• Wed. Aug 10th, 2022

Udaipur News

Udaipur News Today | Udaipur News Live | उदयपुर न्यूज़ | उदयपुर समाचार

Udaipur Latest News 30 April 2021| उ द य पु र की ता जा ख ब र News 30 April 2021 | उदयपुर की ता जा ख ब र News 30 April 2021

Byadmin

Apr 30, 2021
  • हेलो फ्रेंड्स हम हाजिर हैं आज की अपडेट्स लेकर…
  • देश में कोविड-19 के मद्देनजर नियमित अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंध 31 मई तक बढ़ा दिया गया है।
  • आज दिग्गज अभिनेता ऋषि कपूर के निधन को 1 साल पूरा हो गया है
  • केंद्र सरकार ने देशव्यापी लॉकडाउन की संभावना से इनकार किया है वही सभी राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों को कहा गया है कि स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी किए गए कंटेंटमेंट मेजर्स को गंभीरता से लागू करें
  • सुप्रीम कोर्ट ने कोरोना संक्रमण की स्थिति ऑक्सीजन और वैक्सीनेशन को लेकर संज्ञान लिया है कोर्ट ने कहा है कि सोशल मीडिया पर शिकायत की सूचनाओं पर कार्रवाई नहीं होनी चाहिए और यह पूर्वाग्रह नहीं होना चाहिए कि शिकायतें गलत है।
  • क्वेरी
    कुछ दिन से संक्रमित होने और हल के लक्षण जैसे बुखार सर्दी जुकाम और गला खराब है तो क्या करे?
  • विशेषज्ञ बताते हैं अगर आपको बहुत कम सिम्टम्स है तो भी आप को वैसे ही रहना है कि जैसे पॉजिटिव है और आइसोलेट रहना है दूसरों से इंटरेकट नहीं करें ऑफिस भी ना जाए क्योंकि कम लक्षण होने पर भी आप अन्य को बीमारी फैला सकते हैं इसलिए एहतियात बरतें और एक-दो दिन में यह ठीक ना हो तो टेस्ट करवा ले और यह सब करते हुए मास्क पहले रखना है दूरी बनाए रखनी है और स्वच्छता का पूरा ध्यान रखें,
  • मैंने वैक्सीन की पहली खुराक ले ली है लेकिन 1 सप्ताह के बाद ही कोरोना के लक्षण दिखने लगे हैं क्या अब निर्धारित समय पर ही मुझे दूसरी खुराक लेनी चाहिए?
    विशेषज्ञ कहते हैं अगर आपने पहली खुराक ले ली है और लक्षण दिख रहे हैं तो डॉक्टर को दिखाइए आपको अगर टेस्ट करवाने के लिए कहा जाए और वह पॉजिटिव आए तो जब तक आप स्वस्थ ना हो जाए दूसरी खुराक ना लें स्वस्थ होने के 4 से 6 सप्ताह के बाद आप दूसरी खुराक ले सकते हैं।
  • अगर मैं संक्रमित हूं और कोई लक्षण नहीं है तो मुझे क्या करना चाहिए?
    जानकार कहते हैं कि आप कोविड प्रोटोकॉल का पूरा पालन करें।
  • घर में रहते हुए ऑक्सीजन की मात्रा कैसे बढ़ाई जा सकती है? प्रोनिंग विधि कब और कैसे करनी चाहिए?
    विशेषज्ञ कहते हैं इसके लिए लंबी लंबी सांसे अंदर रोककर जैसे अनुलोम विलोम करते हैं वैसे कर सकते हैं अगर आकसीजन की कमी है तो आप अपने पेट छाती के बल लेटकर गहरी गहरी सांस ले सकते हैं यह आप कम से कम 12 से 14 घंटे 1 दिन में करें इससे आपके फेफड़ों के उन हिस्सों में भी ऑक्सीजन चली जाती है जहां नहीं जा पा रही होती है इससे आपके शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा बढ़ जाती है।
  • होम आइसोलेशन या अस्पताल हमें कब और किस स्थिति में जाना चाहिए?
    विशेषज्ञ कहते हैं होम आइसोलेशन का मतलब है आपके घर में इतनी जगह है कि आपको कुछ संक्रमण हो गया है तो आप अलग कमरे में रह सके आप तब तक उसी कमरे में रहे जब तक आप पूरी तरह ठीक नहीं हो जाते होम आइसोलेशन में तब रहते हैं जब आपको केवल हल के लक्षण जैसे बुखार या बदन दर्द है अगर स्थिति थोड़ी भी बढ़ जाती है जैसे सांस लेने में तकलीफ पल्स बढ़ना तो आपको अस्पताल जाना चाहिए और डॉक्टर को दिखाना चाहिए।
  • टीका लेने के कितने अंतराल के बाद वायरस से सुरक्षा मिलती है?
    विशेषज्ञ बताते हैं टीका लगवाने के 2 से 3 हफ्ते बाद आपके शरीर के अंदर एंटीबॉडी बन जाती है यह आपके शरीर को वायरस से बचाने की क्षमता रखती है।
  • हर रोज देश में 300000 से अधिक मामले इन दिनों दर्ज की गई जा रहे हैं लोग बड़ी बेचैनी से परिजनों तक मदद पहुंचाने के लिए सहायता की गुहार कर रहे हैं जरूरी उत्पादों की मांग इस समय सप्लाई से बहुत ज्यादा हो गई है वहीं मरीजों के पास इंतजार के लिए वक्त नहीं है इस बीच कई सारी सूचनाएं सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है लेकिन वह जल्दी ही पुरानी भी वह जा रही है इस बात को लेकर लोगों को जानना चाहिए।
  • आज संक्रमितो की संख्या 386452 हो गई आने वाले दिनों में हमारी कोशिश होनी चाहिए कि यह संख्या कम हो ।इस समय लगभग 1 . 2 लाख मरीजों को आईसीयू की जरूरत है इस हिसाब से ऑक्सीजन की जरूरत भी है। अस्पतालों पर दबाव बहुत बड़ा हुआ है कई जगह निजी मदद भी हो रही है ।साल 2020 के देश में कोरोना की पहली लहर के बाद दूसरी लहर की मांगों को पूरा करने के लिए सुविधाओं के बहुत बड़े विस्तार की जरूरत है और यह वक्त निकल रहा है। इस बीच लोगों को तुरंत इलाज की जरूरत पड़ने से लोग बदहवा सी में तरह-तरह के नुस्खे आजमा रहे हैं और नेट और सोशल मीडिया पर भ्रामक जानकारी फैलाकर कई लोग अन्य को बेहद खतरनाक तरीके से गुमराह कर रहे हैं। इनमें से एक है नेबुलाइजर से ऑक्सीजन स्तर बढाना जबकि नेबुलाइजर एक ऐसी मशीन होती है जिसके जरिए मरीज सांस खींचकर दवा अपने शरीर में पहुंचाते हैं दवा स्प्रे में तब्दील हो जाती है और मरीज इस से सास खींचकर अंदर लेते हैं इस तरह यह फेक पोस्ट वायरल हो रही थी वही सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर इन दिनों कोविड-19 का इलाज सुझाते और शरीर में गिरते ऑक्सीजन लेवल को बढ़ाने के तरीके बताते घरेलू नुस्खों की बाढ़ आई हुई है इनमें से एक में कहा जा रहा है कि कपूर अजवाइन और यूकेलिप्टस के तेल का मिश्रण कोविड-19 के मरीजों में ऑक्सीजन स्तर बढ़ाने में कारगर है जबकि इसके कोई प्रमाण नहीं है और हकीकत यह है कि आमतौर पर स्किन क्रीम और मलहम के तौर पर इस्तेमाल होने वाले कपूर को अगर शरीर के अंदर लिया जाए तो यह घातक हो सकता है या शरीर में जाकर इसका भाव विषाक्त हो सकता है। इसके साथ ही एक और पोस्ट में दावा किया गया है कि नाक में दो बूंद नींबू का रस डालने से शरीर में ऑक्सीजन स्तर बढ़ जाता है लेकिन इस नुस्खे का भी कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है। वही लोकप्रिय योग गुरु ऑक्सीजन लेवल बढ़ाने के तरीके बताते दिख रहे हैं इसमें वह सांस संबंधी कुछ व्यायाम करके दिखाते हैं फिर कहते हैं ऑक्सीजन को नीचे जाने में 20 सेकंड लगेगा दो बार गहरी सांस लीजिए आपके खुन में ऑक्सीजन खुद आ जाएगी क्योंकि वातावरण में पर्याप्त ऑक्सीजन है। आमतौर पर योग करना अच्छा है लेकिन डब्ल्यूएचओ का कहना है कि जब कोविड-19 जैसे किसी स्वास्थ्य कारण से शरीर में ऑक्सीजन स्तर कम होता है तो इससे बाहर से देनी पड़ती है यानी सप्लीमेंटल मेडिकल ऑक्सीजन की जरूरत होती है अगर शरीर में ऑक्सीजन स्तर लंबे समय तक कम बना रहता है और इसका इलाज ना हो तो शरीर की कोशिकाएं अपने आप ठीक तरीके से काम करना बंद कर देती है और ऐसी स्थिति में सिर्फ मेडिकल ऑक्सीजन की जान बचा सकती है। आता है आधिकारिक सूचनाएं जानिए और उन्हीं पर अमल कीजिए।
  • मुख्यमंत्री ने नगरीय क्षेत्रों के साथ-साथ प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड-19 से मृत व्यक्तियों के विधिवत अंतिम संस्कार में होने वाला वयय भी राज्य सरकार द्वारा वहन करने का निर्णय किया है। ग्रामीण क्षेत्रों में अंतिम संस्कार के लिए एंबुलेंस के माध्यम से पार्थिव देह के परिवहन की निशुल्क व्यवस्था भी राज्य सरकार द्वारा ही की जाएगी‌ इसकी व्यवस्था के लिए जिला कलेक्टरों और जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों को आदेश जारी कर दिए गए हैं। अंतिम संस्कार में कोरोना प्रोटोकॉल की पूरी पालना सुनिश्चित की जाएगी।
  • मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में पंजीकरण 31 मई तक किया जा सकेगा जो परिवार अब तक इस योजना से जुड़ चुके हैं उन्हें एक मई 2021 से लाभ मिलेगा और जो परिवार 31 मई 21 तक इसमें जुड़ेंगे उन्हें पंजीकरण की दिनांक से लाभ देय होगा।
  • प्रदेश में अभी 1 मई से 18 से 45 आयु वर्ग के लोगों के लिए वैक्सीनेशन शुरू नहीं होगा। राजस्थान को सिरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया से 300000 संभावित डोज मिलनी है ऐसे में यह प्रोग्राम शुरू नहीं किया जा सकेगा लेकिन जो डोज मिलने जा रही हैं उनका उपयोग प्रदेश के उन शहरों में पहले किया जाएगा जहां संक्रमण अधिक है इनमें भी 35 से 44 आयु वर्ग के लोगों का ही वैक्सीनेशन होगा उसके बाद सप्लाई नियमित होने पर तय आयु वर्ग के लोगों का वैक्सीनेशन होगा गौरतलब है कि प्रदेश में 18 से 45 वर्ष आयु वर्ग के करीब 3.25 करोड़ लोग हैं इसलिए प्रदेश को 7 करोड वैक्सीन डोज की आवश्यकता होगी।
  • बढ़ते संक्रमण से स्वयं को सुरक्षित रखने के लिए अनुशासन का परिचय दें बेवजह घर से बाहर ना निकले मास्क लगाए और 2 गज की दूरी का पालन करें साथ ही प्रदेश में चल रहे 3 मई तक जन अनुशासन पखवाड़े को देखते हुए प्रोटोकोल की पूरी तरह पालना करें और राज्य स्तरीय हेल्पलाइन 181 का उपयोग आवश्यकता पड़ने पर करें ।
  • Corona update Rajasthan today
    New cases17155
    Cumulative positive:598001
    Active cases:176485
  • Corona update udaipur today
    New cases:1221
    Cumulative positive:34740
    Cumulative discharged:23263
    Active cases:11191
    Home isolated:9956
  • हल्के और मध्यम श्रेणी के लक्षण वाले कोविड-19 मरीजों के लिए आयुष 64 आयुर्वेदिक दवा काफी फायदेमंद है आयुष मंत्रालय के अनुसार यह एसिंप्टोमेटिक मरीजों में भी फायदेमंद है।
