• Mon. Jun 21st, 2021

    Udaipur News

    Udaipur News Today | Udaipur News Live | उदयपुर न्यूज़ | उदयपुर समाचार

    Udaipur Latest News22 May 2021| उ द य पु र की ता जा ख ब र News 22 May 2021 | उदयपुर की ता जा ख ब र News 22 May 2021

    Byadmin

    May 22, 2021
    0 0
    Read Time:12 Minute, 21 Second
    • हेलो फ्रेंड्स हम हाजिर हैं आज की अपडेट्स लेकर…
    • देश में नवे दिन कोरोना से ठीक होने वाले लोगों की संख्या संक्रमित होने वाले लोगों से ज्यादा हुई। स्वस्थ होने की दर से 86.76% हुई।
    • बेंगलुरु के स्टार्टअप ले ने कोरोना मरीजों में एंटीबॉडी का सटीक अनुमान लगाने के लिए इलेक्ट्रो केमिकल टेस्ट एलीसा विकसित किया है।
    • केंद्र ने ब्लैक फंगस मरीजों की बढ़ती संख्या पर नियंत्रण के लिए एंफोटेरेसिन बी की अतिरिक्त 23, 680 वायल्स उपलब्ध कराई
    • कोरोना की जंग में नया मंत्र जहां बीमार वहां उपचार को कैसे समझें?
      विशेषज्ञ बताते हैं सबसे पहले तो यह समझे कि जहां लोग बीमार हैं वहीं रहे उन्हें वही उपचार दिया जाएगा। इसके लिए कोविड-19 केयर सेंटर बढ़ाने होंगे बीमार तक इलाज पहुंचाना होगा इसके लिए टेस्टिंग दवा और जरूरी चिकित्सा उपलब्ध करवाई जाएगी। कई राज्यों में इसकी शुरुआत हो गई है घर घर जाकर सर्वे किया जा रहा है और लक्षण दिखने पर दवा दी जा रही है।
    • कोरोना के इलाज में टैली कंसलटेंसी कितनी सहायक है?
      विशेषज्ञ बताते हैं आज के समय में यह बहुत उपयोगी है अधिकतर दूरदराज के लोगों को लगता है कि टेलीफोन पर इलाज कैसे हो सकता है तो सिर्फ कोरो ना ही नहीं बल्कि अन्य बीमारियों का भी टेली कंसल्टेंसी से इलाज हो रहा है इसके लिए जो फीस होगी आप दे देंगे और समय फिक्स करके डॉक्टर से बात कर सकते हैं इससे बाहर आना जाना नहीं पड़ेगा और संक्रमण का खतरा नहीं होगा।
    • कोरोना के हवा से फैलने को लेकर कुछ नए शोध सामने आए हैं। जानकार बताते हैं सरकार के नए दिशा निर्देश में कहा गया है की हवा में 10 मीटर तक कोरोना का वायरस फैल सकता है मेडिकल जर्नल ने भी इस बात की पुष्टि की है लेकिन आज भी 2 गज वाली दूरी महत्वपूर्ण है क्योंकि ज्यादातर के पास रहकर बात करने, खाने से ही होते होते हैं यानी ड्रॉपलेट से। क्योंकि कई लोगों का कहना है कि वह बाहर जाते ही नहीं किसी के करीब भी नहीं गए तो पाया गया कि वायरस हवा के जरिए भी संक्रमित कर सकता है लेकिन हवा में भी वायरस तभी आएगा जब कोई तेज से बोलेगा हंसेगा गायेगा खासेगा इससे हवा की दिशा की तरफ वायरस का एरोसॉल हो सकता है। इसलिए 2:गज की बजाए 10 गज की दूरी बना कर रखें।
    • ब्लैक फंगस के उपचार में एंफोटेरेइसिन बी कैसे सहायक है?
      विशेषज्ञ बताते हैं कोरोना से पहले भी ब्लैक फंगस बीमारी होती थी इसे मयूकर माइकोसिस कहते हैं तब ऐसे मरीज जो डायबिटीज के कारण आईसीयू में भर्ती हो जाते थे उनमें इसके लक्षण पाए जाते थे तब भी इसका इलाज एंफोटेरेसिन बी से करते थे तब इसके केस बहुत कम आते थे और यह दवा अस्पताल में मिल जाती थी लेकिन कोई दुकान वाले नहीं रखते थे अब इसकी मांग बढ़ी है तो सरकार उत्पाद पर भी ध्यान दे रही है और बेचने के नियम भी बना दिए हैं ताकि ब्लैक ना हो।
