• Mon. Jun 21st, 2021

    Udaipur News

    Udaipur News Today | Udaipur News Live | उदयपुर न्यूज़ | उदयपुर समाचार

    Udaipur Latest News 8 May 2021| उ द य पु र की ता जा ख ब र News 8 May 2021 | उदयपुर की ता जा ख ब र News 8 May 2021

    Byadmin

    May 8, 2021
    0 0
    Read Time:14 Minute, 38 Second
    • हेलो फ्रेंड्स हम हाजिर हैं आज की अपडेट्स लेकर…
    • कोरोना संक्रमण के खिलाफ रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन डीआरडीओ ने एक औषधि विकसित की है जिसे भारतीय औषधि महानियंत्रक से आपात उपयोग की अनुमति मिल गई है कोविड-19 की दूसरी लहर के बीच यह दवा कोरोना संक्रमितो के लिए बहुत लाभकारी होगी यह दवा 2 डीऑक्सी डी ग्लूकोस चूर्ण के रूप में एक छोटी थैली में होगी इसे पानी में घोल कर लेना होगा यह संक्रमित कोशिकाओं के साथ मिल जाती है और वायरस को बढ़ने से रोकती है और प्रतिरोधी क्षमता बढ़ाती है इस दवा का विकास डीआरडीओ प्रयोगशाला इंस्टीट्यूट ऑफ न्यूक्लियर मेडिसिन एंड एलाइड साइंसेज ने निजी लेबोरेटरी के सहयोग से किया है।
    • उच्चतम न्यायालय ने देशभर में चिकित्सा ऑक्सीजन के समान वितरण और उपलब्धता के आकलन के लिए आ
      कार्य दल गठित किया है।
    • देशभर में राष्ट्रीय राजमार्गों पर तरल चिकित्सा ऑक्सीजन की धुलाई करने वाले सभी टैंकरों और कंटेनर्स का आवागमन टोल फ्री किया है।
    • कोरोना जांच ममें सीटी वॉल्यूम 28 होने का क्या अर्थ है?
      विशेषज्ञ बताते हैं आरती पीसीआर में सीटी वैल्यू अगर 35 आती है तो उसे नेगेटिव मानते हैं और 35 से नीचे पॉजिटिव होते हैं चाहे सिटी वैल्यू 10 हो या 28 वह एक समान है उससे भी संक्रमण फैल सकता है।
    • कोविड-19 में सी टी स्कैन कैसे समझे?
      विशेषज्ञ कहते हैं आजकल कई लोग गूगल और लोगों से सुन सुनकर खुद डॉक्टर बन जाते हैं सभी जानते हैं की कोरोना लंग्स में इफेक्ट करता है अगर तुरंत चेस्ट एक्स रे कराते हैं और उसमें निमोनिया दिख सकता है लेकिन अगर दवा लेने के बाद भी बुखार जुकाम कम नहीं हो रहा है तभी सीटी स्कैन कराने की सलाह दी जाती है अगर सीटी स्कैन में स्कोर 25 में से 5 है तो इसे सामान्य मानते हैं अगर सिटी स्कोर ज्यादा है तो यह निमोनिया की वजह से होता है और डॉक्टर अस्पताल में भर्ती होने की सलाह देते हैं लेकिन कई बार ऐसा भी होता है कि सीटी स्कोर ज्यादा भी है तो भी मरीज को समस्या नहीं होती और सिटी स्कोर कम होने पर भी कई मरीजों को ज्यादा समस्या होती है इसलिए इसका निर्णय डॉक्टर को ही लेने दे।
    • देश में कोविड-19 की दूसरी लहर भयावह बनी हुई है इस बीच विदेशों में बसे भारतीय अपने परिजनों को देख काफी परेशान है और अपने संपर्कों के जरिए वेंटिलेटर ऑक्सीजन या दवाओं के बंदोबस्त कराने की जद्दोजहद में लग रहे हैं हालांकि इसमें पैसा भी पानी की तरह बहाया जा रहा है लेकिन कई बार हालत और परिस्थितियां बेबस कर देती है। एक अनुमान के अनुसार दुनिया भर में विदेश में रहने वाले भारतीयों की संख्या किसी और देश के मुकाबले कहीं अधिक है करीब एक करोड़ 80 लाख भारतीय विदेशों में है और साल 2019 मे 46 लाख भारतीय अमेरिका में थे अमेरिका के अलावा कनाडा में सात लाख के करीब भारतीय प्रवासी हैं जिनका आंकड़ा भी बढ़ रहा है।
      वहीं विदेशों में रहने वाले भारतीय समुदाय के लोग यात्रा बैन होने के कारण परिजनों के पास भी नहीं आ पा रहे ऐसे में उनके पास कोई अन्य विकल्प भी नहीं बचा है ऐसी स्थितियों में मानसिक तनाव होना स्वभाविक है भारतीय अमेरिकियों का नेटवर्क कोविड-19 से जूझ रहे परिवारों की मदद के लिए  व्यवस्था कर रहा है और जानकारी भी साझा कर रहा है अमेरिका में रहने वाले भारतीयों के लिए चरणबद्ध तरीके से लॉक डाउन में राहत दिए जाने और वैक्सीन में तेजी लाने के बाद अब स्थितियां सामान्य होने की और है  देश में अभी स्थितियां काफी गंभीर हैं लेकिन इस मुश्किल दौर में सभी को साथ मिलकर काम करने के मौके भी बने हैं और लोग मिलकर सबकी मदद के लिए आगे आ रहे हैं।
    • इस बीच इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने आज एक बयान में राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन का समर्थन किया है और कहा है कि इससे संक्रमण की चेन तोड़ी जा सकेगी। कुछ राज्यों में 10 या 15 दिनों के लॉक डाउन की बजाय योजनाबद्ध और पूर्व घोषित संपूर्ण लॉकडाउन लगा दिया जाए ताकि स्वास्थ्य संबंधी बुनियादी ढांचे को संभलने का वक्त मिल सके क्योंकि राज्यों में लोक डाउन है और अलग-अलग जगह छोटे-छोटे कर्फ्यू हैं बावजूद इसके लोगों का मूवमेंट अब भी जारी है इससे संक्रमण फैलने का खतरा बना हुआ है लेकिन देश में लॉकडाउन लगने से ऐसा नहीं हो सकेगा चाहे यह तुरंत ना किया जाए लेकिन 2 या 3 दिन का समय देकर ऐसा किया जा सकता है फिलहाल संक्रमण के चार लाख से ज्यादा मामले रोज आ रहे हैं और गंभीर मामले 40 फ़ीसदी तक बढ़ गए हैं अर्थव्यवस्था जरूरी है लेकिन जीवन अर्थव्यवस्था से ज्यादा कीमती है।
    • वहीं प्रदेश के मुख्यमंत्री ने सोमवार से प्रदेश में सख्त लोकडाउन लगाने का फैसला किया है उन्होंने कहा है कि संक्रमण को काबू करने के लिए सोमवार से प्रदेश भर में 15 दिन के लिए सख्त लाक डाउन लागू रहेगा हम सभी की जिम्मेदारी है कि इसका पूरी तरह से पालन करें ताकि प्रदेश को कोविड-19 संक्रमण से बचाया जा सके सभी मिलकर सरकार का साथ देंगे तो कोरो ना को हरा पाएंगे।
    • संक्रमण की चेन को तोड़ने और बचाव के लिए राज्य सरकार द्वारा जारी निर्देशों के अनुपालन में जिला कलेक्टर ने जिले में विभिन्न पाबंदियां लगाते हुए विस्तृत दिशा निर्देश दिए हैं इसके अनुसार संक्रमण को देखते हुए जिले में काफी जगह प्रस्तावित विवाह को स्थगित किया गया है यह एक सराहनीय योगदान है जिले के सभी निवासियों जिनके द्वारा 31 मई तक विवाह का आयोजन किया जा रहा है वह इस प्रकार के आयोजन को 31मई के पश्चात आयोजित कर रहे हैं ताकि कोविड-19 संक्रमण पर रोक लगाई जा सके क्योंकि गत दिनों हुए विवाह समारोह मे काफी संख्या में कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। अतः इन पर 31 मई तक रोक लगाई गई है विवाह घर पर ही या कोर्ट मैरिज के रूप में करने की अनुमति होगी जिसमें 11 व्यक्ति अनुमत होंगे इनकी सूचना पोर्टल पर देनी होगी इसके अलावा संबंधित कोई आयोजन नहीं होगा। ग्रामीण क्षेत्रों में बढ़ते संक्रमण को देखते हुए राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना और अन्य ग्रामीण विकास योजनाओं में काम करने वाले श्रमिकों के संक्रमण से बचाव के लिए यह कार्य स्थगित रहेंगे संपूर्ण जिले में सभी धार्मिक स्थल बंद रहेंगे हॉस्पिटल में कोविड-19 संक्रमित के साथ अटेंडेंट्स की संख्या के बारे में पृथक से दिशा निर्देश जारी होंगे समस्त सार्वजनिक परिवहन पूर्ण रुप से बंद रहेंगे अंतर राज्य और राज्य के अंदर आवश्यक माल का परिवहन करने वाले नियोजित व्यक्ति अनुमत होंगी पूरे राज्य में इंटर डिस्ट्रिक्ट एक शहर से दूसरे शहर शहर से गांव या गांव से शहर या एक गांव से दूसरे गांव में समस्त आवागमन पर मेडिकल इमरजेंसी के अतिरिक्त पूर्ण रूप से प्रतिबंध रहेगा राज्य के बाहर से आने वाले यात्रियों को आगमन से पूर्व यात्रा प्रारंभ करने के 72 घंटे के अंदर करवाई गई rt-pcr नेगेटिव रिपोर्ट प्रस्तुत करना अनिवार्य होगा अन्यथा गंतव्य पर 15 दिन के लिए कवारेनटीन किया जाएगा और निगरानी की जाएगी उद्योग और निर्माण से संबंधित इकाइयों में कार्य की अनुमति होगी ताकि श्रमिकों का पलायन ना हो इस हेतु संबंधित इकाई अधिकृत व्यक्ति द्वारा श्रमिकों को पहचान पत्र जारी किया जाएगा और श्रमिकों के आवागमन के लिए स्पेशल बस का संचालन अनुमति होगा निर्माण सामग्री से संबंधित दुकानों को खोलने की अनुमति नहीं होगी स्थानीय प्रशासन द्वारा समस्त क्षेत्रों में कवारेनटीन नियमों के उल्लंघन और कोविड-19 प्रोटोकॉल की निगरानी सुनिश्चित करवाई जाएगी समाचार पत्र वितरण हेतु सुबह 4:00 से 11:00 बजे तक छूट होगी इलेक्ट्रॉनिक प्रिंट मीडिया कार्मिकों को परिचय पत्र के साथ आने जाने की अनुमति होगी।
    • प्रदेश में  कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में संबंधी कोविड-19 के उपचार के लिए अधिकृत निजी अस्पतालों को योजना में कोविड-19 के उपचार के संबंध में शिथिलता दी है गौरतलब है कि कुछ अस्पताल योजना की गाइडलाइन के अनुसार आवश्यक पात्रता नहीं रखने के कारण कोविड-19 के उपचार के लिए निर्धारित विशेषज्ञता अनुमति नहीं होने से पात्र परिवारों को निशुल्क कोविड-19 उपचार नहीं कर पा रहे थे जबकि इन अस्पतालों द्वारा अन्य कोविड-19 मरीजों का इलाज किया जा रहा है अतः ऐसे सभी निजी अस्पताल जिन्हें जिला कलेक्टर द्वारा कोविड-19 के उपचार के लिए अधिकृत किया गया है उन्हें मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में कोविड-19 मरीजों के उपचार के लिए अनुमत किया गया है यह शिथिलता जिला कलेक्टर द्वारा कोविड-19 के उपचार के लिए अधिकृत किए जाने की अवधि तक ही मान्य होगीऔर अस्पताल द्वारा बीमा योजना के पात्र लाभार्थी को उपचार के लिए मना नहीं किया जाएगा।
    • Corona update Rajasthan today
      New cases:17987
      Cumulative positive:738786
      Active cases:199307
    • Corona update udaipur today
      New cases:1032
      Cumulative positive:43236
      Cumulative discharged:34730
      Active cases:8101
      Home isolated:6791
    • कोरोना के मरीजों के लिए 6 मिनट वाक क्या है?
      विशेषज्ञ बताते हैं जो लोग वह आइसोलेशन में है उन्हें ऑक्सीजन सैचुरेशन नापने के लिए कहा जाता है इसमें सबसे पहले पल्स ऑक्सीमीटर से ऑक्सीजन सैचुरेशन क्या करें उसके बाद 6 मिनट की बात करें ऑक्सीजन सैचुरेशन ना करें अगर 6 मिनट के बाद 90 से नीचे आता है तो तुरंत अस्पताल जाना चाहिए।
    • एक मैसेज में दावा किया जा रहा है कि लंबे समय तक मास्क के उपयोग से शरीर में कार्बन डाइऑक्साइड की अधिकता और ऑक्सीजन की कमी हो जाती है यह दावा फर्जी है कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए सही तरीके से मास्क जरूर लगाएं
    • मौसम
      आज उदयपुर का तापमान रहा अधिकतम37 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम 27 डिग्री सेल्सियस
    • तो ये थीं अब तक की अपडेट्स हम फिर आएंगे और अपडेट्स लेकर बने रहिए हमारे साथ…
    Happy
    Happy
    0 %
    Sad
    Sad
    0 %
    Excited
    Excited
    0 %
    Sleppy
    Sleppy
    0 %
    Angry
    Angry
    0 %
    Surprise
    Surprise
    0 %

    Average Rating

    5 Star
    0%
    4 Star
    0%
    3 Star
    0%
    2 Star
    0%
    1 Star
    0%

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *