• Sun. Jul 14th, 2024

Udaipur News

Udaipur News Today | Udaipur News Live | उदयपुर न्यूज़ | उदयपुर समाचार

Udaipur Latest News 17 October 2023 उदयपुर की ताजा खबर Udaipur latest News 17 October 2023 उदयपुर की ताजा खबर Udaipur Latest News 17 October 2023 उदयपुर की ताजा खबर

Byadmin

Oct 17, 2023
  1. हेलो फ्रेंड्स हम हाजिर हैं आज की अपडेट्स लेकर…..
  2. राष्‍ट्रपति ने आज नई दिल्‍ली में 69वें राष्‍ट्रीय फिल्‍म पुरस्‍कार प्रदान किए। उन्‍होंने लीक से हटकर फिल्‍में बनाने वालों की सराहना की। राष्‍ट्रपति ने कहा कि सिनेमा समाज का दर्पण होने के साथ-साथ उसे सुधारने का माध्‍यम भी है तथा सभी कलाकार इस बदलाव के वाहक है। उन्‍होंने कहा कि प्रतिष्ठित अभिनेत्री वहीदा रहमान को दादा साहेब फाल्‍के पुरस्‍कार से सम्‍मानित कर उन्‍हें बहुत प्रसन्‍नता हुई। उन्‍होंने कहा कि सुश्री वहीदा रहमान अपनी कला और व्‍यक्तित्‍व से फिल्‍म उद्योग के शिखर तक पहुंची हैं।दादा साहेब फाल्‍के पुरस्‍कार प्राप्‍त करने पर वहीदा रहमान ने कहा कि वह बहुत सम्‍मानित महसूस कर रही है। उन्‍होंने कहा कि यह फिल्‍म उद्योग में सभी के समर्थन से संभव हुआ है और वे यह पुरस्‍कार उन्‍हें स‍मर्पित करती हैं।
  3. निखिल महाजन को मराठी फिल्‍म गोदावरी के लिए सर्वश्रेष्‍ठ निर्देशक का राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार दिया गया। अल्‍लू अर्जुन को फिल्‍म पुष्पा के लिए सर्वश्रेष्‍ठ अभिनेता का पुरस्‍कार दिया गया। आलिया भट्ट को गंगूबाई काठियावाडी और कृति सेनन को मिमि के लिए संयुक्‍त रूप से सर्वश्रेष्‍ठ अभिनेत्री का पुरस्‍कार दिया गया। आर. माधवन द्वारा निर्देशित रॉकेट्रीद नाम्बी इफेक्ट को सर्वश्रेष्‍ठ फीचर फिल्‍म पुरस्‍कार दिया गया। पल्‍लवी जोशी को  कश्मीर फाइल्स के लिए सर्वश्रेष्‍ठ सहायक अभिनेत्री और पंकज त्रिपाठी को मिमि के लिए सर्वश्रेष्‍ठ सहायक अभिनेता का राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार प्रदान किया गया। फिल्‍म आर.आर.आर को संपूर्ण मनोरंजन करने वाली सर्वश्रेष्‍ठ लोकप्रिय फिल्‍म और विवेक अग्निहोत्री के निर्देशन में बनी द कश्मीर फाइल्स को राष्‍ट्रीय एकता पर सर्वश्रेष्‍ठ फिल्‍म के लिए नर्गिस दत्‍त पुरस्‍कार दिया गया।  सृष्टि लखेरा के निर्देशन में बनी एक था गांव को सर्वश्रेष्‍ठ गैर-फीचर फिल्‍म का पुरस्‍कार प्रदान किया गया। श्रेया गोशाल को फिल्‍म इरावन निजहाल के गीत मायावाचायवा के लिए सर्वश्रेष्‍ठ महिला पार्श्‍व गायक और काल भैरव को फिल्‍म आर.आर.आर के गीत कोमुरम भीमडु के लिए सर्वश्रेष्‍ठ पुरूष पार्श्‍व गायक का पुरस्‍कार मिला।प्रेम रक्षित को आर.आर.आर. के लिए सर्वश्रेष्‍ठ कॉरियोग्राफी का पुरस्‍कार दिया गया। देवी श्री प्रसाद को पुष्‍पा के लिए तथा एम.