    • कोरोना से इस जंग में लोगों के लिए क्या संदेश है?
      जानकार कहते हैं कोरोना महामारी एक तरफ से युद्ध है और इसमें योद्धा हमारे फ्रंटलाइन वर्कर हैं जिस तरह एक युद्ध में पूरा देश मिलकर लड़ता है इसी तरह हमें आज शिकायत नहीं करनी मदद के लिए आगे आना है लेकिन नियमों का पालन करते हुए सभी को अपनी जिम्मेदारी समझनी है और कोरोणा नियमों का पूरी तरह पालन करना है तभी हम कोरोना से जंग जीत पाएंगे।
    • चक्रवात यास की आशंका को देखते हुए ओडिशा के सभी तटीय और आसपास के जिलों में हाई अलर्ट जारी किया गया है।
    • स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि पिछले 20 दिन से कोरोना के संक्रमण में कमी आ रही है हालांकि अभी मरने वालों की संख्या हर दिन 4000 से अधिक है लेकिन नए मामलों की संख्या कम हो रही है वही संक्रमण दर और अस्पतालों में भरे हुए बेड की संख्या भी गिरी है ।संक्रमण के ग्राफ पर नजर डालें तो 8 मई को पीक पर पहुंचने के बाद से लगातार दसवें दिनों तक संकमण कम हुआ है वही मरने वालों की संख्या अभी वैसे ही है आमतौर पर मरने वालों की संख्या का पीक संक्रमण की पीक की एक हफ्ते बाद आता है क्योंकि मौत पॉजिटिव पाए जाने के 1 हफ्ते से लेकर 15 दिन के बाद होती है देश में अब जितने लोगों का टेस्ट किया जा रहा है उनमें पॉजिटिव आने वालों की संख्या कम हो रही है यह आंकड़े संकेत देते हैं कि दूसरी लहर पीक पर पहुंच गई है डब्ल्यूएचओ के अनुसार सही तरीके से टेस्ट किए जाने के बाद अगर संक्रमण की दर दो हफ्तों तक 5% से कम रहे तो माना जाता है कि महामारी कंट्रोल में है सक्रिय मामले यानी वह लोग जो एक समय में संक्रमण का शिकार हैं उनकी संख्या कम हो रही है इन मामलों से पता लग सकता है कि स्वास्थ्य व्यवस्था पर कितना दबाव है। जितने ज्यादा मरीज होंगे उसी अनुपात में स्वास्थ्य कर्मियों की संख्या होगी उन जगहों पर जहां पिछले एक-दो हफ्तों से नए मामलों में कमी आघर रही है वहां स्वास्थ्य सुविधाओं पर दबाव कम होने की उम्मीद है और इसका असर भी दिखाई दे रहा है।
    • कोरोना संक्रमण के बीच मानसिक तनाव काफी बढ़ रहा है ऐसे में मरीजों के स्वस्थ होने के लिए सकारात्मकता बनाए रखना बहुत जरूरी है क्योंकि मानसिक स्वास्थ्य का खतरा इस महामारी ने बहुत बड़े स्तर तक पैदा कर दिया है अवसाद चिंता और मानसिक थकान आज आम बात हो चली है ऐसे में स्वस्थ और पौष्टिक आहार खाएं ताकि प्रतिरक्षा प्रणाली ठीक बनी रहे अपना और अपने परिवार का ख्याल रखिए सकारात्मक दृष्टिकोण विकसित करते रहे मुस्कुराते रहें और उन लोगों के बारे में सोचें जो दिन-रात इस घातक वायरस से लड़ने के लिए लगातार काम कर रही है रोजाना कम से कम 20 मिनट पैदल चले आशावादी रहे । यह लड़ाई हम सब की लड़ाई है।
    • प्रदेश के राजकीय मेडिकल कॉलेजों में 114 सहायक आचार्य की नियुक्ति के आदेश जारी हो गए हैं इन्हें 15 दिनो में पदस्थापित स्थानों पर कार्य ग्रहण करना है इससे आमजन के लिए चिकित्सा सुविधाएं आसानी से सुलभ हो सकेगी गौरतलब है कि राजस्थान लोक सेवा आयोग से चयनित 114 सहायक आचार्यों के नियुक्ति आदेश जारी हो चुके हैं।
    • प्रदेश में कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए जन अनुशासन पकवाड़ा और रेड अलर्ट जन अनुशासन लॉकडाउन जैसे सख्त कदमों का असर दिखने लगा है लेकिन संक्रमण की स्थिति और मृत्यु दर अभी भी चिंताजनक बनी हुई है ऐसे में लॉक डाउन की और अधिक सख्ती से पालना करने के साथ ही सामाजिक व्यवहार में संयम और अनुशासन को लगातार बरकरार रखना होगा ताकि कोविड-19 के खतरे को कम किया जा सके ।यह विचार मुख्यमंत्री ने वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से कोविड-19 संबंधी विषयों पर एक उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक के दौरान कहे। उन्होंने निर्देश दिए कि अस्पतालों के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्रों में सीएचसी और पीएचसी स्तर तक स्वास्थ्य सेवाएं सुदृढ़ रूप से योजनाबद्ध रूप से काम आगे बढ़ाएं और तीसरी लहर के लिए भी पुख्ता तैयारियां सुनिश्चित की जाए ।ब्लैक फंगस के उपचार में किसी तरह की कमी ना रहे और लोगों को इससे बचाव के लिए जागरूक किया जाए वही वैक्सीनेशन के काम को गति देने पर भी चर्चा हुई।
    • Corona update Rajasthan today
      New cases:6103
      Cumulative positive:909521
      Active cases:122330
    • Corona update udaipur today
      New cases: 378
      Cumulative positive:53951
      Cumulative discharged:45387
      Active cases:7985
      Home isolated:6843
    • पूरे विश्व में आज अंतर्राष्ट्रीय जैव विविधता दिवस मनाया जाता है इसे विश्व जैव विविधता संरक्षण दिवस भी कहते हैं। इसे 20 दिसंबर 2000 से 22 मई को मनाया जा रहा है इसका उद्देश्य है कि विश्व में सभी लोगों को जैव विविधता के प्रति सतर्क किया जाए ताकि विश्व की जैव विविधता बनी रहे और उनका संरक्षण किया जा सके इस वर्ष की थीम है हम समाधान का हिस्सा है। वर्तमान समय में जैव विविधता पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है गलोबल वार्मिंग के चलते पर्यावरण में बदलाव हुआ है इसलिए पर्यावरण संरक्षण पर बल दिया जा रहा है रिपोर्ट के अनुसार आने वाले समय में पौधों और जानवरों की 25 % प्रजातियां लुप्त अवस्था में हो सकती हैं इसलिए उन्हें संरक्षण की सलाह दी गई है इसी तरह जानवरों का संरक्षण भी जरूरी है इनके लिए दुनिया भर में कई योजनाएं चल रही है।
    • मौसम
      मौसम विभाग के अनुसार जयपुर भरतपुर अजमेर और उदयपुर संभाग के जिलों में कहीं-कहीं 2 दिन थंडर स्टॉर्म अचानक तेज हवाओं के साथ हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश होने की संभावना रहेगी। पिछले 24 घंटों के दौरान शहर का तापमान रहा अधिकतम 35 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम 23 डिग्री सेल्सियस
    • तो ये थीं अब तक की अपडेट्स हम फिर आएंगे और अपडेट्स लेकर बने रहिए हमारे साथ…
    Happy
    Happy
    0 %
    Sad
    Sad
    0 %
    Excited
    Excited
    0 %
    Sleppy
    Sleppy
    0 %
    Angry
    Angry
    0 %
    Surprise
    Surprise
    0 %

    Average Rating

    5 Star
    0%
    4 Star
    0%
    3 Star
    0%
    2 Star
    0%
    1 Star
    0%

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *