रच दिया है।
  • मौसम
    मौसम विभाग ने उत्तर भारत में अगले 2 दिन भीषण सर्दी की संभावना व्यक्त की है पश्चिम उत्तर प्रदेश मध्य प्रदेश और राजस्थान में अगले 2 दिन कड़ाके की ठंड रहेगी।
  • कड़ाके की ठंड से जनजीवन रुक सा गया रविवार और वीकेंड कर्फ्यू होने के चलते लोग घरों में ही रहे ।पिछले 24 घंटों के दौरान शहर का तापमान रहा अधिकतम 20 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम 6 डिग्री सेल्सियस
  • तो यह थी अब तक की अपडेट्स हम फिर आएंगे और अपडेट्स लेकर बने रहिए हमारे साथ..

Leave a Reply

Your email address will not be published.