एम कीरावाणी को आर.आर.आर के लिए सर्वश्रेष्‍ठ संगीत निर्देशक का पुरस्‍कार प्रदान किया गया। शुजीत सरकार की सरदार उधम सिंह को सर्वश्रेष्‍ठ हिन्‍दी फिल्‍म का सर्वश्रेष्‍ठ पुरस्‍कार दिया गया। इस फिल्‍म को सर्वश्रेष्‍ठ छायांकन, प्रोडक्‍शन डिजाइन और कॉस्‍टूयम डिजाइन की श्रेणी में भी पुरस्‍कार मिला। भाविन रबारी को गुजराती फिल्‍म छेलो शो के लिए सर्वश्रेष्‍ठ बाल कलाकार का पुरस्‍कार मिला।मराठी फिल्‍म ‘गोदावरी’ के लिए निखिल महाजन को सर्वश्रेष्‍ठ निर्देशक का राष्‍ट्रीय फिल्‍म पुरस्‍कार मिलेगा। फिल्‍म ‘इरवीन निझाल’ के गीत ‘मायावा – छायावा’ के लिए श्रेया घोषाल को सर्वश्रेष्‍ठ पार्श्‍व गायिका का पुरस्‍कार प्रदान किया जाएगा।
  4. ऑपरेशन अजेय के अंतर्गत 286 और यात्री इजरायल से भारत वापस आ रहे हैं।  उड़ान में 18 नेपाली नागरिक भी हैं।
  5. देशमें नवरात्रि का पर्व धूमधाम के साथ मनाया जा रहा है।  विभिन्न स्थानों में पंडाल सजाए गए हैं और देवी दुर्गा के मंदिरों में हर दिन बड़ी संख्या में श्रद्धालु दर्शन के लिए पहुंच रहे हैं। नवरात्रि पर मंदिरों को विशेष तरीके से सजाया गया है।  मंदिरों में नवरात्रि पर विशेष अनुष्ठान किए जा रहे हैं। नवरात्रि के नौ दिनों तक राज्य में मां आदिशक्ति के नौ स्वरूपों की पूजा की धूम रहती है।
  6. राजस्थान विधानसभा आम चुनाव को शांतिपूर्वक सम्पन्न करवाने के लिए चुनाव तिथि से दो दिन पूर्व शराब की ब्रिक्री नहीं होगी. निर्वाचन आयोग द्वारा घोषित कार्यक्रम के अनुसार मतदान दिवस से दो दिन पहले शराब की दुकानें बंद हो जाएंगी. यानी 23 नवंबर की शाम से प्रदेश में शराब की ब्रिकी नहीं होगी.इस संबंध में वित्त (आबकारी) विभाग की ओर से जारी आदेश के अनुसार 23 नवम्बर 2023 की शाम से 25 नवम्बर 2023 को मतदान समाप्ति तक राज्य में सूखा दिवस (ड्राई डे) रहेगा. पुनर्मतदान की स्थिति में भी पुनर्मतदान की घोषणा से पुनर्मतदान की समाप्ति तक संबंधित मतदान केंद्रों के क्षेत्रों में मादक पदार्थ के विक्रय एवं वितरण पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा.
  7. इस सीजन में अधिक शादियां होने की उम्मीद है। नक्षत्रों की गणना के अनुसार नवंबर में विवाह की तिथियां 23,24,27,28,29 हैं, जबकि दिसंबर माह में विवाह के लिए 3, 4, 7, 8, 9 और 15 तारीखें शुभ बताई गई हैं। उसके बाद, तारा एक महीने के लिए मध्य जनवरी तक डूब जाता है, फिर मध्य जनवरी से शुभ दिन शुरू हो जाएंगे।शादी के सीजन का अगला चरण जनवरी के मध्य से शुरू होगा और जुलाई तक जारी रहेगा। शादी के सीजन में कारोबार की अच्छी संभावनाओं को देखते हुए देशभर के व्यापारियों ने व्यापक तैयारियां की हैं। ग्राहकों की संभावित भीड़ के मद्देनजर, व्यापारी अपने यहां सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त रख रहे हैं।