  • स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार 10 दिन के होम आइसोलेशन के आखिरी 3 दिन में बुखार नहीं खा रहा है तो आप आइसोलेशन से बाहर वापस आ सकते हैं अगर व्यक्ति को कोई विशेष दिक्कत नहीं आ रही हो तो जल्दबाजी में बार-बार सीटी स्कैन कराने की जगह अपने डॉक्टर से बात करें होम आइसोलेशन के लिए अलग से रूम होना चाहिए और उसको देखने के लिए एक व्यक्ति होना चाहिए देखभाल करने वाले को एचसीक्यू लेना चाहिए।
  • मोहनलाल सुखाड़िया विश्वविद्यालय कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के संकट से निपटने के लिए सरकार को 1,11,10000 की राशि देगा । कोविड-19 की दूसरी लहर को देखते हुए विश्वविद्यालय ने मदद का हाथ बढ़ाया है।
  • प्रदेश में कोरोनावायरस से संक्रमित लोगों के लिए विशेष निर्देश जारी किए गए हैं कि कम लक्षण या लक्षण रहित रोगियों को घर पर ही उपचार करने की सलाह है गंभीर स्थिति होने पर तुरंत प्रभाव से अस्पताल में भर्ती हो या चिकित्सक की निगरानी में रहकर अपना इलाज करवाएं वही संक्रमित मरीजों को अस्पताल में भर्ती और डिस्चार्ज करने के बारे में प्रदेश के राजकीय और निजी चिकित्सालय के प्रभारी को और अधीक्षकों के लिए भी गाइडलाइन जारी की है कि यदि किसी संक्रमित मरीज को सांस लेने में तकलीफ है सीने में दर्द चक्कर मानसिक स्थिति में बदलाव आदि लक्षण हो तो उसे तुरंत अस्पताल में भर्ती कर इलाज प्रारंभ करें वहीं जिन रोगियों का घर पर ही उपचार संभव है उनकी समय-समय पर घर पर रक्त में ऑक्सीजन स्तर की जांच पल्स ऑक्सीमीटर द्वारा की जानी चाहिए
  • कोरोना संक्रमित हो की मृत्यु पर श्मशान स्थल पर अंत्येष्टि व्यय की व्यवस्था नगर निगम ने अपने हाथों में ले ली है अवैध वसूली की शिकायतों को देखते हुए नगर निगम ने नए सिरे से व्यवस्था की है आज एक आदेश जारी कर शहर के सभी मुक्तिधाम ऊपर दाह संस्कार की व्यवस्था के लिए निगम कर्मचारियों की दो पारियों में ड्यूटी लगाई गई है साथी किसी भी प्रकार की वसूली ना हो यह सुनिश्चित करने के लिए कर्मचारियों को पाबंद किया है
  • सेंसेक्स
    अप्रैल के अंतिम दिन घरेलू शेयर बाजारों ने बड़ी गिरावट दर्ज की
    बीएसई सूचकांक 984 अंक का गोता लगाकर 48 782 पर बंद हुआ।
    वहीं निफ्टी 264 अंक की गिरावट के साथ 14631 पर रहा।
  • सर्राफा
    उदयपुर में आज दोनों कीमती धातुओं के भाव इस प्रकार रहे सोना 22 कैरेट 1 ग्राम ₹4494 सोना 24 कैरेट 1 ग्राम ₹4720
    वहीं चांदी 1 किलो बार का भाव रहा ₹72800
  • मौसम
    पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से आगामी 3 दिनों में बीकानेर जयपुर अजमेर उदयपुर भरतपुर और कोटा संभाग के जिलों में तेज हवाओं के साथ हल्के दर्जे की बारिश और धूल भरी आंधी की संभावना जताई गई है।
    आज शहर का तापमान रहा अधिकतम 37 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम 24 डिग्री सेल्सियस
  • तो ये थीं अब तक की अपडेट हम फिर आएंगे और अपडेट्स लेकर बने रहिए हमारे साथ…

Leave a Reply

Your email address will not be published.