  8. प्रत्येक विवाह का लगभग 20 प्रतिशत खर्च दूल्हा-दुल्हन पक्ष को जाता है। करीब 80 प्रतिशत खर्च विवाह संपन्न कराने में काम करने वाली अन्य तीसरी एजेंसियों को जाता है।  शादी के सीजन से पहले घरों की मरम्मत और घरों की रंगाई-पुताई का कारोबार बड़ी मात्रा में होता है।इसके अलावा आभूषण, साड़ी, लहंगा-चूनी, फर्नीचर व रेडीमेड कपड़े आदि का कारोबार होता है। जूते, शादी के ग्रीटिंग कार्ड ,सूखे मेवे, मिठाइयां, फल, पूजा सामग्री, किराना, खाद्यान्न, सजावट का सामान, घर की सजावट का सामान, विद्युत उपयोगिता, इलेक्ट्रॉनिक्स और कई उपहार आइटम आदि की आमतौर पर मांग रहती है। इस साल इन सेक्टर के अलावा अन्य व्यापार में भी अच्छा कारोबार होने की उम्मीद है।
    राजस्थान लोक सेवा आयोग द्वारा 1 जनवरी 2024 से सूचना का अधिकार अधिनियम 2005 के तहत प्राप्त होने वाले प्रार्थना-पत्र मात्र ऑनलाइन माध्यम से ही लिए जाएंगे। इस तिथि से आरटीआई के तहत ऑफलाइन प्रार्थना-पत्र लेने की व्यवस्था बंद कर दी जाएगी एवं ऑफलाइन प्राप्त होने वाले आरटीआई प्रार्थना-पत्रों पर कार्यवाही किया जाना संभव नहीं होगा।  आयोग द्वारा ऑनलाइन प्रक्रिया से आरटीआई प्रार्थना-पत्र प्राप्त करने से उनके जवाब देने संबंधी कार्यवाही भी त्वरित गति से हो सकेगी। उल्लेखनीय है कि आयोग को वर्तमान में प्राप्त होने वाले आरटीआई प्रार्थना-पत्रों में से दो तिहाई प्रार्थना-पत्र ऑनलाइन प्रणाली से ही प्राप्त हो रहे हैं।
    उदयपुर में सोमवार को स्वरूप सागर झील में नहाने गए दोस्तों में से एक युवक गहरे पानी में चला गया। इसके बाद डूबने से उसकी मौत हो गई। देर शाम तक रेस्क्यू टीम ने तलाश की लेकिन उसका शव नहीं मिला। आज टीम ने सवेरे वापस रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया तो 9 बजकर 5 मिनट पर युवक का शव मिला।
  9.  मादड़ी रोड और हिरणमगरी सेक्टर 3 को जोडऩे वाली पुलिया तोड़कर नया पुल बनाया जा रहा है। इसको लेकर  मार्ग अवरुद्ध करते हुए पुलिया  का काम शुरू कर दिया गया। ऐसे में अब मादड़ी से नदी पार हिरणमगरी जाने के लिए दो किलोमीटर का चक्कर लगाना पड़ेगा। यहां फोरलेन पुलिया बनाई जा रही है, लेकिन महज 20 साल पहले बने पुल को तोडऩे पर लोगों ने धन की बर्बादी भी कहा है। आयड़ नदी मादड़ी और हिरणमगरी को दो हिस्सों में बांटती है। दोनों क्षेत्रों को जोड़ते हुए वर्ष 2004-05 में एफसीआइ गोदाम के सामने पुलिया बनाई गई थी। हिरणमगरी सेक्टर 3, 4 व 5 आवासीय कॉलोनी से मादडी इण्डस्ट्रीज एरिया का जुड़ाव हुआ। ऐसे में दोनों क्षेत्रों से हजारों लोगों की आवाजाही इस पुल से होती है।

    इस कार्य के लिए 9.84 करोड़ रुपए स्वीकृत किए गए। सितम्बर में कार्यादेश जारी किया जा चुका था। नदी पेटे में काम 15 दिन पहले शुरू कर दिया गया था। अब फोरलेन ब्रिज निर्माण का काम पूर्ण होने तक यातायात बंद रहेगा। अधिक आवाजाही की स्थिति में पुल छोटा पड़ने लगा था।ब्रिज के दक्षिण की तरफ हिरण मगरी उपनगरीय क्षेत्र है, जहां घनी आबादी है और उत्तर की तरफ मादड़ी इण्डस्ट्रीयल एरिया के साथ ही राणाप्रताप रेलवे स्टेशन है। ऐसे में लोगों की आवाजाही का अहम जरिया यह पुल रहा है। आयड़ नदी के उत्तर की तरफ व पुल के आगे कानपुर, कलहड़वास, भोइयों की पचोली, डांगियों की पंचोली, मटून गांव के लोगों की हिरण मगरी क्षेत्र में आवाजाही भी इस पुल से सुगम मानी जाती रही है।

    त्योहार शुरू होने के साथ ही ट्रेनों में वेटिंग बढ़ने लगी है। उदयपुर से चलने वाली अधिकतर ट्रेनों में नवंबर अंत और दिसंबर शुरुआत तक की वेटिंग आ रही है। ऐसे में अब यात्रा का प्लान बनाने वाले लोगों को टिकट कन्फर्म होने का इंतजार करना पड़ेगा। प्रतिदिन चलने वाली ट्रेनों की अपेक्षा सप्ताह में 3 दिन और 1 दिन चलने वाली ट्रेनों में अधिक मारामारी हो रही है। उदयपुर से प्रतिदिन करीब 25 रेलगाड़ियों का आवागमन होता है। यहां अन्य प्रदेशों के लोग रोजगाररत हैं। ऐसे में त्योहारों पर घर जाने की तैयारी पहले से ही की जाने लगी है। इसी के चलते रेलों में टिकट भी बुक करवा दिए गए हैं। आने वाले समय में लगातार त्योहार आएंगे। इसका असर टिकट की बुकिंग में भी दिखाई दे रहा है।नवरात्र से ही त्योहारों का सीजन शुरू हो जाता है। इसके बाद दशहरा के 20 दिन बाद दीपावली का पर्व मनाया जाएगा। इसके साथ ही पर्यटन सीजन भी शुरू हो जाता है। ऐसे में लोगों ने घूमने का प्लान भी तैयार कर लिया है। दिसंबर में सर्दियों की छुट्टियां होने से आसपास घूमने का प्लान अधिक बनता है।

    पेंशनधारकों को हर साल 1 अक्टूबर से 30 नवंबर के बीच जीवित प्रमाण पत्र जमा करना अनिवार्य है ताकि पेंशन की प्राप्ति जारी रह सके। 80 साल की उम्र से ज्‍यादा वाले पेंशनर्स के ल‍िए यह समय सीमा 1 अक्‍टूबर से शुरू हो चुकी है। वहीं, 60 से 80 साल तक के पेंशनभोग‍ियों को यह काम 1 से 30 नवंबर के बीच करना है। ऐसे में इस सत्यापन के लिए बुजुर्ग पेंशनधारियों को जो चलने में असमर्थ हैं उन्हें कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ता है इस समस्या का निदान करते हुए सरकार ने नई व्यवस्था शुरू करने की पहल की है। भारत के सभी राज्यों एवं केंद्र के सभी पेंशनधारियों के लिए नई सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है।डाक विभाग ने पेंशनधारकों के लिए डिजिटल जीवित प्रमाण पत्र जमा करने की डोरस्टेप सेवा की शुरुआत की है। यह सेवा विशेष रूप से बुजुर्ग और दिव्यांग पेंशनधारकों के लिए फायदेमंद है। बीमार और चलने-फिरने में असमर्थ पेंशनधारक अपने घर पर डाकिए को बुलाकर आसानी से इसे जमा कर सकते है।डाक विभाग ने इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक  और इलेक्ट्रानिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के साथ मिलकर डाकिए के माध्यम से डिजिटल जीवन प्रमाण पत्र जमा करने के लिए डोरस्टेप सेवा शुरू की है । इसके लिए शहरी और ग्रामीण डाक सेवकों के राष्ट्रीय नेटवर्क का इस्तेमाल किया जा रहा है। पेंशनधारक द्वारा अनुरोध किए जाने के तुरंत बाद निकटतम डाकघर का डाकिया पेंशनभोगी के घर आएगा और डिजिटल जीवन प्रमाणपत्र जारी करने की प्रक्रिया को पूरा करेगा। यह सुविधा बुजुर्ग और दिव्यांग पेंशनधारकों के लिए लाभकारी साबित हो रही है।ऑनलाइन अनुरोध के लिए पेंशनधारक IPPB की वेबसाइट पर जा सकते हैं। इसके अलावा मोबाइल एप के जरिए इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए पेंशनभोगी को PostInfo App डाउनलोड करना होगा। पेंशनभोगी को आधार नंबर, मोबाईल नंबर, बैंक या डाकघर खाता संख्या और पीपीओ नंबर देना होगा।

    अनुरोध की प्रक्रिया

    • इंडियन पोस्ट पेमेंट्स की वेबसाइट (https://ippbonline.com) पर जाएं। होमपेज पर सर्विसेज टेब के तहत डिजिटल लाइफ सर्टिफिकेट लिंक पर क्लिक करे।
    • नए पेज पर सभी दिशा-निर्देशो को अच्छी तरह पढ़ ले । फिर about DLC services सेक्शन में दिए क्लिक हियर ‘लिंक’ पर क्लिक करे। इससे अनुरोध वाला वेबपेज खुल जाएगा ।
    • यहा नाम, पता, पिनकोड, ई-मेल पता, मोबाइल नंबर दर्ज करे और सिलेक्ट सर्विस कॉलम में जीवन प्रमाणपत्र का चयन करे। फिर ओटीपी रीक्वेस्ट बटन पर क्लिक करे । मोबाइल नंबर पर आए ओटीपी  को दर्ज करे।
    • आपका पंजीकरण हो जाएगा और निकटतम डाकघर द्वारा डाकिए के आने की तिथि और समय के बारे में सूचित किया जाएगा ।
    • डाकिया घर आकर डिजिटल जीवन प्रमाणपत्र बनाने की प्रक्रिया पूरी करेगा। एक बार प्रमाण आईडी बन जाने के बाद पेंशनभोगी  (https://jeevanpramaan.gov.in/ppouser/login) लिंक के माध्यम से इसे डाउनलोड कर सकेंगे।   केंद्र या राज्य सरकार, कर्मचारी भविष्य निधि संगठन या किसी अन्य सरकारी संगठन के पेंशन भोगी इस सेवा का लाभ उठा सकते है। जिस बैंक या संस्था के जरिए पेंशन जारी की जाती है, उसके पास डिजिटल जीवन प्रमाणपत्र जमा करने की सुविधा सक्रिय होनी चाहिए। इसके अलावा यह सेवा आईपीपीबी और गैर आईपीपीबी ग्राहकों के लिए भी उपलब्ध है। इस सुविधा के लिए पेंशनधारक को 70 रुपए का भुगतान करना होगा ।
  10.  बंबई शेयर बाजार का संवेदी सूचकांक आज 261 बढ़कर 66 हजार चार सौ 28 पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 85 अंक चढ़कर 19 हजार आठ सौ 17 पर पहुंच गया।
  11. उदयपुर में दोनों कीमती धातुओं के भाव इस प्रकार रहे
    सोना 22 कैरेट 1 ग्राम₹  5599 सोना 24 कैरेट 1 ग्राम ₹ 5879
    चांदी 1 किलो बार का भाव रहा ₹₹ 77500
  12. मौसम
  13. कश्‍मीर घाटी में ऊंचे पर्वतीय क्षेत्रों में फिर से हिमपात हुआ है, जबकि तराई इलाकों में पिछले 24 घंटों से लगातार वर्षा हो रही है।निरंतर वर्षा के कारण कश्‍मीर क्षेत्र के तापमान में गिरावट आई है। साथ ही यातायात भी बाधित हुआ है। तापमान में गिरावट के कारण कश्‍मीर में लोगों को गर्म कपड़ों और सर्दी से बचने के अन्य तमाम उपाय करने पड़ रहे हैं।भूस्‍खलन और खराब मौसम के कारण श्रीनगर, जम्‍मू राष्‍ट्रीय राजमार्ग को यातायात के लिए बंद कर देना पड़ा। हिमपात को देखते हुए कश्‍मीर घाटी को शोपियां और किश्‍तवाड़-कोकरनाग होते हुए राजौरी-पुंछ से जोड़ने वाले ऐतिहासिक मुग़ल रोड पर भी गाड़ियों की आवाजाही बंद कर दी गई। प्रशासन ने एहतियात के तौर पर बांदीपुरा-गुरेज सड़क-मार्ग पर भी गाड़ियों का अवागमन रोक दिया।
  14. कश्‍मीर में गुलमर्ग के अफरवात, सिंथनटॉप, पीर की गली और बांदीपुरा में गुरेज सहित ऊंचे क्षेत्रों में फिर से बर्फबारी हुई है।इस बीच स्‍थानीय मौसम विभाग ने कश्‍मीर घाटी में आज वर्षा का पूर्वानुमान व्‍यक्‍त किया है। घाटी में बुधवार से मौसम में सुधार हो सकता है।
  15. देश के अलग-अलग हिस्सों में सोमवार से मौसम  में बदलाव देखा गया है. कई राज्यों में बारिश हुई. कहीं जगहों पर बारिश ) के साथ ओले भी पड़े. बारिश की गतिविधियों के बाद तापमान में गिरावट  दर्ज की गई. तेज हवाएं चलने से ठंड का अहसास भी होने लगा. मौसम विभाग   के मुताबिक, उत्तर पश्चिम भारत में अगले तीन दिन तक बारिश की गतिविधियां देखने को मिल सकती है.
  16. कश्मीर के ऊपरी इलाकों में सोमवार को हल्की बर्फबारी और मैदानी इलाकों में बारिश हुई, जिसके बाद माना जा रहा है कि समय से पहले ही सर्दी ने दस्तक दे दी है. बर्फबारी और बारिश के कारण तापमान में कमी आ गई. लोगों ने गर्म कपड़े पहनना शुरू कर दिया है. मौसम में यह बदलाव 14 अक्टूबर से देखा जा रहा है जब कई जगहों पर रुक-रुक कर बारिश हुई, ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी हुई, जबकि कुछ जगहों पर गरज के साथ तेज हवा चली. सोमवार को सुबह शुरू हुआ यह सिलसिला मंगलवार को भी जारी रहने के आसार हैं.
  17. मानसून की विदाई के बाद अक्टूबर का पहला पखवाड़ा बीत चुका। इन 15 दिनों में अधिकतम पारा 33 डिग्री से 35 डिग्री के बीच बना रहा। दूसरी ओर न्यूनतम तापमान में 6 डिग्री का उतार-चढ़ा रहा। मौसम की यह चाल सर्दी-जुकाम, खांसी के साथ वायरल की शिकायतें बढ़ रही है। बीते पखवाड़े में रात का पारा मौसम विभाग के दावों को भी चौंकाता-झुठलाता रहा।
  18. उदयपुर में  पिछले 24 घंटों के दौरान  तापमान रहा अधिकतम 30 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम  18  सेल्सियस
  19. तो ये थीं अब तक की अपडेट्स हम फिर आएंगे और अपडेट्स लेकर बने रहिए हमारे साथ…

Leave a Reply

Your email address will not be published.